जानिए पेट की अकड़न दूर करने में मदद करता है ये आसन

जानिए पेट की अकड़न दूर करने में मदद करता है ये आसन

पीएम नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को भद्रासन का वीडियो ट्विटर पर शेयर किया. वीडियो में इसे करने का उपाय व फायदे बताए गए हैं. वीडियो की यह सीरिज़ 21 जून को मनाए जाने वाले अंतराष्ट्रीय योग दिवस का भाग है. मोदी रोज़ाना ट्विटर पर एक वीडियो शेयर कर रहे हैं व लोगों से योग करने की अपील कर रहे हैं.

    • भद्रासन एक विराम सरल है. इस सरल को अंग्रेजी में 'दी ऑस्पीशियस पोज़' के नाम से भी जाना जाता है.
    • इसे करने के लिए सबसे पहले अपने दोनों पैरों को सामने की तरफ फैला कर सीधे बैठें व अपने हाथों को कूल्हे के पास रखें. ध्यान रखें आपके शरीर का वजन हाथों पर न पड़े. इस मुद्रा को दंडासन बोला जाता है.
    • अब दंडासन की स्थिति में धीरे-धीरे सांस छोड़ते हुए अपने पैरों के तलवों को आपस में जोड़ें. अब हाथों को अपने पैरों के अंगूठों पर कसें व धीरे धीरे अपने दोनों पैरों की एड़ियों को जितना संभव हो उतना मूलाधार के पास लाएं.
    • अगर ऐसा करते समाय आपकी जांघें जमीन को न छू रही हों तो आप उनके नीचे तकिया रखकर उन्हें सहारा दे सकते हैं.
    • भद्रासन विराम आसन है यानी लंबे समय तक बैठे रहने की मुद्रा. इसलिए अब इस मुद्रा में आंख बंद करके सामान्य रूप से सांस लें व छोडें. कुछ समय तक इस अवस्था में स्थिर रहें.
    • अब अपनी आंखें खोलें व धीरे-धीरे सांस अंदर लेते हुए व अपने पैरों को सामने की तरफ फैलाते हुए दंडासन की मुद्रा में कुछ समय तक आराम करें.
  1. योग विशेषज्ञ डॉ। नीलोफर से जानिए इसके फायदे

    • शरीर को मजबूत बनता है: यह सरल आपके तन व मन दोनों को ढृढ़ता प्रदान करता है. साथ ही दिमाग को स्थिर करता है.
    • हड्डियां होती हैं मजबूत: यह घुटने व कूल्हे की हड्डियों को मज़बूत बनाता है व घुटने के दर्द को कम करता है.
    • पेट में अकड़न में लाभकारी : यह सरल पेट में होने वाले किसी भी तरह अकड़न या तनाव को कम करने में मददगार है.
    • मासिक धर्म के दर्द में राहत:भद्रासन स्त्रियों के मासिक धर्म के समय होने वाले पेट दर्द में भी राहत देता है.
    • गर्भावस्था में भी लाभकारी: इस आसन को गर्भवती महिलाएं के लिए भी लाभकारी है.
    • सावधानी : गठिया व साइटिका के रोगी यह सरल न करें.