पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी ने अपने ही विधायकों को भेजा जेल, जानिए ये है वजह

पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी ने अपने ही विधायकों को भेजा जेल,  जानिए ये है वजह

तृणमूल कांग्रेस पार्टी (टीएमसी) की जीत सुनिश्चित करने के लिएअभी से रणनीति बनाने में जुट गई हैं। शुक्रवार को इसके लिए उन्‍होंने से मुलाकात की।

Related image

इसके बाद उन्‍होंने कोलकाता में टीएमसी भवन में अपनी पार्टी के विधायकों संग मीटिंग की व उन्‍हें 6 अहम कॉरपोरेट मंत्र दिए। उन्‍होंने इस दौरान बोला कि अगर आप गलती करते हैं तो उसके लिए लोगों से माफी मांगे।

ऐसा पहली बार है कि ममता बनर्जी ने अपने विधायकों को ऐसे कॉरपोरेट आदेश दिए हैं। हालांकि विधायकों व ममता की मीटिंग में प्रशांत किशोर शामिल नहीं थे, लेकिन सूत्रों के मुताबिक ममता की ओर से दिए गए आदेश प्रशांत किशोर की ओर से दिए गए सुझाव हो सकते हैं।

ममता बनर्जी की ओर से विधायकों को दिए गए कॉरपोरेट मंत्र :

1. सभी विधायक इलेक्‍शन मोड से बाहर आ जाएं। चुनाव खत्‍म हो चुके हैं। अब अपना काम जनता के प्रतिनिधि के रूप में करें। अपने विधानसभा क्षेत्र में 7 दिनों से अधिक समय दें।

2. किसी भी टकराव में ना पड़ें। राजनीतिक हिंसा को कम करने की प्रयास करें।

3. प्रशासन व पुलिस पर निर्भर न रहें। अपनी राजनीतिक लड़ाई खुद लड़ें। विवादों से बचें व बाहर आ जाएं। अपना बर्ताव अच्छा रखें।

4. अगर आप कोई गलती करते हैं तो लोगों से माफी मांगें। उनके साथ बैठें व उनसे वार्ता करें।

5. प्रत्‍येक विधानसभा में 4 सदस्‍यीय कमेटी बनाएं। इसमें एक सोशल मीडिया सदस्‍य, विधायक का एक प्रतिनिधि व एक बूथ डेवलपमेंट मैनेजर शामिल हो।

6. गलत बयान या टिप्‍पणी ना दें। अगर कोई बाहर यात्रा पर जाता है तो वह पहले पार्टी को सूचित करे।