अमेरिका में एच-1बी वीजा के लिए मिले पर्याप्त आवेदन

अमेरिका में एच-1बी वीजा के लिए मिले पर्याप्त आवेदन

अमेरिका में इस साल जारी होने वाले एच-1बी वीजा के लिए प्रक्रिया शुरू हो गई है। इसके लिए पर्याप्त संख्या में आवेदन मिल गए हैं। भारतीय आइटी पेशेवरों में यह वीजा खासा लोकप्रिय है। अमेरिकी नागरिकता और आव्रजन सेवा (यूएससीआइएस) विभाग के अनुसार, उसे संसद द्वारा तय एच-1बी वीजा की सामान्य सीमा 65 हजार और मास्टर डिग्री के लिए तय सीमा 20 हजार के बराबर आवेदन मिल चुके हैं। वर्ष 2021 के लिए सफल आवेदकों का निर्णय लॉटरी सिस्टम से किया जाएगा।

कंप्यूटर के जरिये ड्रा निकाला जाएगा। एच-1बी वीजा भारतीयों समेत विदेशी पेशेवरों में काफी लोकप्रिय है। इस वीजा के आधार पर अमेरिकी कंपनियां उच्च कुशल विदेशी कामगारों को अपने यहां रोजगार देती हैं। हर साल विभिन्न श्रेणियों में 85 कुल हजार वीजा जारी किए जाते हैं।

यह वीजा तीन साल के लिए जारी होता है। बता दें कि ट्रंप प्रशासन ने एच-1बी समेत कई वर्क वीजा के लिए नियमों को सख्त कर दिया था। वीजा के लिए लॉटरी सिस्टम की जगह वेतन और मेरिट आधारित व्यवस्था की तैयारी की थी। हालांकि, सत्ता परिवर्तन के बाद राष्ट्रपति जो बाइडन के प्रशासन ने ट्रंप की इन नीतियों को टाल दिया है और लॉटरी सिस्टम को बहाल रखा है। 


हवा के जरिए फैलता है कोरोना, 'द लांसेट' की रिपोर्ट में मिले पक्के सबूत

हवा के जरिए फैलता है कोरोना, 'द लांसेट' की रिपोर्ट में मिले पक्के सबूत

भारत में कोरोना वायरस के मामलों की संख्या 24 घंटे में दो लाख के पार तक पहुंच चुकी है। ऐसे में मेडिकल जनरल 'द लांसेट' में छपे एक आंकलन में इस बात के ठोस सबूत मिले हैं कि कोरोना वायरस मुख्य रूप से हवा के जरिए फैलता है।

इंग्लैंड, अमेरिका, कनाडा के 6 एक्सपर्ट के मुताबिक जो पब्लिक हेल्थ से जुड़े कदम उठाए जा रहे हैं, उनमें वायरस  को मुख्य रूप से एयरबोर्न की तरह नहीं माना जा रहा है और इसकी वजह से लोग असुरक्षित हैं। वायरस तेजी से फैल सकता है।

जो मिला विशेषज्ञ को
विशेषज्ञों की टीम ने वायरस के हवा से फैलने को लेकर कई सबूत पेश किए हैं। उनकी सबूतों की लिस्ट में टॉप पर स्कैगिट चोइर आउटब्रेक जैसे सुपर स्प्लेंडर इवेंट हैं। इस इवेंट में एक संक्रमित केस से 53 लोग संक्रमित हुए थे। अध्ययन से पुष्टि हुई है कि ऐसे आयोजन का स्पष्टीकरण करीबी संपर्क या सहत या चीजों को छूने से नहीं दिया जा सकता। 

टीम ने जो सबूत दिए
टीम ने उस रिसर्च पर जोर दिया जिसमें अनुमान लगाया गया कि जो लोग खांस और छींक नहीं रहे हैं उनसे साइलेंट ट्रांसमिशन (बिना लक्षण या लक्षण देखने से पहले की स्थिति) में कुल ट्रांसमिशन का 40 फीसदी तक है। आंकलन के मुताबिक दुनिया भर में कोविड संक्रमण फैलने में सबसे बड़ी भूमिका साइलेंट ट्रांसमिशन की है और यह मुख्य रूप से एयरबोर्न ट्रांसमिशन के संकेत देता है।

शोधकर्ताओं ने उन लोगों के बीच वायरस ट्रांसमिशन का भी केस रखा जो होटलों के करीबी कमरों में थे और कभी एक दूसरे के संपर्क में नहीं आए। टीम को इस मामले में कोई सबूत नहीं मिला कि वायरस बड़ी ड्रॉपलेट्स से आसानी से फैल जाता है। जो कि हवा से जल्दी गिर जाती है और लोगों को संक्रमित करती है।

बंद जगह पर ज्यादा संक्रमण
रिसर्च में बताया गया है कि खुली जगहों की बजाय बंद जगहों में संक्रमण ज्यादा तेजी से फैलता है। बंद जगहों को हवादार बनाकर संक्रमण के प्रसार को कम किया जा सकता है। 


रिद्धिमा पंडित ने बयां किया मां को खोने का दर्द       कोविड-19 से उबरने के बाद भूमि पेडनेकर बनीं ‘COVID WARRIOR'       गर्मियों में बीमारियों से बचने के लिए ध्यान रखें ये विशेष बातें       राजेश खन्ना के बंगले में जमीन पर बैठते थे डायरेक्टर-प्रोड्यूसर       अथिया शेट्टी ने किया rumoured बॉयफ्रेंड KL Rahul को बर्थडे विश       रिजिजू ने कहा कि टोक्यो ओलंपिक में डबल डिजिट में पदक आने की उम्मीद       कुम्भ मेले से लौटने वाले लोग बढ़ा सकते हैं कोरोना महामारी को : संजय राउत       अखिलेश ने कहा कि लखनऊ कैंसर इंस्टीट्यूट को कोरोना मरीजों के लिए खोले योगी सरकार       राज ठाकरे ने कहा कि प्रवासी मजदूर हैं महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के तेजी से फैलने के लिए जिम्मेदार       योगी सरकार के मंत्री ने ही लखनऊ में कोरोना हालात पर उठाए सवाल, CM पृथक-वास में       किसी वर्ग का नहीं, सबका होता है मुख्यमंत्री: योगी आदित्यनाथ       यूपी में कोरोना का कहर, योगी सरकार ने उठाए ऐहतियाती कदम       रमजान समेत अन्य त्योहारों को लेकर बोले सीएम योगी       उत्तरप्रदेश में टूटा Corona का कहर, एक दिन में मिला इतने नए केस       दिल्ली के बाद UP में भी लगा Lockdown, बंद रहेंगे सभी बाजार और दफ्तर       High Level मीटिंग के दौरान Nude दिखे कनाडा के सांसद       हवा के जरिए फैलता है कोरोना, 'द लांसेट' की रिपोर्ट में मिले पक्के सबूत       कोरोना वायरस रोधी टीके है कम असरदार, चीन के अधिकारी का दावा       रेप की घटनाओं पर इमरान खान का बेतुका बयान, कहा...       फ्रांस से तीन और राफेल विमान बिना रुके पहुंचे भारत