AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने भी सपा पर तंज कसा

AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने भी सपा पर तंज कसा

उत्तर प्रदेश की आजमगढ़ और रामपुर लोकसभा सीट पर हुए उपचुनाव में बीजेपी की बड़ी जीत के बाद AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने भी समाजवादी पार्टी पर तंज कसा है. उन्होंने बोला कि इस जीत ने दिखा दिया है कि सपा में बीजेपी को हराने की ताकत नहीं है. रामपुर सीट पर बीजेपी के घनश्याम लोधी ने समाजवादी पार्टी के प्रतिद्वंद्वी को 42 हजार वोटों से हरा दिया. वहीं आजमगढ़ लोकसभा सीट पर दिनेश लाल यादव निरहुआ ने 9060 वोटों से जीत हासिल की.

ओवैसी ने एक ट्वीट में लिखा, ‘रामपुर और आज़मगढ़ चुनाव के नतीजे से साफ़ ज़ाहिर होता है कि समाजवादी पार्टी में बीजेपी को हराने की न तो क़ाबिलियत है और ना क़ुव्वत. मुसलमानों को चाहिए कि वो अब अपना क़ीमती वोट ऐसी निकम्मी पार्टियों पर ज़ाया करने के बजाये अपनी स्वयं की आज़ाद राजनीतिक पहचान बनाए और अपने मुक़द्दर के फ़ैसले ख़ुद करे.

उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने भी जीत के बाद जनता का आभार जताया. उन्होंने बोला कि यह जनता का डबल इंजन की गवर्नमेंट में भरोसा है. आदित्यनाथ ने कहा, ‘जनता ने पीएम मोदी के नेतृत्व में हुए विकास कार्यों पर भरोसा जताया है.’ उन्होंने बोला कि जनता ने 2024 के आम चुनाव के लिए अपना संदेश दे दिया है. 

आजम खान को बड़ा झटका
रामपुर लोकसभा सीट पर समाजवादी पार्टी के चुनाव हारने से आजम खान को बड़ा झटका लगा है. विधानसभा चुनाव जीतने से पहले वह यहां से सांसद थे. वहीं इस बार के उपचुनाव में भी उन्होंने प्रचार में पूराज जोर लगाया था. लोधी ने हाल ही में बीजेपी जॉइन की थी. समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी आसिम रजा का चयन आजम खान ने ही किया था. यहां से बहुजन समाजपार्टी ने चुनाव नहीं लड़ा था. 

वहीं आजमगढ़ से समाजवादी पार्टी ने धर्मेंद्र यादव को टिकट दिया था. बसपा ने शाह आलम उर्फ गुड्डू जमाली को उतारा था. आजमगढ़ उपचुनाव में कुल 13 उम्मीदवार थे. अखिलेश यादव के लिए यह बड़ा झटका इसलिए है क्योंकि अखिलेश यादव यहां से सांसद थे. विधायक बनने के बाद उन्होंने इस सीट से इस्तीफा दे दिया था.