जानिए मौसम विभाग ने इस दो राज्यों को दी भारी तूफान आने की चेतावनी

जानिए  मौसम विभाग ने इस दो  राज्यों को दी भारी तूफान आने की चेतावनी

मौसम विभाग ने सोमवार को बोला कि अरब सागर में कम दबाव का क्षेत्र बनने के कारण अगले कुछ दिनों में गुजरात व महाराष्ट्र के विभिन्न हिस्सों खासकर तटीय जिलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गयी है।

विभाग के एक ऑफिसर ने बोला कि अरब सागर में बने कम दबाव के क्षेत्र के गंभीर चक्रवाती तूफान में बदल जाने का अनुमान है। इस तूफान को 'वायु' नाम दिया गया है।

मौसम विभाग ने मछुआरों को अगले कुछ दिनों में समुद्र में नहीं जाने की सलाह दी गई है व बंदरगाहों को खतरे का इशारा देने को बोला गया है। अरब सागर में कम दबाव का क्षेत्र बनने के कारण 13 व 14 जून को सौराष्ट्र तथा कच्छ में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गयी है।

अरब सागर में बना कम दबाव का क्षेत्र सोमवार को करीब 31 किमी प्रति घंटा की गति से उत्तर की ओर बढ़ रहा है। गुजरात व महाराष्ट्र में भीषण गर्मी की चपेट में है।

मौसम विभाग ने केरल, तटीय कर्नाटक व दक्षिणी महाराष्ट्र में 11 जून को 65 से 85 किमी प्रति घंटे की गति से तेज हवायें चलने की संभावना जतायी है। इसके अतिरिक्त 12 व 13 जून को अरब सागर के मध्य पूर्वी व उत्तर पूर्वी क्षेत्रों में 90 से 115 किमी प्रति घंटे की गति से तूफानी हवाओं का प्रभाव दक्षिणी गुजरात व महाराष्ट्र के तटीय इलाकों में 50 से 70 किमी प्रति घंटा की गति से तूफानी हवाओं के रूप में देखने को मिल सकता है।

चक्रवाती अलर्ट के बाद, गुजरात सरकार ने संबंधित सभी विभागों व तटीय जिला कलेक्टरों को अलर्ट किया गया है। एक ऑफिसर ने बोला कि कुल 10 एनडीआरएफ टीमों (पुणे से पांच व भटिंडा से पांच) को गुजरात बुलाया गया है।


महाराष्ट्र में मानसून के कोंकण व मुंबई पहुंचने की उम्मीद है। मुंबई के मौसम विभाग ने कहा, 'आंधी व तेज हवाओं के साथ आंधी, 30-40 किमी प्रति घंटे की गति से ग्रेटर मुंबई के जिलों में अगले चार घंटे में पहुंचने की आसार है। '