इस एक्‍टर की झुग्‍गी में गुजर रही है ज‍िंंदगी, था 'स्‍लमडॉग मिलिनेयर' का यह बड़ा हिस्‍सा

इस एक्‍टर की झुग्‍गी में गुजर रही है ज‍िंंदगी, था 'स्‍लमडॉग मिलिनेयर' का यह बड़ा हिस्‍सा

2008 में हॉलीवुड निर्देशक डै‍नी बॉयल (Danny Boyle) की फिल्‍म 'स्‍लमडॉग मिलिनेयर' (Slumdog Millionaire) ने ऑस्‍कर (Oscar) में धूम मचा दी थी। इन पुरस्‍कारों में एक बच्‍चे ने सब का ध्‍यान अपनी व खींचा था,

जिसका नाम है अजहरुद्दीन इस्‍माइल (Azharuddin Ismail) . मुंबई की झुग्‍गी बस्‍ती में रहने वाले अजहरुद्दीन ने इस फिल्‍म में छोटे सलीम का भूमिका निभाया था। अपनी पहली ही फिल्‍म से इतना कुछ पाने वाले अजहरुद्दीन को फिल्‍म के निर्देशक ने एक फ्लैट भी दिलाया था। लेकिन पिछले 12 वर्षों के बाद अब अजहरुद्दीन फिर से झुग्‍गी की संसार में वापस लौट गए हैं। सिर्फ अजहर ही नहीं, इस‍ फिल्‍म में फ्रीडा पिंटा के भूमिका लतिका के बचपन का भूमिका करने वाली रुबीना अली कुरैशी (Rubina Ali Qureshi) भी फिर से झुग्‍गी की संसार में लौट गई है।

दरअसल फिल्‍म 'स्‍लमडॉग मिलिनेयर' की सफलता के बाद निर्देशक डैनी बॉयल ने इस फिल्‍म के दोनों बाल कलाकारों अजहर व रुबीना कुरैशी की मदद के लिए 'जय हो' नाम का ट्रस्‍ट बनाया था। इसके चलते उन्‍हें फ्लैट व मासिक भ‍त्ता भी मिलता था। लेकिन अब अजहरुद्दीन के परिवार ने वो फ्लैट बेच दिया है। 2008 से अब तब, यानी 12 वर्षों में अब अजहर 21 वर्ष का हो चुका है। मुंबई मिरर की रिपोर्ट के अनुसार उनका परिवार सांताक्रूज स्थित अपना 250 स्‍क्‍वेयर फीट का घर बेच कर अब फिर से बांद्रा के गरीब नगर स्थित अपनी झुग्‍गी में वापस चले गए हैं। ये घर उन्‍होंने 49 लाख में बेचा।

हालांकि दूसरी बार झुग्‍गी की ये जिंदगी अजहर को उतनी रास नहीं आ रही है। इस बीच वह कई बार बीमार हो चुका है व उसकी मां उसे अपने गांव ले गई है जहां वह पिछले कुछ दिनों से रह रहा है। मुंबई मिरर से बात करते हुए अजहर ने कहा, 'अब स्‍टारडम खत्‍म हो चुका है। अब मुझे अपना परिवार चलाने के लिए कमाना पड़ता है। मैं भले ही झुग्‍गी में पैदा हुआ लेकिन फिर से वहां रहना नहीं चाहता। ' अजहर ने साफ किया कि आर्थिक तंगी के चलते उन्‍हें अपना फ्लैट बेचना पड़ा है।

बता दें कि 8 ऑस्‍कर पुरस्‍कार जीतने वाली फिल्‍म के लिए अजहर को 300 बच्‍चों के बीच चुना गया था। अजहर को दिलाया गया फ्लैट उनकी 18 वर्ष की आयु तक ट्रस्‍ट के ही नाम था, जो बाद में अजहर के नाम हो गया। वहीं रुबीना को भी बांद्रा में इस ट्रस्‍ट की तरफ से एक फ्लैट दिलाया गया था। हालांकि रुबीना ने अपना फ्लैट बेचा नहीं है। वह अब अपनी मां के साथ नालासोपारा की झुग्‍गी में रहती है जबकि बांद्रा के फ्लैट में उसके पिता अपनी दूसरी पत्‍नी व 5 बच्‍चों के साथ रह रहे हैं। रुबीना ने इस रिपोर्ट में बताया, 'मैं चार वर्ष इस घर में रही लेकिन 8 लोगों के साथ यहां रहना बहुत ज्यादा कठिन हो गया था। इसलिए मैंने ये छोड़ दिया। ' रुबीना ने मेकअप का कोर्स कर लिया है व अब वो एक मेकअल-स्‍टूडियो में कार्य करती हैं।