जानिए पेट्रोल-डीज़ल की कीमतों में हुआ ये बड़ा बदलाव

जानिए पेट्रोल-डीज़ल की कीमतों में हुआ ये बड़ा बदलाव

घरेलू मार्केट में लगातार दूसरे दिन डीज़ल की कीमतों में गिरावट देखने को मिली है। वहीं, शुक्रवार को पेट्रोल की कीमतें फिर से स्थिर रही है।

Image result for पेट्रोल-डीजल की

एक्सपर्ट्स का बोलना है कि अंतरराष्ट्रीयस्तर पर सस्ता होता कच्चा ऑयल व रुपये में मज़बूती से घरेलू स्तर पर डीज़ल की कीमतें गिर रही है। शुक्रवार (HPCL, BPCL, IOC) की ओर से जारी नए रेट्स के मुताबिक, दिल्ली में एक लीटर पेट्रोल के दाम 72.90 रुपये हैं। वहीं, डीज़ल की कीमतें 66.24 रुपये प्रति लीटर है।

आपकी जानकारी के लिए बताते चलें कि HPCL, BPCL, IOC प्रतिदिन पेट्रोल-डीजल के दामों की समीक्षा के बाद अच्छा प्रातः काल 6 बजे नयी कीमतें जारी करती हैं। ये कीमतें अंतरराष्ट्रीय स्तर पर क्रूड की कीमतों व अमेरिकी डॉलर के भाव से तय होती है। साथ ही, इसमें अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पेट्रोल-डीज़ल की कीमतों का भी ख्याल रखा जाता है।

पेट्रोल-डीज़ल की नयी कीमतें- IOC की ओर से जारी नए रेट्स के मुताबिक, मुंबई में पेट्रोल के दाम 78.52 रुपये प्रति लीटर है। वहीं, डीज़ल के दाम घटकर अब 69.43 रुपये पर आ गए है। कोलकाता में एक लीटर पेट्रोल 75.12 रुपये पर बिक रहा है व डीज़ल सस्ता होकर 68.31 रुपये प्रति लीटर है। इसके अतिरिक्त चेन्नई में एक लीटर पेट्रोल के दाम 75.70 रुपये है वडीज़ल के भाव कम होकर 69.96 रुपये है।

कैसे तय होते हैं पेट्रोल-डीज़ल के दाम- जिस मूल्य पर हम पेट्रोल पंप से पेट्रोल खरीदते हैं उसका करीब 48 प्रतिशत बेस प्राइस यानी आधार मूल्य होता है। इसके बाद बेस मूल्य पर करीब 35 प्रतिशत एक्साइज ड्यूटी, 15 प्रतिशत सेल्स कर व दो प्रतिशत कस्टम ड्यूटी लगाई जाती है।

क्या है ईंधन का बेस प्राइस? ऑयल के बेस प्राइस में कच्चे ऑयल की कीमत, प्रोसेसिंग चार्ज व कच्चे ऑयल को रीफाइन करने वाली रिफाइनरियों का चार्ज शामिल होता है।

अब तक ईंधन को जीएसटी में शामिल नहीं किया गया है। इस वजह से इस पर एक्साइज ड्यूटी भी लगती है व वैट भी। केन्द्र सरकार पेट्रोल की बिक्री पर एक्साइज ड्यूटी वसूलती है, जबकि प्रदेश सरकारें वैट वसूलती हैं।