100 साल से भी पहले भारत से चुरायी गयी अन्नापूर्णा की अनोखी मूर्ति लौटाएगा यह देश

100 साल से भी पहले भारत से चुरायी गयी अन्नापूर्णा की अनोखी मूर्ति लौटाएगा यह देश

टोरंटो। कनाडा का एक विश्वविद्यालय ‘ऐतिहासिक गलतियों को सही करने’ और ‘उपनिवेशवाद की अप्रिय विरासत’ से उबरने की कोशिश के तहत हिंदू देवी अन्नपूर्णा की अनोखी मूर्ति भारत को लौटाएगा, जिसे एक सदी से अधिक समय पहले भारत से चुराकर लाया गया था। यह मूर्ति मैकेंजी आर्ट गैलरी में रेजिना विश्वविद्यालय के संग्रह का हिस्सा है। यह मूर्ति नोर्मान मैकेंजी के 1936 के मूल वसीयत का हिस्सा है। विश्वविद्यालय ने बृहस्पतिवार को एक बयान में बताया कि कलाकार दिव्या मेहरा ने इस तथ्य को ओर ध्यान आकृष्ट किया कि इस मूर्ति को एक सदी से भी पहले गलत तरीके से लाया गया। जब वह मैकेंजी के स्थायी संग्रह को खंगाल रही थीं और अपनी प्रदर्शनी की तैयारी कर रही थीं तब उनका ध्यान इस ओर गया। बयान के अनुसार, 19 नवंबर को इस मूर्ति का डिजिटल तरीके से लौटाने का कार्यक्रम हुआ और अब उसे शीघ्र ही वापस भेजा जाएगा।

विश्वविद्यालय के अंतरिम अध्यक्ष और कुलपति डॉ थॉमस चेज ने इस मूर्ति को आधिकारिक रूप से भारत भेजने के लिए कनाडा में भारतीय उच्चायुक्त अजय बिसारिया से डिजिटल तरीके से मुलाकात की। बिसारिया ने कहा, ‘‘हम खुश हैं कि अन्नपूर्णा की यह अनोखी मूर्ति अपनी गृह वापसी की राह पर है। मैं भारत को इस सांस्कृतिक विरासत को लौटाने को लेकर सक्रिय कदम उठाने को लेकर रेजिना विश्वविद्यालय के प्रति आभारी हूं।’’ विश्वविद्यालय ने कहा कि अपनी गहन छानबीन के आधार पर मेहरा इस निष्कर्ष पर पहुंचीं कि 1913 में अपनी भारत यात्रा के दौरान मैकेंजी की नजर इस प्रतिमा पर पड़ी और जब एक अजनबी को मैकेंजी की इस मूर्ति को पाने की इच्छा का पता चला तो उसने वाराणसी में गंगा के घाट पर उसके मूल स्थान से उसे चुरा लिया।


किम जोंग उन ने लगवाई कोविड-19 वायरस की वैक्सीन : रिपोर्ट

किम जोंग उन ने लगवाई कोविड-19 वायरस की वैक्सीन : रिपोर्ट

उत्तर कोरिया के सुप्रीम लीडर किम जोंग उन ने गुपचुप ढंग से कोविड-19 वायरस की वैक्सीन लगवा ली है. 19fortyfive.com ने जापान के दो खुफिया सूत्रों के हवाले से किम जोंग के वैक्सीन लगवाने का दावा किया है. इस रिपोर्ट के अनुसार, किम जोंग उन के साथ-साथ उत्तर कोरिया के कई उच्चाधिकारियों और स्वयं किम के परिवार के लोगों ने भी कोविड-19 का टीका लगवा लिया है.

इस रिपोर्ट में इस बात का भी खुलासा किया गया है कि चाइना सरकार ने गुप्त ढंग से उत्तर कोरिया को कोविड-19 वैक्सीन की आपूर्ति की है. बीते दो से तीन हफ्ते के अंदर ही किम जोंग और दूसरे लोगों को वैक्सीन लगाई है. इससे पहले एक रिपोर्ट में यह भी दावा किया गया था कि एस्ट्राजेनेका की वैक्सीन का डाटा हैक करने के पीछे उत्तर कोरिया पर शक जताया जा रहा है. बता दें कि उत्तर कोरिया में कोविड-19 का प्रकोप चरम पर है.

हालांकि आधिकारिक तौर पर देश में कोविड-19 मरीजों की तादाद कितनी है, इसका कोई आंकड़ा नहीं है. उत्तर कोरिया की एक बड़ी आबादी पहले से ही गरीबी की मार झेल रही है और कोविड-19 के बाद देश में आर्थिक स्थिति ठीक नहीं चल रहे हैं. वहीं उत्तर कोरिया कई तरह के वित्तीय प्रतिबंधों का भी सामना कर रहा है. जनवरी में उत्तर कोरिया ने अपनी सीमाएं सील कर दी थीं. पिछले महीने एक रिपोर्ट में यह भी दावा किया गया था कि उत्तर कोरिया ने कोविड-19 संक्रमियों को गोपनीय कैंप में भूखे मरने के लिए छोड़ दिया था.


लाल रंग के फल और सब्जियों के फायदे जानकर दंग रह जाएगे आप       सर्दियों में आपके लिए किसी वरदान से कम नही हैं लहसुन       बकरी के दूध से होने वाले फायदे जानकर चौक जाएगे       यदि आप बदलते मौसम में साइनस की समस्या से हैं परेशान       पीरियड में होने वाले दर्द से निजात पाने के लिए पिएं अदरक वाली चाय       किसी औषधी से कम नही हैं आपके के लिए काला लहसुन       आंखों को स्वस्थ रखने के लिए करें ये एक्सरसाइज       सुबह- सुबह धनिया का पानी पीने के ये पांच जबरदस्त फायदे       हंसने-मुस्कराने से कम फायदेमंद नहीं झूमना-नाचना       पीरियड्स में देरी के हो सकते हैं ये कारण, जानें       इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए भूलकर भी ना करें इन चीजों का सेवन       क्यों नहीं पिलाना चाहिए बच्चो को प्लास्टिक की बोतल में दूध       सेहत के लिए किसी वरदान से कम नही है इसका बीज       इस बीमारी के लिए औषधि से कम नही है किशमिश       नही जानते होगे आप सुबह तांबे के बर्तन में रखा पानी पिने के ये…       शाम के नाश्ते में खाए ये 10 हेल्दी स्नैक्स, तो...       सुबह की सैर के बाद जरूर खाएं ये चीजें       जानिए क्या कहती हैं आज के दिन की आपकी राशि?       भाग्यशाली होता है वो लोग जिसकी अनामिका उंगली होती है ऐसी       ज्योतिषीय के इन उपायों से पति-पत्नी में बढ़ता है प्रेम, बनी रहती है सुख-समृद्धि