दूल्हा-दुल्हन को शादी के पहले क्यों लगाया जाता है हल्दी का उबटन

दूल्हा-दुल्हन को शादी के पहले क्यों लगाया जाता है हल्दी का उबटन

दूल्हा-दुल्हन को शादी के समय कई तरह की रस्में निभानी पड़ती है। जिनके बिना शादी अधूरी मानी जाती है। इन्ही रस्मों से एक है हल्दी की रस्म जो सबसे पहले की जाती है। हल्दी का लेप लगाने से कई तरह के फायदे होते है। इस रस्म को पूरा करने के लिए हल्दी के उबटन में चंदन, बेसन और कई सुगंधि‍त तेल मिलाए जाते है। जो त्वचा में चमक लाने का काम करते है। 

क्यों लगाया जाता है हल्दी का उबटन

हल्दी का उपयोग काफी लंबे समय से त्वचा के निखार के लिए होता आ रहा है। यह एक औषधिय जड़ी बूटी है इसका इस्तेमाल करने से त्वचा संबंधी रोगो को दूर करने के लिए किया जाता है।

हल्दी से चेहरे के दाग धब्बे दूर रहते है। ताकि चेहरे के सारे दाग-धब्बे दूर हो जाएं। इसे शादी से पहले इसलिए लगाया जाता है ताकि इसका उपयोग करने से चहरे में प्राकृतिक चमक आ जाए।

सर्दी और गर्मी हर मौसम में त्वचा सनटैन हो जाती है। यह सभी समस्याए सूरज की हानिकारक यूवी किरणों की वजह से होती है। और इसे हल्दी की मदद से दूर किया जा सकता है।

शादी के दौरान काफी काम आ जाने से तनाव, नींद का पूरा ना होना, और पानी की कमी से चेहरे पर डार्क सर्कल्स हो जाते हैं। इस समस्या को दूर करने के लिए हल्दी का लेप काफी अच्छा उपचार माना गया है।


भगवान को भोग लगाना हो या मेहमानों को डेजर्ट में कुछ अलग खिलाना हो 'कोकोनट हलवा' है एकदम बेस्ट

भगवान को भोग लगाना हो या मेहमानों को डेजर्ट में कुछ अलग खिलाना हो 'कोकोनट हलवा' है एकदम बेस्ट

सामग्री :

1 ताजा नारियल, 1/4 कप कंडेंस्ड मिल्क, 2 कप दूध, 3-4 टेबलस्पून या स्वादानुसार चीनी, 4 टेबलस्पून शुद्ध घी, 1/2 टीस्पून छोटी इलायची पाउडर, थोड़े से ग्लेज्‍ड चेरी, बादाम, गुलाब की पंखुड़ियां और सिल्वर बॉल्स सजाने के लिए

विधि :

सबसे पहले नारियल को छीलकर फोड़ लें। फिर उसके ऊपरी काले हिस्से को छीलकर अलग कर दें।
अब सफेद हिस्से को मिक्सी में पीस लें।
फिर एक नॉनस्टिक पैन में घी गर्म करें।
उसमें नारियल को 2-3 मिनट तक मीडियम आंच पर हलका सा भूनें।
ध्यान रहे नारियल भूनते समय उसका रंग नहीं बदले।
नारियल भूनने पर उसमें पहले कंडेंस्ड मिल्क, फिर दूध डालें और लगातार चलाते हुए मिश्रण को पकाएं। दूध जब गाढ़ा हो जाए तो उसमें चीनी और इलायची पाउडर डालें।
अब चीनी घुलने और मिश्रण गाढ़ा होने तक हलवे को पकाएं।
बोल में हलवा निकालें और ग्लेज्ड चेरी, सिल्वर बॉल्स, गुलाब की पंखुड़ियों और बादाम से गार्निश करें।