पीठ के दर्द को दूर करने के लिए करे ये उपाय

पीठ के दर्द को दूर करने के लिए करे ये उपाय

पीठ दर्द बहुत आम समस्या है. लगातार एक जैसे बैठकर कार्य करने वालों के लिए तो यह जैसे रोज की समस्या है लेकिन कई बार यह गंभीर भी हो जाती है. 

कई बार आदमी को पीठ दर्द के साथ जी मचलाता है. जब दोनों समस्याएं एक साथ हों व लगातार हो तो यह दर्द पाचन या आंतों की समस्या का इशारा होने कि सम्भावना है. पेट की यह परेशानी पीठ तक पहुंच जाती है. उल्टियां भी दर्द बढ़ाती हैं व पीठ में खिंचाव महसूस होता है. जब दर्द पेट की वजह से पीठ तक पहुंचता है तो यह लिवर (यकृत) या गुर्दे (किडनी) जैसे अंगों की समस्या का इशारा देता है.
 
इन कारणों से होता है पीठ दर्द व जी मचलना
गैस्ट्रोएंटेराइटिस संक्रमण पेट में दर्द व सूजन का कारण बनता है. कई भिन्न-भिन्न तरह के संक्रमण गैस्ट्रोएंटेराइटिस का कारण बन सकते हैं, जिसमें नोरोवायरस व खाने से होने वाली बीमारियां जैसे साल्मोनेला शामिल हैं.
गैस्ट्रोएंटेराइटिस से पीड़ित आदमी को पेट में तेजी से ऐंठन का अनुभव होने कि सम्भावना है जो पीठ तक जा सकता है. कभी-कभी यह स्थिति ऐसी हो सकती है कि आदमी का जी मचलाने लगता है व उल्टी भी हो सकती है. यह बार-बार होने कि सम्भावना है जिससे पेट व पीठ की मांसपेशियों में दर्द हो जाता है.
 
कुछ घरेलू उपचारों में आहार को सीमित करना, उल्टी को कम करने के लिए सरलता से पचने वाले खाद्य पदार्थ लें व शरीर में पानी की कमी को रोकने के लिए खूब सारा पानी पीना शामिल है. गैस्ट्रोएंटेराइटिस आमतौर पर अपने आप ही अच्छा हो जाता है, लेकिन किसी आदमी को उपचार की आवश्यकता हो सकती है. यह उन लोगों के लिए महत्वपूर्ण होने कि सम्भावना है जो खाना नहीं खा पा रहे, शरीर में पानी की कमी (डिहाइड्रेशन) का लक्षण नजर आए व 24 घंटे से ज्यादा समय तक उल्टी जारी रहे. अन्य स्थितियां भी हैं जिसमें पीठ दर्द व जी मचलना शामिल होने कि सम्भावना है. वे हैं पथरी, पैन्क्रीएटाइटिस, पित्ताशय की पथरी, किडनी स्टोन, माहवरी के दौरान दर्द.
 
लिवर का स्वास्थ्य
लिवर की बीमारी भी जी मचलने व पीठ दर्द का कारण बन सकती है. ज्यादातर मामलों में, दर्द पेट के ऊपरी दाहिने हिस्से में प्रारम्भ होता है व फिर पीठ तक जाता है.
सिरोसिस व लिवर कैंसर जैसी लिवर की स्थिति में दर्द होने कि सम्भावना है जो कई महीनों तक लगातार होता है. इसके उल्टा गालब्लेडर (पित्ताशय की थैली) की बीमारी दर्द का कारण बन सकता है जो धीरे-धीरे व बेकार हो जाता है. पित्ताशय की थैली पेट के ऊपरी दाहिने हिस्से में, लिवर के नीचे होती है. एक पित्ताशय की थैली पर असर पड़ने पर आदमी के ऊपरी पेट में तेज दर्द होने कि सम्भावना है. यह स्थिति खाने के बाद हो सकती है. लिवर की समस्याओं का उपचार घर पर करना ठीक नहीं है. इन लक्षणों को देखकर किसी अच्छे डॉक्टरों को दिखाना महत्वपूर्ण है.