क्यों करने पड़े थे बाल ब्रह्मचारी हनुमान जी को 3 विवाह

क्यों करने पड़े थे बाल ब्रह्मचारी हनुमान जी को 3 विवाह

हिंदू शास्त्रों के अनुसार, पवनपुत्र हनुमान बाल ब्रह्मचारी थे। उन्होंने जीवन भर ब्रह्मचर्य धर्म का पालन किया और प्रभु श्री राम की सेवा की। लेकिन कई जगहों पर उनके विवाह का वर्णन किया गया है। आंध्रप्रदेश में हनुमान जी का एक ऐसा मंदिर है जहां उनकी पत्नी के साथ उनकी मूर्ति स्थापित है। यह एकमात्र ही ऐसा मंदिर है जो हनुमान जी के विवाह का प्रतीक माना जाता है। हनुमान जी के विवाह को लेकर 3 पौराणिक कथाएं प्रचलित हैं जिनकी जानकारी हम आपको यहां द रहे हैं।

पहली कथा के अनुसार, पराशर संहिता में सूर्य की पुत्री सुवर्चला और हनुमान जी के विवाह का उल्लेख किया गया है। हनुमान जी सूर्यदेव के शिष्य थे। सूर्यदेव चाहते थे कि वो हनुमान जी को 9 विद्याओं का ज्ञान दें। इनमें से 5 विद्याएं तो हनुमान जी ने सीख ली थीं। लेकिन बाकी की 4 विद्याओं के लिए उन्हें विवाह करना अनिवार्य था। ऐसे में स्थिति को देखते हुए सूर्य देवता ने अपनी पुत्री का विवाह हनुमान जी के साथ संपन्न करा दिया। लेकिन विवाह के बाद सुवर्चला सदा के लिए तपस्या में लीन हो गईं और हनुमान जी ब्रह्मचारी रहे।


दूसरी कथा के अनुसार, रावण की दुहिता अनंगकुसुमा के साथ हनुमान जी का विवाह हुआ था। इसका उल्लेख पउम चरित से मिलता है। इसके अनुसार, रावण और वरुण देव के बीच जब युद्ध हुआ था तब हनुमान जी वरुण देव की तरफ थे। हनुमान जी से युद्ध में रावण की हार हुई। हारने के बाद रावण ने अपनी दुहिता अनंगकुसुमा का विवाह हनुमान जी से कर दिया।

तीसरी कथा के अनुसार, वरुण देव की पुत्री सत्यवती से हनुमान जी का विवाह हुआ था। जब रावण और वरुण देव के बीच युद्ध हो रहा था तब हनुमान जी के चलते ही वरुण देव को विजय प्राप्त हुई थी। इससे प्रसन्न होकर उन्होंने अपनी पुत्री सत्यवती का विवाह हनुमान जी से कर दिया था।


इन सब के साथ यह कहा जाता है कि हनुमान जी ने विवाह तो किया लेकिन कभी विवाहित जीवन व्यतीत नहीं किया इसलिए उन्हें आज भी ब्रह्मचारी ही कहा जाता है।


नवरात्रि में दुर्गा सप्तशती के इन प्रभावी मंत्रों का करें जप, होगी आदिशक्ति की कृपा

नवरात्रि में दुर्गा सप्तशती के इन प्रभावी मंत्रों का करें जप, होगी आदिशक्ति की कृपा

चैत्र नवरात्रि का पावन पर्व 13 अप्रैल दिन मंगलवार से शुरु हो चुका है। आज नवरात्रि का दूसरा दिन है। आज के दिन मां दुर्गा के ब्रह्मचारिणी स्वरूप की विधि विधान से पूजा की जाती है। नवरात्रि के समय में दुर्गा सप्तशती का पाठ किया जाता है। दुर्गा सप्तशती में हर उद्देश्य की पूर्ति के लिए विशेष और प्रभावी मंत्र दिए गए हैं। नवरात्रि में दुर्गा सप्तशती के इन प्रभावी मंत्रों का जाप करके आप अपनी मनोकामना की पूर्ति कर सकते हैं। जागरण अध्यात्म में आज हम आपको दुर्गा सप्तशती के प्रभावी मंत्रों के बारे में बता रहे हैं, इसमें कल्याण के लिए मंत्र, आरोग्य एवं सौभाग्य की प्राप्ति के लिए मंत्र, रक्षा के लिए मंत्र, रोग नाश के लिए मंत्र, विपत्ति नाश और शुभता के लिए मंत्र और शक्ति प्राप्ति के लिए मंत्र दिया गया है।

