राजस्‍थान कांग्रेस में लोकसभा चुनाव में हार के बाद खुलकर सामने आई अंदरूनी कलह

राजस्‍थान कांग्रेस में लोकसभा चुनाव में हार के बाद खुलकर सामने आई अंदरूनी कलह

राजस्‍थान कांग्रेस में लोकसभा चुनाव में हार के बाद अंदरूनी कलह खुलकर सामने आ रही है. पार्टी के एक विधायक पृथ्‍वीराज मीणा ने सचिन पायलट को मुख्‍यमंत्री बनाने की मांग कर दी है. मीणा ने कहा कि मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत को चुनाव में हुई हार की जिम्‍मेदारी लेनी चाहिए. राजस्‍थान की 25 लोकसभा सीटों पर कांग्रेस का सूपड़ा साफ हो चुका है. इसी के बाद यहां पर खेमेबाजी जारी है.

मीणा ने प्रदेश कांग्रेस मुख्‍यालय में मीडिया से कहा, " जब पार्टी सत्ता में होती है जो हार की जिम्मेदारी मुख्यमंत्री की होती है और अगर पार्टी विपक्ष में होती है जो यह जिम्मेदारी पार्टी अध्यक्ष की रहती है. " उन्‍होंने पायलट को सीएम बनाने की मांग को अपनी 'निजी राय' बताया. मीणा ने कहा कि पायलट की बदौलत ही कांग्रेस विधानसभा चुनाव जीतने में कामयाब रही.

हालांकि 5 जून को, अशोक गहलोत और सचिन पायलट राजस्‍थान कांग्रेस कमेटी द्वारा आयोजित रोजा इफ्तार के दौरान एकसाथ दिखे. इससे कुछ घंटे पहले ही एक टीवी साक्षात्कार में गहलोत ने पायलट को जोधपुर से उनके बेटे की हार का जिम्मेदार ठहराया था.

ऐसी ख़बरें थीं कि पार्टी की शीर्ष इकाई की बैठक में राहुल गांधी ने गहलोत, मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ और पूर्व वित्तमंत्री व पार्टी के वरिष्ठ नेता पी. चिदंबरम पर उनके बेटों को तरजीह देने के लिए निशाना साधा था.