भारतीय सैन्य पुलिस में खुला नेपाली महिलाओं के लिए रास्ता

भारतीय सैन्य पुलिस में खुला नेपाली महिलाओं के लिए रास्ता

भारतीय सेना ने पहली बार सैन्य पुलिस में नेपाली महिलाओं के लिए रास्ता खोल दिया है। यानी अब नेपाली महिलाएं भी भारतीय सैन्य पुलिस में अप्लाई कर पाएंगी। रिक्त पदों पर आसानी से नेपाली महिलाओं की अब भर्ती हो पाएगी। बता दें कि यह निर्णय ऐसे समय में लिया गया है जब भारतीय सेना में नेपाली युवाओं की भर्ती को रद करने की मांग उठ रही है। सेना का कहना है सेना में नेपाली युवाओं का दायरा बढ़ाने की लगातार जरूरत है। ऐसे में पुरुष और महिलाओं की भर्ती होना चाहिए। काठमांडू में भारतीय दूतावास ने सेना में पात्र नेपाली महिलाओं को ऑनलाइन माध्यम से अपना आवेदन जमा करने के संदर्भ में एलान किया है।

इन लोगों को मिलेगी छूट निर्धारित हुए मानदंड

इस घोषणा के साथ ही निश्चित मानदंड निर्धारित किए गए हैं, लेकिन उन बच्चों को भी कुछ छूट दी है जिनके माता-पिता भारतीय सेना में सेवा के दौरान शहीद हुए थे। मानदंड के अनुसार, जिन्होंने 10 वीं कक्षा पास की है और जिनकी आयु 16 से 21 वर्ष के बीच है या जिनका जन्म 1 अक्टूबर 2000 से 1 अप्रैल 2004 के बीच हुआ है और जिनकी लंबाई 152 सेमी से अधिक है। वे सभी आवेदन कर सकते हैं। आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि 20 जुलाई तय की गई है।


नोटिस के अनुसार, वीर नारी के रूप में वर्गीकृत लोग 30 साल तक आवेदन करने के पात्र हैं। मानदंड को पूरा करने वालों को आगे की चयन प्रक्रिया के लिए अंबल, लखनऊ, जबलपुर, पुणे, बेलगाम और शिलांग में भेजा जा सकता है। मानदंड के अनुसार, पूर्व भारतीय सेना के बच्चे जिनके पिता ड्यूटी के दौरान शहीद हुए थे। उन्हें लिखित परीक्षा में 20 के वजन और अनुग्रह अंक में छूट प्रदान की जाएगी।

नेपाल और भारत के बीच संधि के मुताबिक, भारतीय सेना में एक अलग गोरखा रेजिमेंट है और लाखों से अधिक नेपाली नागरिक भारतीय सेना में विभिन्न पदों पर सेवा कर चुके हैं और सेवानिवृत्त हो चुके हैं। 1816 में ईस्ट इंडिया कंपनी के शासन के दौरान नेपाली युवाओं की भर्ती शुरू हुई थी।


दक्षिण कोरिया समेत कई देशों में बढ़ रहा डेल्‍टा वैरिएंट का दायरा

दक्षिण कोरिया समेत कई देशों में बढ़ रहा डेल्‍टा वैरिएंट का दायरा

देश और दुनिया में कोरोना संक्रमण के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। कई देशों में सामने आ रहे डेल्‍टा वैरिएंट के मामलों ने चिंता को बढ़ाने का काम किया है। आपको बता दें कि पिछले सप्‍ताह ही विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन ने इस बात की पुष्टि की थी कि दुनिया के 132 देशों में डेल्‍टा वैरिएंट के मामले सामने आ चुके हैं और विश्‍व के 29 देश ऑक्‍सीजन की किल्‍लत झेल रहे हैं। विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन लगातार इसको लेकर दुनिया के देशों को आगाह कर रहा है। आइये डालते हैं विश्‍व में कोरोना मामलों की स्थिति पर एक नजर :-

