सोशल मीडिया पर एक पत्रकार ने सीएम योगी पर की आपत्तिजनक टिप्पणी

सोशल मीडिया पर एक पत्रकार  ने सीएम योगी पर की  आपत्तिजनक टिप्पणी

सोशल मीडिया कब किसके लिए मुश्किलें खड़ी कर दे, यह बोलना उतना ही कठिन है जितना की यह बोलना कि यह कब किसे फेमस बना दे।

हाल ही में यही सोशल मीडिया एक पत्रकार के लिए तब कठिन का सबब बन गया, जब उसने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ के विरूद्ध सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक टिप्पणी की, जिसके बाद पुलिस ने स्वतंत्र पत्रकार को अरैस्ट कर लिया है। मिली जानकारी के मुताबिक पत्रकार का नाम प्रशांत कन्नौजिया है। जो वैसे स्वतंत्र पत्रकार के रूप में कार्य कर रहे हैं।

पत्रकार प्रशांत कन्नौजिया पर सीएम योगी आदित्यनाथ के विरूद्ध सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट साझा करने को लेकर मुद्दा पंजीकृत किया गया है। यूपी के एक पुलिस ऑफिसर ने मुद्दे की जानकारी देते हुए बोला कि प्रशांत कन्नौजिया को यूपी पुलिस ने दिल्ली में उनके घर से अरैस्ट कर लिया है। कन्नौजिया पर हजरतगंज थाने में शुक्रवार रात में एक सब इंस्पेक्टर ने एफआईआर पंजीकृत कराई है। इस एफआईआर में सब इंस्पेक्टर ने आरोप लगाया गया है कि आरोपी ने सीएम के विरूद्ध आपत्तिजनक टिप्पणी की है व उनकी छवि धूमिल करने की प्रयास की है।

प्रशांत ने 6 जून को अपने ट्विटर हैंडल पर ‘इश्क छुपता नहीं छुपाने से योगी जी’ पोस्ट की थी। साथ ही एक वीडियो अपलोड किया था, जिसमें एक युवती सीएम ऑफिस के बाहर खड़ी होकर खुद की योगी आदित्यनाथ की प्रेमिका बता रही थी। प्रशांत इससे पहले भी योगी आदित्यनाथ पर उनके जन्मदिन पर टिप्पणी कर चुका है। उधर प्रशांत की पत्नी जगीशा पुलिस की कार्रवाई पर भी सवाल उठा रही हैं। उन्होंने बोला कि पुलिस ने जानबूझकर प्रशांत को हिरासत में लिया है।