प्रेसिडेंशियल अकाउंट ‘पोटस’ को जो बाइडेन को ट्रांसफर करेगी TWITTER!

प्रेसिडेंशियल अकाउंट ‘पोटस’ को जो बाइडेन को ट्रांसफर करेगी TWITTER!

लॉस एंजिलिस। ट्विटर अमेरिका के राष्ट्रपति के आधिकारिक ‘पोटस’ अकाउंट का नियंत्रण राष्ट्रपति चुनाव में विजयी हुए जो बाइडन को 20 जनवरी को उनके शपथ ग्रहण करते ही सौंप देगी। ट्विटर ने कहा है कि भले ही राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चुनाव में हार नहीं मानी है लेकिन वह इस हस्तांतरण की प्रक्रिया को पूरा करेगी। पोटस (प्रेसीडेंट ऑफ यूएस या पीओटीयूएस) अमेरिका के राष्ट्रपति का आधिकारिक ट्विटर खाता है और यह डोनाल्ड ट्रंप के उस खाते से अलग है, जिससे वह ट्वीट किया करते हैं। बाइडन (78) शपथ ग्रहण करने के बाद अमेरिका के 46वें राष्ट्रपति बन जाएंगे।

ट्विटर ने कहा कि अकाउंट को सौंपने की प्रक्रिया में ट्रंप की टीम और नये राष्ट्रपति बनने जा रहे बाइडन की टीम के बीच सूचना साझा करने की कोई आवश्यकता नहीं है। कंपनी ने कहा कि इस खाते पर मौजूदा सभी ट्वीट को संग्रह कर रखा जाएगा और शपथ ग्रहण के दिन बिना किसी ट्वीट के नये खाते के रूप में उसे बाइडन को सौंप दिया जाएगा। ट्विटर के प्रवक्ता निक पेसिलियो ने एक ई-मेल में कहा, ‘‘ट्विटर 20 जनवरी, 2021 को व्हाइट हाउस के संस्थागत ट्विटर खातों के हस्तांतरण की सक्रियता से तैयारी कर रही है।’’ कंपनी के अनुसार, इसी तरह व्हाइट हाउस, उप राष्ट्रपति आदि के ट्विटर खातों के साथ भी होगा।


किम जोंग उन ने लगवाई कोविड-19 वायरस की वैक्सीन : रिपोर्ट

किम जोंग उन ने लगवाई कोविड-19 वायरस की वैक्सीन : रिपोर्ट

उत्तर कोरिया के सुप्रीम लीडर किम जोंग उन ने गुपचुप ढंग से कोविड-19 वायरस की वैक्सीन लगवा ली है. 19fortyfive.com ने जापान के दो खुफिया सूत्रों के हवाले से किम जोंग के वैक्सीन लगवाने का दावा किया है. इस रिपोर्ट के अनुसार, किम जोंग उन के साथ-साथ उत्तर कोरिया के कई उच्चाधिकारियों और स्वयं किम के परिवार के लोगों ने भी कोविड-19 का टीका लगवा लिया है.

इस रिपोर्ट में इस बात का भी खुलासा किया गया है कि चाइना सरकार ने गुप्त ढंग से उत्तर कोरिया को कोविड-19 वैक्सीन की आपूर्ति की है. बीते दो से तीन हफ्ते के अंदर ही किम जोंग और दूसरे लोगों को वैक्सीन लगाई है. इससे पहले एक रिपोर्ट में यह भी दावा किया गया था कि एस्ट्राजेनेका की वैक्सीन का डाटा हैक करने के पीछे उत्तर कोरिया पर शक जताया जा रहा है. बता दें कि उत्तर कोरिया में कोविड-19 का प्रकोप चरम पर है.

हालांकि आधिकारिक तौर पर देश में कोविड-19 मरीजों की तादाद कितनी है, इसका कोई आंकड़ा नहीं है. उत्तर कोरिया की एक बड़ी आबादी पहले से ही गरीबी की मार झेल रही है और कोविड-19 के बाद देश में आर्थिक स्थिति ठीक नहीं चल रहे हैं. वहीं उत्तर कोरिया कई तरह के वित्तीय प्रतिबंधों का भी सामना कर रहा है. जनवरी में उत्तर कोरिया ने अपनी सीमाएं सील कर दी थीं. पिछले महीने एक रिपोर्ट में यह भी दावा किया गया था कि उत्तर कोरिया ने कोविड-19 संक्रमियों को गोपनीय कैंप में भूखे मरने के लिए छोड़ दिया था.


जानिए क्या कहती हैं आज के दिन की आपकी राशि?       भाग्यशाली होता है वो लोग जिसकी अनामिका उंगली होती है ऐसी       ज्योतिषीय के इन उपायों से पति-पत्नी में बढ़ता है प्रेम, बनी रहती है सुख-समृद्धि       लड़कियों के खुले बाल बन सकते है उनकी बर्बादी का कारण       जल्द ही धनवान बनने के संकेत देती है ये चीज़ें       मामा शकुनी के पासे का रहस्य, क्यों मानते थे उसकी बात       ऐसे इस्तेमाल करें काले घोड़े की नाल, हमेशा के लिए दूर हो जाएंगे जीवन के सभी दुख       बेहद भाग्यशाली लोगों की हथेलियों पर बनते हैं ऐसे निशान       कहीं इस दिशा में तो नहीं लगी आपके घर या ऑफिस में घड़ी, वरना...       वो संकेत जो बताते है घर से बहार कुछ अच्छा होने वाला है आपके साथ       बुरे काम करने वालों को इन नर्कों में दी जाती है सजा       सांपों को मारने की न करें गलती, ऐसे भुगतनी पड़ सकती है इस पाप की सजा       सुबह आंख खुलते ही सबसे पहले करें ये काम       बाल कटवाना है तो हफ्ते में इन दो दिन कटवाएं, हमेशा के लिए दूर हो जाएगी पैसों की दिक्कत       धनवान बनने का संकेत देते हैं शरीर के इन हिस्सों पर बने तिल       पूजा अनुष्ठानों में आम के पत्तों का क्यों करते है प्रयोग ?       इन जगहों पर सुबह-शाम दीपक जलाने से मिलते है अद्भुत लाभ       किसी भी व्यक्ति का अंगूठा देखकर जान सकते हैं उसके नेचर और फ्यूचर से जुड़ी ये बातें       स्वप्न शास्त्र के अनुसार इन सपनों से मिलते हैं गरीबी दूर होने के संकेत       बहुत ही अशुभ हैं ऐसे सपने आना, अगर दिख जाये तो हो जाएं सावधान!