यह गोंद ड्राई फ्रूट्स पंजीरी टेस्टी होने साथ-साथ हेल्थी भी है, ऐसे बनाये

यह गोंद ड्राई फ्रूट्स पंजीरी टेस्टी होने साथ-साथ हेल्थी भी है, ऐसे बनाये
सर्दियों के मौसम में तिल के लड्डू, ड्राई फ्रूट्स के लड्डू और पंजीरी जैसे व्यंजन खाने को मिलते हैं। ये तासीर में गर्म होते हैं जिससे ठंड के मौसम शरीर को गर्माहट मिलती है। सर्दियों में गोंद ड्राई फ्रूट्स पंजीरी खाने का अलग मजा है।
ये खाने में स्वादिष्ट होने के साथ-साथ बहुत हेल्दी भी होती है। सर्दी के मौसम में ड्राई फ्रूट्स पंजीरी खाने से शरीर को गर्मी और ताकत दोनों मिलती है। ये पंजीरी इतनी स्वादिष्ट होती है कि बच्चे-बूढ़े सभी इसे खाना पसंद करते हैं। ये पंजीरी कैलोरी और पोषक तत्वों से भरपूर होती है इसलिए प्रेगनेंट महिलाओं को भी ड्राई फ्रूट्स पंजीरी खानी चाहिए। आज के इस लेख में हम आपको ड्राई फ्रूट्स पंजीरी की आसान विधि बताने जा रहे हैं -
गोंद ड्राई फ्रूट्स पंजीरी बनाने के लिए जरूरी सामग्री 
200 ग्राम घी
3/4 कप चीनी
30 ग्राम काजू
1 बड़ा चम्मच तरबूज के बीज
1/2 छोटा चम्मच इलायची
200 ग्राम गेहूं का आटा
1/2 कप बादाम
3/4 कप कमल बीज
1 बड़ा चम्मच खरबूजे के बीज
पिसा हुआ पिस्ता
गोंद ड्राई फ्रूट्स पंजीरी बनाने की विधि 
गोंद ड्राई फ्रूट्स पंजीरी बनाने के लिए एक कढ़ाई में घी गरम करके बादाम, काजू, गोंद और मखाना भून लें।
अब एक दूसरे पैन में नारियल और खरबूजे के बीज को 2-3 मिनट के लिए भून लें। 
अब सभी को गोंद के साथ मिक्सी में डालकर दरदरा पीस लें। फिर मखाना, बादाम और काजू डालकर इन्हें भी क्रश कर लें। 
इसके बाद पिसे हुए गोंद के मिश्रण में खरबूजे के बीज, कद्दूकस किया नारियल और किशमिश डालकर अच्छी तरह मिला लें।
आपका गोंद ड्राईफ्रूट पंजीरी सर्व करने के लिए तैयार है।
 

पेट से जुडी समस्याओं में फायदेमंद होता है इस चीज का सेवन

पेट से जुडी समस्याओं में फायदेमंद होता है इस चीज का सेवन

आजकल खट्टी इमली हर किचन में मिलती है। किचन में इमली का अपना विशेष महत्व है। इमली का स्वाद बहुत ही खट्टा मीठा होता है जो हमारे खाने के स्वाद को दोगुना कर देता है। आज तक आपने इमली के इस्तेमाल से कई प्रकार के व्यंजन बनाए होंगे। पर क्या आपको पता है कि इमली हमारी सेहत के लिए भी बहुत फायदेमंद होती है।

इमली खाने के फायदे:

अगर आप रोज़ाना इमली का रस पीते हैं तो इससे कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी से बचाव होता है। इमली में भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट मौजूद होते हैं जो कैंसर और किडनी फेलियर की समस्या से बचाते हैं।

इमली में भरपूर मात्रा में विटामिन सी, कैल्शियम, आयरन, फास्फोरस, पोटेशियम, मैग्नीशियम, फाइबर मौजूद होते हैं जो सेहत से जुड़ी कई समस्याओं को दूर करने में सहायक होते हैं।

अगर आपको पेट से जुड़ी समस्याएं रहती हैं तो आधा कप इमली के पेस्ट में शहद और नींबू का रस मिलाएं। अब इसमें थोड़ा सा गर्म पानी डालकर रात भर के लिए छोड़ दें। सुबह उठने पर इसे पी ले।

इमली का सेवन करने से शुगर लेवल कंट्रोल में रहता है। इमली में भरपूर मात्रा में विटामिन्स और मिनरल्स मौजूद होते हैं जो शुगर को कंट्रोल में रखने का काम करते हैं। 

इमली में भरपूर मात्रा में हाइड्रोऑक्साइड एसिड मौजूद होता है जो फैट को कम करने वाले एंजाइम को बढ़ाती है। रोजाना इमली का सेवन करने से वजन आसानी से कम हो जाता है।