प्रधानमंत्री मोदी ने किया चेस ओलंपियाड का उद्घाटन

प्रधानमंत्री मोदी ने किया चेस ओलंपियाड का उद्घाटन

चेन्नई में हुआ 44वें चेस ओलंपियाड का उद्घाटन

विश्वनाथन आनंद ने प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी को थमाई चेस ओलंपियाड की मशाल

पीएम मोदी ने चेन्नई के जवाहरलाल नेहरू इंडोर स्टेडियम में रंगारंग कार्यक्रम के बीच 44वें चेस ओलंपियाड का उद्घाटन किया. इस मौके पर पांच बार के विश्व चैंपियन विश्वनाथन आनंद ने चेस ओलंपियाड की मशाल को प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी और तमिलनाडु के सीएम एमके स्टालिन के हाथों में थमाया. इसके बाद मशाल को यंग ग्रैंडमास्टर आर प्रग्नानंद के साथ उपस्थित अन्य शतरंज खिलाड़ियों के हाथों में दे दिया गया.

पहली बार हिंदुस्तान में हो रहे चेस ओलंपियाड के लिए प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी चेन्नई एयरपोर्ट से सड़क के रास्ते स्टेडियम तक पहुंचे, जिस दौरान रास्ते में संगीतकारों ने अपने प्रदर्शन से उनका जबरदस्त स्वागत किया, उनपर हर ओर से फूल भी बरसाए गए. इस कार्यक्रम में प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी चेस बोर्ड की डिजाइन वाली बॉर्डर वाले पटके में नजर आए. उद्धानट कार्यक्रम में सुपरस्टार रजनीकांत समेत कई बड़ी हस्तियां भी उपस्थित थीं.

चेस ओलंपियाड का उद्घाटन करते हुए प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा, “खेलों में कोई हारता नहीं है क्योंकि इसमें एक विजेता होता है और दूसरा भविष्य का विजेता होता हैं.” उन्होंने आगे कहा, “खेल खूबसूरत है क्योंकि इसमें लोगों को, समाज को जोड़ने की ताकत है. यह टीमवर्क को बढावा देता है. दो वर्ष पहले कोविड-19 महामारी के आने से दुनिया थम गई लेकिन ऐसे समय में खेल ने दुनिया को जोड़ने का काम किया. खेल ने जरूरी संदेश दिया कि हम एकसाथ अधिक मजबूत हैं. मुझे यही भावना यहां भी दिख रही है.’’

आज यानी 28 जुलाई को ही बर्मिंघम में कॉमनवेल्थ गेम्स के 22वें एडिशन की आरंभ हो रही है. चेस ओलंपियाड के उद्घाटन कार्यक्रम में प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी इस खास संयोग का जिक्र करना नहीं भूले. उन्होंने कहा, “इंटरनेशनल स्पोर्ट्स के लिए आज अच्छा दिन है. यहां 44वां चेस ओलंपियाड प्रारम्भ हो रहा है और ब्रिटेन में हजारों खिलाड़ी कॉमनवेल्थ गेम्स में भाग ले रहे हैं. मैं यहां इकट्ठा हुए सभी खिलाड़ियों को बधाई देता हूं. आशा करता हूं कि हिंदुस्तान की अच्छी यादें लेकर आप जाएंगे. हिंदुस्तान आपका हमेशा खुलेदिन से स्वागत करेगा.”  

चेस ओलंपियाड का आयोजन चेन्नई से 50 किलोमीटर दूर स्थित मामल्लापुरम में हो रहा है. इस टूर्नामेंट में ओपन कैटेगरी में 188 और वुमेंस कैटेगरी में 162 खिलाड़ी हिस्सा ले रहे हैं. टूर्नामेंट में हिंदुस्तान की तीन तीन टीमें ओपन और वुमेंस कैटेगरी में उतरेगी.

चेस ओलंपियाड की टॉर्च रिले ने 40 दिन में 75 शहरों का यात्रा तय किया और ओपनिंग सेरेमनी के दिन चेन्नई पहुंची. खास बात ये है कि यह टूर्नामेंट पहली बार हिंदुस्तान में आयोजित हो रहा है, जो इस खेल का जन्मस्थान भी है. हिंदुस्तान आजादी की 75वीं वर्षगांठ मना रहा है लिहाजा ओलंपियाड की टॉर्च ने 75 शहरों से गुजरते हुए 27 हजार किलोमीटर का फासला तय किया.