दक्षिण कोरिया में बीते 24 घंटों के दौरान कोरोना के 1725 नए मामले सामने आए हैं। पिछले दिन की तुलना में ताजा मामलों में करीब 1200 मामलों की तेजी आई है। देश में अब कोरोना के कुल मामलों की संख्‍या 203926 हो गई है। सिओल और गियांगी प्रांत से सबसे अधिक मामले सामने आ रहे हैं। एएनआई के मुताबिक दक्षिण कोरिया में डेल्‍टा वैरिएंट के मामले सामने आने के बाद सरकार की चिंता बढ़ गई है। यहां वैक्‍सीन के लिए योग्‍य लोगों की करीब 39 फीसद आबादी को इसकी खुराक दी जा चुकी है।


नेपाल में डेल्‍टा वैरिएंट के चलते जो मामले बढ़ रहे हैं उसकी वजह से दिक्‍कतें बढ़ गई हैं। इसको देखते हुए सुकराराज ट्रॉपिकल एंड इंफेक्शियस डिजीज अस्‍पताल में अस्‍थायी व्‍यवस्‍था की गई है जहां पर मरीजों को रखा जा सकता है। यहां पर मरीजों के लिए ऑक्‍सीजन सिलेंडर की भी व्‍यवस्‍था की गई है।

रायटर के मुताबिक थाईलैंड में बीते 24 घंटों के दौरान 20200 नए मामले सामने आए हैं और 188 मरीजों की मौत भी हुई है। यहां पर कोरोना के कुल मामले अब बढ़कर 672385 हो गए हैं।


जापान की राजधानी टोक्‍यो में 3709 नए मामले सामने आए हैं। आपको बता दें कि यहां पर ओलंपिक गेम्‍स चल रहे हैं। लगातार पांचवें दिन 3 हजार से अधिक मामले सामने आने के बाद सरकार की चिंता बढ़ गई है। रायटर ने बताया है कि जापान में सरकार विवादित नई कोरोना पॉलिसी को वापस लेने पर विचार कर रही है। इस पॉलिसी के तहत कम गंभीर वाले मामलों वाले रोगियों को भी अस्‍पताल में ही आइसोलेट होने का निर्देश दिया गया था। अब सरकार ने इस पर विवाद होने के बाद इसको वापस लेने का संकेत दे दिया है। सरकार इस बारे में फैसला ले सकती है कि ऐसे मरीजों को घर पर ही आइसोलेट रहने दिया जाए।


तुर्की में बीते 24 घंटों के दौरान कोरोना के 24832 नए मामले सामने आए हैं। इसके बाद यहां पर इसके कुल मामले बढ़कर 5795665 हो गए हैं। इस दौरान देश में 126 मरीजों की मौत भी हुई है।

इजरायल में बीते 24 घंटों के दौरान 3460 नए मामले सामने आए हैं जिसके बाद यहां पर कुल मामले बढ़कर 882391 हो गए हैं। इस दौरान देश में 9 मरीजों की मौत भी हुई है।

मैक्सिको में बीते 24 घंटों के दौरान 18911 नए मामले सामने आए हैं और 657 मरीजों की मौत हुई है। यहां पर कोरोना के कुल मामले 2880409 हैं जबकि कुल मौतों की संख्‍या 241936 है।

चीन के राज वाले मकाऊ में कोरोना के चार मामले सामने आने के बाद यहां के 6 लाख लोगों की टेस्टिंग कराने की शुरुआत की जा चुकी है।

लेबनान में मंगलवार को 1240 नए मामले सामने आए हैं जिसके बाद यहां पर इसके कुल मामले 564364 हो गए हैं। यहां पर इस वायरस की वजह से अब तक 7917 मरीजों की मौत हो चुकी है।

भारत की बात करें तो एएनआई के मुताबिक यहां पर सोमवार के मुकाबले मंगलवार को कोरोना संक्रमण के मामलों में करीब 12 हजार से अधिक की तेजी आई है। वहीं मौतें भी बढ़ी हैं। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के मुतबिक देश में बीते 24 घंटों के दौरान कोरोना संक्रमण के कुल 42625 नए मामले सामने आए हैं जबकि 562 मौतें हुई हैं। आईएएनएस के मुताबिक तमिलनाडु ने कोरोना वैक्‍सीन की 79 लाख खुराक मिलने की पुष्टि की है। सरकार का कहना है कि इसमें से 17 लाख खुराक प्राइवेट सेक्‍टर को दी जाएंगी और बाकी सरकार इस्‍तेमाल में लाएगी।