अगर नाक पर इस जगह है तिल तो सौभाग्यशाली है वो महिलाएं

अगर नाक पर इस जगह है तिल तो सौभाग्यशाली है वो महिलाएं

महिलाओं के शरीर पर मौजूद तिल उनके बारे में हर चीज को दर्शाते है। इतना ही नही आप महिलाओं के इन तिलों को देखकर उसके बारे में बहुत सी बातें पता कर सकते हैं। आज हम आपसे महिलाओं के शरीर पर मौजूद इसी तिल के बारे में बात कर रहे हैं जो उनके बारे में सच्चाई बंया करते हैं।

सच्चाई बयां करते है तिल:

# नाक की फ्रंट साइड में हो तिल: जिन लोगों की नाक के अगले हिस्से पर, यानी फ्रंट साइड पर तिल होता है, वे लोग अनेक कलाओं के जानकार होते हैं। इन्हें नयी-नयी चीज़ें सीखने का बड़ा ही शौक होता है। धन की भी इन्हें कोई कमी नहीं होती। धनवान होने के साथ-साथ ये बड़े ही सौभाग्यशाली भी होते हैं। 

# नाक में दाई ओर तिल: जिनकी नाक के दायीं तरफ तिल होता है। नाक के दायीं तरफ तिल वाले लोग बड़े ही सुन्दर और सौभाग्यशाली होते हैं। संतान का सुख भी इन्हें मिलता है। नाक के दायीं तरफ तिल वाली महिलाओं को मायके पक्ष से पूरा साथ मिलता है।

# बाई ओर हो तिल- जिनकी नाक के बायीं तरफ तिल हो, ऐसे लोग अपने जीवनसाथी के साथ प्रेम-पूर्वक रहते हैं। इनका दाम्पत्य जीवन बड़ा ही सुख से बीतता है। अगर ये लोग अपनी मेहनत के बल पर कोशिश करें, तो इन्हें अच्छे पद पर नौकरी मिलने की भी पूरी संभावना रहती है।


आज विनायक चतुर्थी, नोट कर लें गणपति महाराज की पूजा का सबसे शुभ समय

आज विनायक चतुर्थी, नोट कर लें गणपति महाराज की पूजा का सबसे शुभ समय

Panchang Today : मार्गशीर्ष शुक्ल पक्ष चतुर्थी, आनन्द संवत्सर विक्रम संवत 2078, शक संवत 1943 (प्लव संवत्सर),मार्गशीर्ष। चतुर्थी तिथि 7 दिसंबर सुबह 11 बजकर 40 मिनट तक उपरांत पंचमी। नक्षत्र उत्तराषाढा 8 दिसंबर मध्य रात्रि 12 बजकर 12 मिनट तक उपरांत श्रवण। वृद्धि योग शाम 04 बजकर 24 मिनट तक, उसके बाद धुव्र योग। करण वणिज दोपहर 01 बजकर 02 मिनट तक, बाद विष्टि रात्रि 11 बजकर 40 मिनट तक, बाद बव। चंद्रमा 7 दिसंबर सुबह 7 बजकर 44 मिनट तक धनु राशि में उपरांत  मकर राशि पर संचार करेगा।

आज का व्रत, त्योहार- विनायक चतुर्थी

सूर्य और चंद्रमा का समय-

सूर्योदय - 7:01 AM
सूर्यास्त - 5:24 PM
चन्द्रोदय - 10:10 AM
चन्द्रास्त - 08:40 PM

आज के शुभ मुहूर्त-

  • ब्रह्म मुहूर्त- 05:12 ए एम से 06:06 ए एम
  • प्रातः सन्ध्या- 05:39 ए एम से 07:01 ए एम
  • अभिजित मुहूर्त- 11:52 ए एम से 12:33 पी एम
  • विजय मुहूर्त- 01:56 पी एम से 02:38 पी एम
  • गोधूलि मुहूर्त- 05:14 पी एम से 05:38 पी एम
  • सायाह्न सन्ध्या- 05:24 पी एम से 06:46 पी एम
  • अमृत काल- 06:22 पी एम से 07:49 पी एम\
  • निशिता मुहूर्त- 11:46 पी एम से 12:40 ए एम, दिसम्बर 08
  • रवि योग- 07:01 ए एम से 12:12 ए एम, दिसम्बर 08

आज के अशुभ मुहूर्त-

राहुकाल- 02:48 पी एम से 04:06 पी एम

यमगण्ड- 09:37 ए एम से 10:55 ए एम

गुलिक काल- 12:13 पी एम से 01:31 पी एम

विडाल योग- 01:40 ए एम, दिसम्बर 08 से 07:02 ए एम, दिसम्बर 08

वर्ज्य- 09:37 ए एम से 11:04 ए एम

दुर्मुहूर्त- 09:06 ए एम से 09:47 ए एम, 03:56 ए एम, दिसम्बर 08 से 05:26 ए एम, दिसम्बर 08, 10:51 पी एम से 11:46 पी एम

बाण- अग्नि - 07:27 ए एम तक

भद्रा- 01:02 पी एम से 11:40 पी एम