हरभजन सिंह ने बताया कि वो क्यों रिकी पोंटिंग पर रहते थे हावी और लेते थे उनका विकेट

हरभजन सिंह ने बताया कि वो क्यों रिकी पोंटिंग पर रहते थे हावी और लेते थे उनका विकेट

नई दिल्ली। ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग का हाथ स्पिनर के खिलाफ थोड़ा तंग था और इस बात का मनोवैज्ञानिक लाभ उठाकर टीम इंडिया के सीनियर स्पिरन हरभजन सिंह ने 2001 में खेले गए टेस्ट सीरीज में उन्हें जल्दी आउट करने में सफलता हासिल की थी। भारत के लिए 103 टेस्ट मैचों में 417 विकेट ले चुके हरभजन सिंह ने टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज पोंटिंग को टेस्ट क्रिकेट में दस बार आउट कर चुके हैं। 2001 में घरेलू टेस्ट सीरीज के दौरान भज्जी ने उन्हें 5 बार आउट किया था। 

हरभजन सिंह रिकी पोंटिंग का एक बल्लेबाज के तौर पर ही नहीं बल्कि एक कोच और गाइड के तौर पर भी काफी सम्मान करते हैं। ये दोनों खिलाड़ी आइपीएल में मुंबई के लिए खेलते हुए ड्रेसिंग रूम भी शेयर कर चुके हैं। भज्जी ने कहा कि इसमें कई शक नहीं है कि वो दुनिया के बेहतरीन बल्लेबाजों में से एक थे जिनके साथ मैं खेला हूं। उन्हें एक ग्रेट बल्लेबाज के तौर पर याद किया जाएगा। एक वक्त ऐसा था जब मैं अपने करियर में पीक पर था और मुझे लगता था कि मैं उनकी बराबरी पर हूं और ऐसा मुझे तब लगने लगा जब मैंने उन्हें एक-दो बार आउट किया। भज्जी ने कहा कि तेज गेंदबाज के खिलाफ बेहतरीन बल्लेबाजी करने वाले पोंटिंग में मुझे कुछ तकनीकी खामी नजर आई थी। मैं देख सकता था कि, जब वो डिफेंस के लिए आगे आते हैं तो वो गेंद की तरफ लपकते हैं और शॉफ्ट हैंड से नहीं खेलते हैं। मुझे लगा कि अपने डिफेंस में वो हार्ड हैंड के साथ आगे आते हैं। 

हरभजन सिंह ने कहा कि गेंद जो उछलती है या उठती है वो उनके बल्ले के टॉप को हिट करेगी और इसकी वजह से मुझे उन्हें बैट-पैट या फिर शॉर्ट लेग व बैकवर्ड शॉर्ट-लेग में कैच करवाने का मौका मिलता था। यही नहीं एक बार मैंने महसूस किया कि वो सच में गेंद को डिफेंड करने में सहज नहीं थे और मैं उनकी इसी कमजोरी पर खेल सकता था। उन्होंने कहा कि, एक कंप्लीट और प्रोपर बैट्समैन बनने के लिए सॉलिड डिफेंस की जरूरत होती है। भज्जी ने रिकी को कई बार अलग-अलग तरीकों से आउट किया था। 

हरभजन सिंह ने पोंटिंग को नजदीकी फील्डर्स के हाथों आउट करवाने के अलावा LBW और स्लिप में भी कैच आउट करवाया। पोंटिंग हरभजन सिंह के खिलाफ टेस्ट में सिर्फ 200 से कुछ ही ज्यादा रन ही बना सके। उन्होंने कहा कि, आपके पास हर तरह से शॉट हो सकते हैं, लेकिन अगर आपका डिफेंस सॉलिड है तभी आप एक परिपक्व बल्लेबाज बन पाते हैं। जब वो तेज गेंदबाजों को खेलते थे तब ऐसा कभी नहीं लगता था कि वो कड़े हाथों से खेल रहे हैं, लेकिन जब आप स्पिनर को खेलते हैं तो आपको सॉफ्ट हैंड से खेलना होता है। मैंने 2001 टेस्ट सीरीज के दौरान उन्हें चार-पांच (पांच बार) आउट किया। 

भज्जी ने कहा कि इसके बाद मैं जब भी उनके खिलाफ खेलता था तो वो माइंड गेम होता था। जब आप किसी गेंदबाज की गेंद पर काफी बार आउट हो चुके हैं तो वो बातें आपके दिमाग में होती हैं। वहीं मुझे ऐसा लगता था कि कंडीशन जो भी हो, सरफेस चाहे कैसा भी हो मैं उन्हें आउट कर सकता हूं और ये काम करता था। हालांकि उन्होंने कहा कि इसमें कोई शक नहीं कि पोंटिंग एक महान बल्लेबाज थे। 


