घुसपैठ पर बोला चीन, अरुणाचल में गांव बसाने पर दी प्रतिक्रिया, कहा...

घुसपैठ पर बोला चीन, अरुणाचल में गांव बसाने पर दी प्रतिक्रिया, कहा...

नई दिल्ली: पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर जारी तनाव के बीच चीन ने अपनी विस्तारवादी नीति के तहत भारत के अरुणाचल प्रदेश की सीमा के अंदर गांव बसा लिया है। यह गांव अरुणाचल में वास्‍तविक भारतीय सीमा के करीब 4.5 किमी अंदर स्थित है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, चीन ने इस गांव में करीब 101 घर बनाए हैं। चीन द्वारा इस गांव को त्‍सारी चू गांव के अंदर बसाया गया है, जो कि अरुणाचल के ऊपरी सुबनसिरी जिले में स्थित है।

चीन ने गांव के निर्माण पर कही ये बात
हालांकि भारत में इस तरह गांव बसाने को लेकर उसकी आलोचना की जा रही है। इस बीच चीन के विदेश मंत्रालय ने इस मामले में गुरुवार को एक बयान में इस निर्माण को सामान्य बताया है। मंत्रालय का कहना है कि ‘अपने खुद के क्षेत्र में’ चीन की विकास और निर्माण गतिविधियां सामान्य और दोषारोपण से परे हैं। आपको बता दें कि पाकिस्तान की तरह चीन भारत के कई क्षेत्रों पर अपना अधिकार जताता आया है।

चीन के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने एक मीडिया ब्रीफिंग के दौरान एक सवाल के जवाब में कहा कि जंगनान क्षेत्र (दक्षिण तिब्बत) पर चीन की स्थिति स्पष्ट और स्थिर है। हमने कभी भी तथाकथित अरुणाचल प्रदेश को मान्यता नहीं दी है। बता दें कि चीन अरुणाचल प्रदेश को दक्षिण तिब्बत का हिस्सा बताता है, जबकि भारत ने हमेशा स्पष्ट तौर पर कहता रहा है कि अरुणाचल प्रदेश उसका अभिन्न और अखंड हिस्सा है।

चीन और भारत के बीच विवाद
मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने कहा कि हमारे खुद के क्षेत्र में चीन की विकास और निर्माण गतिविधियां सामान्य हैं। साथ ही यह दोषारोपण से भी परे है, क्योंकि यह हमारा क्षेत्र है। बताते चलें कि चीन ने जिस ऊपरी सुबनसिरी जिले में गांव का निर्माण कराया है, अरुणाचल का यह जिला भारत और चीन के बीच काफी लंबे वक्त से विवाद का केंद्र रहा है। यही नहीं इसे लेकर सशस्त्र संघर्ष भी हो चुका है। ऐसा कहा जा रहा है कि चीन ने एक साल पहले ही यह गांव बसाया है।


आतंकियों ने की पांच पाकिस्तानी सैनिकों की हत्या

आतंकियों ने की पांच पाकिस्तानी सैनिकों की हत्या

बलूचिस्तान (Balochistan) में आतंकियों ने हमला किया जिसमें कम से कम पांच पाकिस्तानी सैनिकों की मौत हो गई और दो घायल हैं। प्राप्त खबर के अनुसार, संदिग्ध आतंकियों ने बलूचिस्तान प्रांत के दो अलग-अलग इलाके में रिमोट से संचालित बम विस्फोट कर हमला बोला। इस हमले में फ्रंटियर कार्प्स (FC) को निशाना बनाया गया था। क्वेटा (Quetta) और कोहलू (Kohlu) जिले के सुदूर इलाकों में यह हमला हुआ था। पहला हमला क्वेटा के बाहरी एरिया में हुआ था जहां मोटरसाइकिल में बम लगाया गया था इसमें एक जवान की मौत हो गई वहीं दो अन्य जख्मी हो गए। फ्रंटियर कार्प्स के वाहन के पास ही एक विस्फोट हुआ जो उस वक्त वहां पेट्रोलिंग कर रहे थे। दूसरे हमला कोहलू जिले के सुदूर कहन एरिया में हुआ। आतंकियों ने  FC चेकपोस्ट पर देर रात हमला किया जिसमें चार जवान मारे गए। 


वेस्टइंडीज के खिलाफ वनडे और टी20 सीरीज के लिए श्रीलंकाई टीम का ऐलान       अब ऑनलाइन युवाओं को बल्लेबाजी के गुण सिखाएंगे सचिन तेंदुलकर       रॉबिन उथप्पा ने ठोका शतक और केरल ने उड़ीसा को इतने रन से हराया       IPL में अब तक खिलाड़ियों की सैलरी पर खर्च हुए हैं 6144 करोड़ रुपये       T20 विश्व कप में 20 खिलाड़ियों को क्यों उतारना चाहती है न्यूजीलैंड की टीम       पेट्रोल-डीजल ने रुलाया, साइकिल से ऑफिस पहुंचे रॉबर्ट वाड्रा       बीजेपी चीफ ने किया दुष्कर्म! गैंगरेप में सामने आया नाम       पुडुचेरी: कांग्रेस के हाथ से निकली एक और राज्य की सत्ता       महाराष्ट्र में हालात खराब, दूसरे राज्यों का क्या होगा       यात्रियों के छूटे पसीने, ट्रेन पार कर गई पूरा प्लेटफॉर्म, स्टेशन पर खड़े रहे गए सभी       घर में मच्छर भगाने के लिए नहीं है कॉइल या मॉस्कीटो लिक्विड, तो...       बच्चे में दिख रहे हैं डेंगू के लक्षण, तो ऐसे करें उपाय       पुश-अप कैसे करें और एक दिन में कितने पुश-अप्स करने चाहिए       बासी रोटी भी आपको बना सकती है सेहतमंद       इस तरह दूर करें अपनी स्किन की परेशानियां       गर्मियों में शरीर से निकलता है ज्यादा पसीना तो अपनाएं ये आसान घरेलू नुस्खे       महिलाएं नहाते समय करती हैं ऐसी गलतियाँ, पहुंचाती है नुकसान       महिलाएं अपने गोर गालों को उभारने के लिए करें ये देसी उपाय       अमेरिका के टॉप स्वास्थ्य संगठन ने कोरोना के तीन और लक्षण बताए हैं, जानें       गर्मियों के मौसम में बेहद फायदेमंद है चीकू का सेवन