गणपति बप्पा की इस आरती के साथ करें गणेश विसर्जन, पूरी होगी सभी मनोकामना

गणपति बप्पा की इस आरती के साथ करें गणेश विसर्जन, पूरी होगी सभी मनोकामना

अनंत चतुर्दशी, गणेशोत्सव का अंतिम दिन होता है। विधि के अनुसार इस दिन गणपति बप्पा की प्रतिमाओं का विसर्जन किया जाता है। गणेश चतुर्थी के दिन से शुरू हुए गणेश उत्सव का समापन अनंत चतुर्दशी के पूजन के साथ होता है। इस साल अनंत चतुर्दशी का पर्व 19 सितंबर, दिन रविवार को पड़ रहा है। इस दिन भक्त विधि पूर्वक भगवान गणेश का पूजन कर उनकी प्रतिमाओं का विसर्जन करते हैं। मान्यता है कि गणपति बप्पा दस दिनों तक हमारे घरों में रह कर उन्हें सुख और सौभाग्य से भर देते हैं और हमारे सारे दुख और विघ्न अपने साथ ले जाते हैं। अनंत चतुर्दशी के दिन प्रतिमा विसर्जन के पहले कपूर जला कर भगवान गणेश की ये आरती जरूर करनी चाहिए। गणपति बप्पा मोरया के जयघोष के बीच अगले बरस फिर आने की कामना के साथ गणपति का विसर्जन करें।

गणपति बप्पा की आरती

सुखकर्ता दुःखहर्ता वार्ता विघ्नाची

नुरवी पुरवी प्रेम कृपा जयाची

सर्वांगी सुंदर उटी शेंदुराची

कंठी झलके माल मुक्ता फलांची |

जयदेव जयदेव जयदेव जयदेव

जयदेव जयदेव जय मंगलमूर्ति

दर्शन मात्रे मन कामना पूर्ती |

जयदेव जयदेव जयदेव जयदेव

रत्नखचित फरा तुज गौरीकुमरा

चंदनाची उटी कुमकुम केशरा

हीरे जड़ित मुकुट शोभतो बरा

रुणझुणती नूपुरे चरणी घागरिया |

जयदेव जयदेव जयदेव जयदेव


जयदेव जयदेव जय मंगलमूर्ति

दर्शन मात्रे मन कामना पूर्ती |

जयदेव जयदेव जयदेव जयदेव

लम्बोदर पीताम्बर फणिवर बंधना

सरल सोंड वक्र तुंड त्रिनयना

दास रामाचा वाट पाहे सदना

संकटी पावावे निर्वाणी रक्षावे सुर वर वंदना |

जयदेव जयदेव जयदेव जयदेव

जयदेव जयदेव जय मंगलमूर्ति

दर्शन मात्रे मन कामना पूर्ती |

जयदेव जयदेव जयदेव जयदेव


अगर आपके पास आकर बैठ जाए यह पक्षी तो समझ लीजिये...

अगर आपके पास आकर बैठ जाए यह पक्षी तो समझ लीजिये...

इंसान की मृत्यु एक सार्वभौमिक क्रिया हैं जिसका हर किसी के साथ होना तय है। ऐसे में फिर भी सभी को मौत का भय सताता रहता है और सभी मौत से डरते हैंमौत का संकेत ऐसे में क्या आप जानते हैं कि मौत का पता कैसे चल सकता है, अगर नहीं तो आज हम आपको बताते हैं कि शिवपुराण में इसके संकेतों के बारे में बताया गया है। 

मिलते है ये संकेत:

# शिवपुराण के अनुसार जिस व्यक्ति के सिर पर गिद्ध, कौवा या कबूतर आकर बैठ जाता है उसकी मौत एक महीने में होना तय होती है।

# अगर किसी व्यक्ति का शरीर अचानक पीला व सफेद पड़ जाए अौर लाल निशान दिखाई दे तो समझ जाइए कि व्यक्ति की मृत्यु 6 महीने के भीतर होने वाली है।

# जिस मनुष्य की आंख, कान, मुंह अौर जीभ ठीक से काम न करें उसकी भी मृत्यु 6 महीने के अंदर होना तय होती है।

# जिस व्यक्ति को चंद्रमा या सूर्य के आस-पास काला या लाल घेरा दिखाई देने लगे तो समझ जाएं उस इंसान की मौत 15 दिन के अंदर होने वाली है।

# जब किसी इंसान को जल, घी, तेल या दर्पण में अपनी परछाई न दिखाई दें तो उसकी आयु 6 महीने से अधिक नहीं रहती है और वह मरने वाला होता है।