महिलाओं में आयोडीन की कमी भी बन सकती है बांझपन का कारण

महिलाओं में आयोडीन की कमी भी बन सकती है बांझपन का कारण

अक्सर महिलाएं कई समस्याओं से परेशान रहती है महिलाओं में अधिकतर बीमारियाँ प्रजनन सम्बन्धी होती है। महिलाओं में आयोडीन की कमी का अगर समय रहते उपचार न कराया जाए तो गर्भधारण करने में समस्या आना, बांझपन, नवजात शिशु में तंत्रिका तंत्र से संबंधिक गड़बड़ियां होने का खतरा बढ़ जाता है।

प्रजनन तंत्र की कार्यप्रणाली से सीधा संबंध:

महिलाओं में हाइपोथायरॉइडिज्म बांझपन और गर्भपात का सबसे प्रमुख कारण है। जब थायरॉइड ग्लैंड की कार्यप्रणाली धीमी पड़ जाती है, तो वह पर्याप्त मात्रा में हार्मोन का उत्पादन नहीं कर पाती है। जिससे अंडाशयों से अंडों को रिलीज करने में बाधा आती है।


मानव शरीर में आयोडीन एक महत्वपूर्ण माइक्रो-न्यूट्रिएंट्स है। जो थायरॉइड हार्मोन के निर्माण के लिए आवश्यक है। आयोडीन डिफेशियंसी, आयोडीन तत्व की कमी है, यह हमारी डाइट का एक आवश्यक पोषण तत्व है। आयोडीन की कमी से हाइपो थायरॉइडिज्म हो जाता है।


Horoscope 2021: जानिए कैसा रहने वाला नए साल में आपका भविष्य व क्या आएंगी खुशियां ?       ऑल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट कांग्रेस पार्टी ने किसानों का समर्थन करते हुए सरकार को दी यह बड़ी धमकी!       आंदोलन कर रहे किसानों ने नए कृषि कानूनों को निरस्त करने के लिए केन्द्र सरकार को दी यह बड़ी सलाह       झारखंड में अब Covid19 की RT पीसीआर जाँच के लिए करना होगा केवल इतने रूपए खर्च, जाने       आंदोलन कर रहे किसानों ने केन्द्र सरकार को राजधानी की सड़को पर दी यह बड़ी धमकी       एजुकेशन मंत्रालय ने मातृ भाषा में तकनीकी एजुकेशन सहित इन पाठ्यक्रमों को देने के लिए बनाया यह रोडमैप, जाने       भाजपा द्वारा एक करोड़ से अधिक परिवारों तक पहुंचकर ममता बनर्जी की नाकामियों पर चर्चा : दिलीप घोष       सीबीएसई के ऑफिसरों ने 2021 में बोर्ड के औनलाइन संचालन से किया इंकार, जाने अब कैसे होंगी परीक्षाएं        Covid-19 : इम्यूनिटी को बूस्ट करने के लिए यदि आप कर रहे शहद का सेवन तो हो जाए सावधान, जाने       पंजाब के सीएम ने कहा, ‘डरकर केंद्रीय कानूनों की अधिसूचना जारी करने के बजाय केजरीवाल.....       महिला कांस्टेबल पर एसिड अटैक मामले में दोषियों को 14 वर्ष कैद की सजा       ईडी के डर से कैप्टन ने कृषि बिल का नहीं किया विरोध, किसानों को जेल में बंद करने का था केंद्र का प्लान: अरविंद केजरीवाल       किसानों के समर्थन में ट्रांसपोर्टरों ने आठ दिसंबर से उत्तर भारत में परिचालन बंद करने की धमकी दी       भारत में बिकने वाले बड़े ब्रांड के शहद में चीनी शरबत की मिलावट: सीएसई अध्ययन का दावा       असल जिंदगी में उबाऊ हूं मैं, विदेश नीति पढ़ने में बिताती हूं समय - एंजेलिना जोली       किम कार्दशियां ने अपने इंस्टाग्राम और फेसबुक अकाउंट फ्रीज किए       मुझे बचपन में गलत तरीके से छुआ गया था : एजाज खान       बहन श्वेता ने सुशांत का वीडियो शेयर कर न्याय मांग की       कंगना ने कृषि कानून को लेकर किया पीएम मोदी का समर्थन तो जस्सी को आया गुस्सा, बोले...       IND Vs AUS: आखिरी वन-डे जीतकर टीम इंडिया ने बचाई साख, सीरीज 2-1 से ऑस्ट्रेलिया के नाम