अक्सर हमारे भाग्य को चमकाती है ये खानपान की चीजें

अक्सर हमारे भाग्य को चमकाती है ये खानपान की चीजें

आज भी इंसान अपने आप से डरता है उसे विश्वास नहीं होता क्या वह सही कर रहा है। इसलिए वह अन्धविश्वास का सहारा लेता है। अंधविश्वासी विश्वास अक्सर किसी देश के सांस्कृतिक माहौल से जुड़ा हुआ है। कुछ अंधविश्वास सकारात्मक हैं जो आपके आत्मविश्वास को बढ़ा सकते हैं या अच्छे भाग्य ला सकते हैं जबकि कुछ नकारात्मक काम कर सकते हैं। 

ये है कुछ दिलचस्प अंधविश्वास:

नीबू: यदि आप नीबू और मिर्च को एक साथ बांधते हैं तो बुरी नजरें दूर रहेंगी। भारत में, लोग आमतौर पर दुकानों, कार्यस्थलों और यहां तक कि घर के दरवाजे पर इसे टांग दिया करते हैं।

दही और चीनी: चीनी और दही के संयोजन को एक अच्छा शकुन माना जाता है और आमतौर पर लोगों को इसे छोटी-मोटी या लंबी यात्राओं, परीक्षा के समय, साक्षात्कार में जाने से पहले इसे खाते हैं।

नमक: ऐसा माना जाता है कि अगर नमक गलती से भी नीचे गिर जाए तो वह दुर्भाग्य ला सकता है। इसे फेंकने से पहले पानी से बाहर घोलना चाहिए। 

तेल: भारतीय संस्कृति के मुताबिक, लंबी यात्रा के दौरान तेल या अचार ले जाना अपशकुन वाला काम है। इसलिए इस संयोजन को यात्रा के दौरान ले जाने से बचना चाहिए।

घी: हिंदू धर्म में घी को पवित्र माना जाता है।इसका उपयोग दीपक को जलाने में किया जाता है ताकि घर की नकारात्मक ऊर्जा को दूर किया जा सके और सकारात्मकता और खुशी लाई जा सके।

मिर्च: भारतीय मान्यतानुसार, मिर्च प्रभावित व्यक्ति से बुरी नजर को मिटा सकती है। आप इससे साथ असहमत हो सकते हैं, लेकिन यह अभ्यास दुनिया भर में कई धर्मों और समुदायों द्वारा किया जाता है।


आज विनायक चतुर्थी, नोट कर लें गणपति महाराज की पूजा का सबसे शुभ समय

आज विनायक चतुर्थी, नोट कर लें गणपति महाराज की पूजा का सबसे शुभ समय

Panchang Today : मार्गशीर्ष शुक्ल पक्ष चतुर्थी, आनन्द संवत्सर विक्रम संवत 2078, शक संवत 1943 (प्लव संवत्सर),मार्गशीर्ष। चतुर्थी तिथि 7 दिसंबर सुबह 11 बजकर 40 मिनट तक उपरांत पंचमी। नक्षत्र उत्तराषाढा 8 दिसंबर मध्य रात्रि 12 बजकर 12 मिनट तक उपरांत श्रवण। वृद्धि योग शाम 04 बजकर 24 मिनट तक, उसके बाद धुव्र योग। करण वणिज दोपहर 01 बजकर 02 मिनट तक, बाद विष्टि रात्रि 11 बजकर 40 मिनट तक, बाद बव। चंद्रमा 7 दिसंबर सुबह 7 बजकर 44 मिनट तक धनु राशि में उपरांत  मकर राशि पर संचार करेगा।

आज का व्रत, त्योहार- विनायक चतुर्थी

सूर्य और चंद्रमा का समय-

सूर्योदय - 7:01 AM
सूर्यास्त - 5:24 PM
चन्द्रोदय - 10:10 AM
चन्द्रास्त - 08:40 PM

आज के शुभ मुहूर्त-

  • ब्रह्म मुहूर्त- 05:12 ए एम से 06:06 ए एम
  • प्रातः सन्ध्या- 05:39 ए एम से 07:01 ए एम
  • अभिजित मुहूर्त- 11:52 ए एम से 12:33 पी एम
  • विजय मुहूर्त- 01:56 पी एम से 02:38 पी एम
  • गोधूलि मुहूर्त- 05:14 पी एम से 05:38 पी एम
  • सायाह्न सन्ध्या- 05:24 पी एम से 06:46 पी एम
  • अमृत काल- 06:22 पी एम से 07:49 पी एम\
  • निशिता मुहूर्त- 11:46 पी एम से 12:40 ए एम, दिसम्बर 08
  • रवि योग- 07:01 ए एम से 12:12 ए एम, दिसम्बर 08

आज के अशुभ मुहूर्त-

राहुकाल- 02:48 पी एम से 04:06 पी एम

यमगण्ड- 09:37 ए एम से 10:55 ए एम

गुलिक काल- 12:13 पी एम से 01:31 पी एम

विडाल योग- 01:40 ए एम, दिसम्बर 08 से 07:02 ए एम, दिसम्बर 08

वर्ज्य- 09:37 ए एम से 11:04 ए एम

दुर्मुहूर्त- 09:06 ए एम से 09:47 ए एम, 03:56 ए एम, दिसम्बर 08 से 05:26 ए एम, दिसम्बर 08, 10:51 पी एम से 11:46 पी एम

बाण- अग्नि - 07:27 ए एम तक

भद्रा- 01:02 पी एम से 11:40 पी एम