व्रत या उपवास आपके लिए कितना हैं फायदेमंद, आइए जानिए

व्रत या उपवास आपके लिए कितना हैं फायदेमंद, आइए जानिए

व्रत या उपवास भारतीय संस्कृति का भाग है. यह धर्म से तो जुड़ा ही है, स्वास्थ्य के लिए भी बहुत अच्छा है. www.myupchar.com से जुड़ीं डाक्टर मेधावी अग्रवाल के अनुसार, उपवास से पाचन तंत्र को लाभ पहुंचता व इससे वजन कम किया जा सकता है. इससे शरीर के विषाक्त पदार्थ बाहर निकल जाते हैं. जिन लोगों को ब्लड प्रेशर की समस्या रहती है,

उनके लिए उपवास लाभकारी होने कि सम्भावना है. साथ ही यह हार्ट को स्वस्थ्य रहता है. शरीर में संतुष्टि का भाव जगाता व आदमी तरोताजा महसूस करता है.

www.myupchar.com से जुड़े डाक्टर लक्ष्मीदत्त शुक्ला कहते हैं, 'जो लोग वजन घटाना चाहते हैं, उनके लिए उपवास रामबाण साबित होने कि सम्भावना है. ऐसे लोगों को जल उपवास करना चाहिए. इससे 10 दिन में 6 किलो तक वजन घटाया जा सकता है.' उपवास करने के फायदा हैं तो ठीक ढंग से उपवास न करने के कुछ नुकसान भी हैं. इसलिए सोच-समझकर इसका निर्णय करना चाहिए.

उपवास के लाभ
डाक्टर अग्रवाल के मुताबिक उपवास शरीर के सिस्टम को साफ करता है, स्वास्थ्य बेहतर होता है, नींद का चक्र सुधरता है, पाचन तंत्र को थोड़ा आराम मिलने से शारिरिक प्रणालियां संतुलित हो जाती हैं, मानसिक स्वास्थ्य में सुधार होता है व साथ ही लाभकारी आहार ओर शारीरिक पोषण तय करने संबंधी जानकारी मिलती है.

उपवास कब व कैसे रखें
यूं तो उपवास कभी भी रखा जा सकता है, लेकिन यदि स्वास्थ्य संबंधी कोई समस्या है तो इससे बचना चाहिए. उपवास के दौरान लोग तरह-तरह की चीजें खाते हैं या खाली पेट बहुत अधिक चाय पीते हैं. इससे लाभ होने के बजाए नुकसान होने कि सम्भावना है. उपवास में सबकुछ खाना छोड़ सकते हैं या कुछ खाद्य पदार्थ छोड़ सकते हैं. उपवास एक दिन से लेकर कुछ हफ्तों तक का होने कि सम्भावना है. उद्देश्य के अनुसार उपवास कई तरह के हो सकते हैं जैसे - कुछ लोग केवल पानी का सेवन करते हैं, कुछ पानी के साथ जूस व चाय का सेवन करते हैं. आमतौर पर जो उपवास रखा जाता है, उसमें लोग अनाज और मांसाहार से दूर रहते हैं. धार्मिक आस्था व मान्यताओं को ध्यान में रखकर किए जाने वाले उपवास में खाने-पीने की कुछ चीजें चलती हैं, कुछ नहीं.

उपवास के दौरान क्या खाएं
अगर उपवास का अर्थ सारे समय भूखा रहना नहीं है तो उपवास के दौरान कुछ खास तरह की चीजें खाना स्वास्थ्य के लिए लाभकारी होता है. जैसे शकरकंद खाने से शरीर को विटामिन सी व पोटेशियम मिलता है. वहीं सेब उपवास के दौरान खाया जाने वाला बेहतरीन फल है. इससे न केवल वजन कम होता है बल्कि पेट भी भरा-भरा महसूस करता है. इसी तरह दूध का सेवन करने से शरीर को कैल्शियम मिलता है व हड्डियां मजबूत होती हैं. व्रत में अखरोट भी खाया जाता है. अन्य ड्राइ फ्रूट्स की तरह यह कैलोरी से भरपूर होता है. एक कप स्ट्राबेरी में 50 कैलोरी व तीन ग्राम फाइबर होता है. उपवास में इसका सेवन लाभकारी है. उपवास में टमाटर का जूस कैंसर से बचाव करता है. सलाद खाना भी लाभकारी है.

इन नुकसान से बचें
उपवास के दौरान सबसे बड़ा खतरा शरीर में पानी की कमी का होता है. कई लोग व्रत के दौरान सिर दर्द का अनुभव करते हैं. कुछ को सीने में जलन व कब्ज की शिकायत होती है. डायबिटीज के मरीजों को उपवास नहीं करना चाहिए. जिन लोगों को लो ब्लड प्रेशर की शिकायत होती है, उन्हें भी सावधान रहना चाहिए.

यदि वजन घटाने के लिए उपवास कर रहे हैं तो अपने ब्लड प्रेशर पर लगातार नजर रखें. इंसान जब खाना बंद कर देता है तो उसका पाचन तंत्र भी कार्य करना बंद कर देता है. इससे दिमाग व हार्ट की तुलना में शरीर धीमा होता जाता है. इस तरह शरीर को चलाने के लिए वसा से ऊर्जा मिलती है व चर्बी कम होना प्रारम्भ कर देती है.

अधिक जानकारी के लिए यहां क्लिक करें