बिहार के नालंदा में बड़ी वारदात, भूमि विवाद में पांच लोगों की गोली मारकर हत्‍या

बिहार के नालंदा में बड़ी वारदात, भूमि विवाद में पांच लोगों की गोली मारकर हत्‍या

नालंदा जिले के छबीलापुर थाना क्षेत्र के लोदीपुर गांव में भूमि विवाद के दौरान हुई गोलीबारी में बुधवार को पांच लोगों की मौत व दो लोगों के बुरी तरह से घायल होने की सूचना है। घायलों को अनुमंडलीय अस्पताल राजगीर में इलाज के बाद पावापुरी विम्स रेफर कर दिया गया। पुलिस घायलों और मृतकों के नाम के बारे में कुछ नहीं बता रही है।

बताया जाता है कि पहले दोनों ओर से कहासुनी हुई। देखते ही देखते नोकझोंक ने हिंसक रूप अख्तियार कर लिया। दोनों ओर से जमकर गोलीबारी हुई। इसमें पांच की मौत हो गई। गोली लगने से दो लोग घायल हैं। हालांकि पुलिस अभी इस मामले में कुछ भी नहीं बता रही है। 


हल्द्वानी में अघोषित बिजली कटौती से लोग परेशान, कॉल तक रिसीव नहीं करते अधिकारी

हल्द्वानी में अघोषित बिजली कटौती से लोग परेशान, कॉल तक रिसीव नहीं करते अधिकारी

शहर और ग्रामीण क्षेत्रों में बिजली की समस्या आम हो चुकी है। दिन में चार से पांच घंटे तक बिजली अघोषित कटौती ने लोगों का जीना मुहाल कर दिया है। बिजली नहीं होने पर कई छोटे व बड़े कारोबार भी प्रभावित हो रहे हैं। लोगों को गुस्सा तब आता है जब अफसरों के कॉल रिसीव तक नहीं होते।

हल्द्वानी के शहर और ग्रामीण इलाकों में पिछले दो माह से बिजली की कटौती की जा रही है। बिजली नहीं होने पर घरों में काम तो प्रभावित हो ही रहे हैं, वहीं पानी के लिए भी लोगों को परेशानी उठानी पड़ रही है। पानी की मोटर और नलकूप शोपिस बन रहे हैं। लोगों का कहना है कि गर्मी आने से पहले ऊर्जा निगम के अधिकारी लौपिंग चौपिंग के नाम पर घंटों रोस्टिंग करते हैं। इसके बावजूद गर्मी आने पर फिर अघोषित कटौती की जाती है। अधिकारियों को बिजली नहीं आने पर कॉल किया जाता है तो वह रिसीव नहीं किया जाता।

लोगों का कहना है कि चुनाव आने से पहले कांग्रेस, भाजपा व आम आदमी पार्टी प्रदेश को 300 यूनिट मुफ्ट बिजली देनी की बात कर रहे हैं। लेकिन अभी हो रही बिजली कटौती को लेकर कोई पार्टी सुध नहीं ले रही है। इधर, ऊर्जा निगम के अधिशासी अभियंता दीनदयाल पांगती का कहना है कि लाइन में फॉल्ट होने पर बिजली चली जाती है। बिजली को 24 घंटे सुचारू रखने के प्रयास किए जा रहे हैं।