1. कल्याण के लिए मंत्र

सर्वमंगलमांगल्ये शिवे सर्वार्थसाधिके।


शरण्ये त्र्यम्बके गौरी नारायणि नमोस्तु ते।।

2. आरोग्य एवं सौभाग्य की प्राप्ति के लिए मंत्र

देहि सौभाग्यमारोग्यं देहि मे परमं सुखम्।

रूपं देहि जयं देहि यशो देहि द्विषो जहि।।

3. रक्षा के लिए मंत्र

शूलेन पाहि नो देवि पाहि खड्गेन चाम्बिके।

घण्टास्वनेन न: पाहि चापज्यानि:स्वनेन च।।

4. रोग नाश के लिए मंत्र

रोगानशेषानपहंसि तुष्टा रुष्टा तु कामान् सकलानभीष्टान्।

त्वामाश्रितानां न विपन्नराणां त्वामाश्रिता ह्याश्रयतां प्रयान्ति।।

5. विपत्ति नाश और शुभता के लिए मंत्र

करोतु सा न: शुभहेतुरीश्वरी

शुभानि भद्राण्यभिहन्तु चापद:।

6. शक्ति प्राप्ति के लिए मंत्र

सृष्टिस्थितिविनाशानां शक्तिभूते सनातनि।

गुणाश्रये गुणमये नारायणि नमोस्तु ते।।

दुर्गा सप्तशती के इन मंत्रों का जाप करते समय आपको तन, मन और वचन से शुद्ध होना चाहिए। साथ ही जब भी मंत्र का जप करें तो उसका सही उच्चारण करें। जल्दीबाजी में मंत्रों का जाप न करें। मंत्र का गलत और अशुद्ध जाप करने से आपको लाभ नहीं मिलेगा। इससे आपको नुकसान हो सकता है। मंत्रों का जाप करना हो तो किसी पंडित या ज्योतिषी से सलाह जरूर ले लें।


रिद्धिमा पंडित ने बयां किया मां को खोने का दर्द       कोविड-19 से उबरने के बाद भूमि पेडनेकर बनीं ‘COVID WARRIOR'       गर्मियों में बीमारियों से बचने के लिए ध्यान रखें ये विशेष बातें       राजेश खन्ना के बंगले में जमीन पर बैठते थे डायरेक्टर-प्रोड्यूसर       अथिया शेट्टी ने किया rumoured बॉयफ्रेंड KL Rahul को बर्थडे विश       रिजिजू ने कहा कि टोक्यो ओलंपिक में डबल डिजिट में पदक आने की उम्मीद       कुम्भ मेले से लौटने वाले लोग बढ़ा सकते हैं कोरोना महामारी को : संजय राउत       अखिलेश ने कहा कि लखनऊ कैंसर इंस्टीट्यूट को कोरोना मरीजों के लिए खोले योगी सरकार       राज ठाकरे ने कहा कि प्रवासी मजदूर हैं महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के तेजी से फैलने के लिए जिम्मेदार       योगी सरकार के मंत्री ने ही लखनऊ में कोरोना हालात पर उठाए सवाल, CM पृथक-वास में       किसी वर्ग का नहीं, सबका होता है मुख्यमंत्री: योगी आदित्यनाथ       यूपी में कोरोना का कहर, योगी सरकार ने उठाए ऐहतियाती कदम       रमजान समेत अन्य त्योहारों को लेकर बोले सीएम योगी       उत्तरप्रदेश में टूटा Corona का कहर, एक दिन में मिला इतने नए केस       दिल्ली के बाद UP में भी लगा Lockdown, बंद रहेंगे सभी बाजार और दफ्तर       High Level मीटिंग के दौरान Nude दिखे कनाडा के सांसद       हवा के जरिए फैलता है कोरोना, 'द लांसेट' की रिपोर्ट में मिले पक्के सबूत       कोरोना वायरस रोधी टीके है कम असरदार, चीन के अधिकारी का दावा       रेप की घटनाओं पर इमरान खान का बेतुका बयान, कहा...       फ्रांस से तीन और राफेल विमान बिना रुके पहुंचे भारत