कोविड-19 वायरस के भारतीय स्ट्रेन को विश्व स्वास्थ्य संगठन ने माना खतरनाक, कहा...

कोविड-19 वायरस के भारतीय स्ट्रेन को विश्व स्वास्थ्य संगठन ने माना खतरनाक, कहा...

नई दिल्ली: विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोविड-19 वायरस के भारतीय वेरिएंट बी 1617 को वेरियंट ऑफ कंसर्न माना है। हालांकि विश्व स्वास्थ्य संगठन ने साफ किया कि इसे वेरियन्ट ऑफ कंसर्न मानने की वजह यह है कि यह तेजी से ट्रांसमिट होता है यानी तेजी से फैलता है। इस वेरियन पर वैक्सीन कितना कार्य कर रही है यह जानने के लिए अभी और स्टडी की जानी बाकी है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने यह भी बताया कि हिंदुस्तान सरकार के साथ-साथ और भी कई देश और स्वयं विश्व स्वास्थ्य संगठन इस वेरियन्ट पर स्टडी कर रहा है। कल इसके बारे में और विस्तृत जानकारी विश्व स्वास्थ्य संगठन के जरिए सामने आ सकती है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन में Covid-19 तकनीकी दल से जुड़ीं डॉ मारिया वैन केरखोव ने सोमवार को बोला कि सबसे पहले हिंदुस्तान में सामने आए वायरस के स्वरूप बी.1.617 को पहले विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा ' नज़र स्वरूप' की श्रेणी में रखा गया था।

डॉ मारिया बोला कि वायरस के इस स्वरूप को लेकर विश्व स्वास्थ्य संगठन के विभिन्न दलों के बीच भी चर्चा जारी है और उनकी नजर इस बात पर भी है कि 'हमारे पास इसकी संक्रमण के बारे में क्या क्या जानकारियां हैं तथा हिंदुस्तान एवं अन्य राष्ट्रों में इस वायरस के प्रसार के बारे में क्या क्या शोध हो रहे हैं। ' केरखोव ने कहा, ' Covid-19 के भारतीय स्वरूप के बारे में मौजूद जानकारी एवं इसकी प्रसार क्षमता पर चर्चा करने के बाद हमने इसे वैश्विक स्तर पर चिंताजनक स्वरूप की श्रेणी में रखा है। '


वियतनाम पहुंचेेगी जापान की ओर से भेजी गई कोरोना वैक्सीन की खेप

वियतनाम पहुंचेेगी जापान की ओर से भेजी गई कोरोना वैक्सीन की खेप

जापान (Japan) की ओर से बुधवार को कोरोना वैक्सीन की खेप वियतनाम (Vietnam) भेजी जाएगी। यह जानकारी विदेश मंत्री तोशिमित्सु मोटेगी ( Foreign Minister Toshimitsu Motegi) ने मंगलवार को दी। 98 मिलियन की आबादी वाले वियतनाम में महामारी की शुरुआत से अब तक संक्रमितों का कुल आंकड़ा 10,241 है और मात्र 58 मौतें हुई हैं। जापान से बुधवार को भेजी गई एस्ट्राजेनेका ( AstraZeneca) वैक्सीन की खेप वियतनाम पहुंचेगी। वियतनाम, ताइवान के अलावा इंडोनेशिया व मलेशिया को भी जापान की ओर से जुलाई में वैक्सीन की खेप दी जाएगी।

अमेरिका की जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी (Johns Hopkins University) के अनुसार मंगलवार सुबह तक वैश्विक संक्रमण का आंकड़ा 176,195,220 हो गया और कुल मृतकों की संख्या 3,808,883 हो गई। महामारी की पहली लहर से लेकर अब तक दुनिया भर में सबसे बदतर हाल अमेरिका का रहा है। अभी तक यहां के कुल संक्रमितों का आंकड़ा 33,473,180 हो गया और 599,928 संक्रमितों की मौत हो चुकी है।वर्ष 2019 के अंत में कोरोना वायरस संक्रमण का पहला मामला चीन के वुहान में आया था जिसके बाद दो-तीन माह के भीतर ही यह पूरी दुनिया में महामारी के रूप में फैल गया। 11 मार्च 2020 को विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इसे महामारी घोषित कर दिया था।


CM योगी का निर्देश- कोरोना के साथ बरसात के मौसम में संचारी रोग से निपटने को तैयार रहें       प्रदेश में 21 जून से 50 फीसद क्षमता के साथ खुलेंगे मॉल्स और रेस्टोरेंट, नाइट ​कर्फ्यू में भी छूट       बहुत कुछ कह रहा अंतिम नरसंहार स्थल मियांपुर, देवमतिया और सीता से जानें क्‍यों सिहर उठती हैं महिलाएं       अमीरों का घर पक्का, गरीबों को लग रहा धक्का, यहां के पंचायतों में इंदिरा आवास का हाल-बेहाल       एक तो लॉकडाउन के कारण महीनेभर बंद रही दुकान, ऊपर से जल गया सारा सामान       कैमूर के जंगल में हो रही 'जहर की खेती'; पुलिस ने जाल बिछाया तो फंस गया 'सौदागार'       ग्रामीण भारत की गर्मियों का शब्दचित्र, प्रख्यात लोकगायिका मालिनी अवस्थी की कलम से...       कैमूर ने दिखाई समझदारी और भाग गया वायरस, ढूंढने पर भी नहीं मिला एक भी कोरोना पॉजिटिव       बिहार LJP में चिराग के फैन्‍स की कमी नहीं, पशुपति पारस पर फूट रहा गुस्‍सा       कोरोना वायरस हमारे बीच है, जल्द लगवाएं वैक्सीन : राहुल गांधी       तेज बारिश को लेकर दिल्ली समेत इन राज्यों के लिए जारी किया गया अलर्ट       कोरोना वायरस का नया वैरिएंट 'डेल्टा+' आया सामने, जानें       केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने मानसून सीजन की तैयारियों को लेकर बैठक की       स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि 20 राज्यों में 5,000 से कम सक्रिय मामले       भारतीय सैन्य पुलिस में खुला नेपाली महिलाओं के लिए रास्ता       वियतनाम पहुंचेेगी जापान की ओर से भेजी गई कोरोना वैक्सीन की खेप       आर्मी कैंप में आत्मघाती हमला, 15 की मौत, बढ़ सकता है मौतों का आंकड़ा       पूरी दुनिया के लिए ये है एक अच्‍छी खबर, आपको भी पढ़कर लगेगा बहुत अच्‍छा       यरुशलम में मार्च निकालेंगे यहूदी गुट, हमास ने जताई फिर से हिंसा भड़कने की आशंका       इजरायल की नई सरकार को नेतन्याहू ने बताया 'कपटी', किया वादा- जल्द करूंगा सत्ता में वापसी