ब्रिटेन सरकार ने दिया यह बड़ा बयान- "हिंदुस्तान सहित विदेशी"

ब्रिटेन सरकार ने दिया यह बड़ा बयान- "हिंदुस्तान सहित विदेशी"

एकाएक बढ़ा ही जा रहा कोरोना का प्रकोप आज पूरी संसार के लिए महामारी का रूप लेता रहा है। वही इस वायरस की चपेट में आने से अब तक 40000 से अधिक मौते हो चुकी है। लेकिन अब भी यह मृत्यु का खेल थमा नहीं है। 

इस वायरस ने आज पूरी संसार को हिला कर रख दिया है। कई राष्ट्रों के अस्पतालों में बेड भी नहीं बचे है तो कही खुद डाक्टर इस वायरस का शिकार बनते जा रहें है।

ब्रिटेन सरकार ने मंगलवार को बोला कि हिंदुस्तान सहित विदेशी डॉक्टर, जिनके वीजा इस वर्ष अक्टूबर में खत्म हो रहे हैं, उन्हें एक वर्ष के लिए स्वत: एक्सटेंशन मिल जाएगा, क्योंकि वे कोरोना वायरस महामारी से जूझ रहे हैं। ब्रिटेन की गृह मंत्री प्रीति पटेल द्वारा घोषित इस योजना का फायदा लगभग 28,000 प्रवासी डॉक्टरों, नर्सो व अन्य लोगों को मिलेगा, जिनका वीजा एक अक्टूबर को खत्म होने वाला है। मिली जानकारी के अनुसार डॉक्टर, नर्स व पैरामेडिकल स्टाफ कोरोना वायरस से निपटने व लोगों की जान बचाने के राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा के प्रयासों में अग्रणी किरदार निभा रहे हैं। हम उन कार्यो के लिए उन सभी का बहुत आभार मानते हैं, जो वे करते हैं।

वहीं इस बात का पता चला है कि भारतीय मूल की मंत्री ने बोला कि मैं उन्हें वीजा प्रक्रिया से विचलित नहीं करना चाहती हूं। इसीलिए मैंने स्वत: ही उनके वीजा को एक वर्ष के लिए मुफ्त में बढ़ा दिया है। गृह मंत्रालय ने बोला कि वीजा की यह बढ़ोतरी उनके परिवार के सदस्यों पर भी लागू होगी।