IPL में इस नंबर पर है बल्लेबाजी में MS Dhoni नंबर वन

IPL में इस नंबर पर है बल्लेबाजी में MS Dhoni नंबर वन

इंडियन प्रीमियर लीग में महेंद्र सिंह धौनी का जलवा देखने को सभी बेकरार हैं। इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास ले चुके इस धुरंधर के बल्ले से निकलने वाले छक्के की दुनिया दीवानी है। टूर्नामेंट में पांचवें नंबर पर बल्लेबाजी करने के मामले में धौनी बादशाह हैं। इस नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए उनसे ज्यादा रन किसी भी बल्लेबाज ने नहीं बनाए हैं।

आइपीएल के इतिहास में पांचवें नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए धौनी ने सबसे ज्यादा रन बनाए हैं। उनके बाद जिस बल्लेबाज का नाम आता है वो भी भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज ही है। इस नंबर पर सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाजों की लिस्ट पर नजर डाले तो यहां तीन भारतीय बल्लेबाज नजर आएंगे। दो विदेशी खिलाडियों का नाम भी लिस्ट में शामिल है।

IPL में नंबर 5 पर सबसे ज्यादा रन


इस नंबर पर धौनी ने सबसे ज्यादा 1928 रन बनाए हैं। यह रन उन्होंने चेन्नई सुपर किंग्स और पुणे सुपर जाइंट्स की तरफ से खेलते हुए बनाए हैं। दूसरे स्थान पर विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक का नाम आता है। दिल्ली कैपिटल्स, पंजाब किंग्स, रायल चैलेंजर्स बैंगलोर और कोलकाता नाइटराइडर्स की तरफ से खेल चुके इस खिलाड़ी ने 1281 रन बनाए हैं। तीसरे स्थान पर यूसुफ पठान हैं जिनके खाते में पांचवें नंबर पर 1201 रन हैं। चौथा स्थान 1201 रन बनाने वाले डेविड मिलर का है तो 1138 रन बनाने वाले कीरोन पालार्ड हैं।


नंबर 5 पर धौनी है बास 

आइपीएल के इतिहास में नंबर पांच पर बल्लेबाजी करते हुए सबसे ज्यादा रन तो धौनी ने बनाए ही है। उनके नाम पर छक्के और चौके लगाने का भी रिकार्ड दर्ज है। इस नंबर पर सबसे ज्यादा अर्धशतक बनाने वाले बल्लेबाज भी धौनी ही हैं और सबसे बेहतरीन औसत भी इस बल्लेबाजी पोजिशन पर उनका ही है।  


पाकिस्तानी दिग्गज का दावा, कहा- अगर मैं इस्तीफा नहीं देता तो बड़ी समस्या खड़ी हो जाती

पाकिस्तानी दिग्गज का दावा, कहा- अगर मैं इस्तीफा नहीं देता तो बड़ी समस्या खड़ी हो जाती

पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज वकार यूनिस ने हाल ही में टी20 विश्व कप 2021 से पहले पाकिस्तान टीम के गेंदबाजी कोच के पद से इस्तीफा दे दिया था। मुख्य कोच मिस्बाह उल हक ने भी अपना पद छोड़ दिया था। अब इस बारे में वकार यूनिस ने खुल कर बात की है। एक विशेष साक्षात्कार में क्रिकेट पाकिस्तान से बात करते हुए, वकार ने कहा कि पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) में हालिया बदलावों के बाद इस्तीफा देना एक बुद्धिमानी थी।

उन्होंने कहा, "मेरे इस फैसले के पीछे दो से तीन कारण थे। जाहिर है, परिवार के साथ समय बिताना उनमें से एक था जो कोविड-19 के कारण मुश्किल होता जा रहा था। साथ ही, नए पीसीबी अध्यक्ष (रमीज राजा) की नियुक्ति और उनके शासन के बाद यह बुद्धिमानी की बात यह थी, क्योंकि ऐसा लग रहा था कि वह (राजा) एक नया सेटअप लाना चाहते हैं। इसलिए, जब मिस्बाह ने इस्तीफा दिया, तो मैंने उसी का पालन करने का फैसला किया।"

पाकिस्तान टीम के पूर्व दिग्गज वकार यूनिस ने आगे बताया, "अगर हमने यह फैसला नहीं लिया होता तो बड़ी समस्या खड़ी हो जाती। विवाद हो सकता था। मेरे पास क्रिकेट बोर्ड और उसके इतिहास को समझने का पर्याप्त अनुभव है। जब कोई नया सेटअप कार्यभार संभालता है, तो उनके काम करने का अपना तरीका होता है और उन सभी को ध्यान में रखते हुए यह करना एक समझदारी की बात थी।"

उन्होंने अगले महीने शुरू होने वाले मेगा इवेंट में अच्छा प्रदर्शन करने के लिए पाकिस्तान का भी समर्थन किया। वकार ने कहा, "विश्व कप एक छोटा टूर्नामेंट है और अगर आपके खिलाड़ी फार्म में हैं और किस्मत आपका साथ देती है, तो टीम आगे बढ़ सकती है। हमारी गेंदबाजी किसी भी टोटल का बचाव कर सकती है और अगर हम अपनी बल्लेबाजी में कुछ मुद्दों को ठीक कर सकते हैं, तो इस टीम में हर तरह से जाने की क्षमता है।"