भारत की इंग्लैंड पर जीत, मुंबई इंडियंस के लिए फायदेमंद

भारत की इंग्लैंड पर जीत, मुंबई इंडियंस के लिए फायदेमंद

मुंबई: आखिकार भारत की ही जीत हुई, इंग्लैंड को आखिरी टी20 में 36 रन से हराकर भारत ने पांच टी20 की सीरीज 3-2 से जीत ली। भारत ने टी20 सीरीज में लगातार छः बार जीत दर्ज की है। भारतीय टीम की यह जीत अप्रैल से शुरू होने वाले आईपीएल की एक टीम ‘मुंबई इंडियंस’ के लिए बेहतर साबित होगी। अगर आखिरी टी20 की ही बात करें तो भारत की ओर से चार बल्लेबाज उतरे। इसमें से कप्तान विराट कोहली को छोड़ दें, तो बाकी तीन आईपीएल में मुंबई इंडियंस की ओर से खेलते हैं। इन तीनों ने इंग्लैंड के गेंदबाजों को खूब धोया। रोहित शर्मा ने पहले विकेट के लिए विराट के साथ सीरीज की सबसे बड़ी 94 रन की पार्टनरशिप की। उन्होंने 34 गेंद में 188 से ज्यादा की स्ट्राइक रेट से 64 रन बनाए।

टीम इंडिया की इस जीत का ‘मुंबई कनेक्शन’
इसलिए अगर ये कहा जाय की टीम इंडिया की इस जीत का ‘मुंबई कनेक्शन’ है तो गलत नहीं होगा। भारत द्वारा जीते गए इस पांच टी20 की सीरीज में जब भी टीम को जरूरत पड़ी आईपीएल में मुंबई इंडियंस की ओर से खेलने वाले खिलाड़ी उसके काम आए। रोहित की तरह ही सूर्यकुमार यादव भी इस मैच में चमके और उन्होंने सिर्फ 17 गेंदों में ताबड़तोड़ 32 रन ठोके।

भारत ने टी20 में इंग्लैंड के खिलाफ 224 रन का स्कोर खड़ा किया
रही-सही कसर हार्दिक पंड्या ने पूरी कर दी। चार नंबर पर खेलने उतरे पंड्या ने 229 से ज्यादा के स्टाइक रेट से बल्लेबाजी करते हुए 39 रन बनाए। इन तीनों खिलाड़ियों के प्रदर्शन के दम पर ही भारत ने टी20 में इंग्लैंड के खिलाफ सबसे बड़ा 224 रन का स्कोर खड़ा किया।

मुंबई इंडियंस के खिलाड़ीयों ने किया बेहतर प्रदर्शन
ऐसा नहीं है कि इंग्लैंड के खिलाफ सिर्फ आखिरी टी20 में ही मुंबई के ‘इंडियंस’ चमके, बल्कि इस सीरीज में जब भी टीम को जरूरत हुई मुंबई इंडियंस के खिलाड़ी आगे आए। चौथे टी20 में भारत को मिली 8 रन से रोमांचक जीत इसका सबूत है।

तब कोहली के चोटिल होने के कारण रोहित ने मैच के आखिरी 4 ओवर में भारत की कप्तानी की और 24 गेंदों में मैच का पासा पूरी तरह पलट दिया। उस मैच में जब रोहित के हाथों में टीम की कमान आई थी। तब इंग्लैंड को 24 गेंदों में जीत के लिए 46 रन चाहिए थे और उसके 6 विकेट बाकी थी।

लेकिन रोहित ने अपनी कुशल रणनीति के दम पर हारी हुई बाजी पलट दी और इंग्लैंड जीत के लिए मिले 185 रन का टारगेट हासिल नहीं कर पाया। रोहित ने बतौर बल्लेबाज भी अच्छा प्रदर्शन किया। उन्होंने सीरीज के तीन मैच में 144 से ज्यादा के स्ट्राइक रेट से 91 रन बनाए।

मुंबई इंडियंस के सूर्यकुमार सीरीज में 89 रन बनाए
रोहित के अलावा मुंबई इंडियंस की तरफ से खेलने वाले सूर्यकुमार यादव भी इस सीरीज में चमके। उन्होंने सीरीज में सिर्फ दो मैच में बल्लेबाजी की। लेकिन अपनी छाप छोड़ने में सफल रहे। उन्हें चौथे टी20 में पहली बार बल्लेबाजी का मौका मिला और तीन नंबर पर खेलते हुए इस बल्लेबाज ने 57 रन की पारी खेली।

आखिरी टी20 में भी वो रंग में नजर आए और सिर्फ 17 गेंद पर 188.24 के स्ट्राइक रेट से 32 रन बनाए। उनकी ताबड़तोड़ बल्लेबाजी की वजह से ही भारत टी20 में इंग्लैंड के खिलाफ अपना सर्वोच्च स्कोर बनाने में सफल रहा। इस सीरीज में सिर्फ विराट कोहली (115) का औसत ही उनसे अच्छा रहा। सूर्यकुमार ने भले ही सीरीज में 89 रन बनाए। लेकिन ये टीम की जीत में काम आए।

पंड्या ने भी सीरीज में जोरदार वापसी की
मुंबई इंडियंस के ऑलराउंडर हार्दिक पंड्या ने भी इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज जीत में अहम भूमिका निभाई। चोट के बाद वापसी कर रहे हार्दिक ने सीरीज के 5 मैच में 141 के स्ट्राइक रेट से 86 रन बनाए। उन्होंने सीरीज में 17 ओवर गेंदबाजी की और 118 रन देकर तीन विकेट लिए। उनका इकोनॉमी रेट 6.94 रहा, जो सीरीज में भुवनेश्वर कुमार(6.38) के बाद सबसे बेहतर रहा। उन्होंने चौथे और पांचवें टी20 में टीम की जीत में अहम योगदान दिया।

चौथे मुकाबले में हार्दिक ने 4 ओवर में 4 की इकोनॉमी रेट से 16 देकर 2 विकेट झटके, जबकि आखिरी टी20 में 17 गेंद में ताबड़तोड़ 39 रन बनाकर टीम की जीत की नींव रखी।

ईशान किशन की भूमिका को भी नजरअंदाज नहीं किया जा सकता
इस सीरीज में ईशान किशन की भूमिका को भी नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है। मुंबई इंडियंस के इस विकेटकीपर बल्लेबाज ने सीरीज के दो मैच में 60 रन बनाए। इसमें डेब्यू मैच में खेली गई उनकी 56 रन की पारी शामिल है।

उन्होंने सीरीज में 146 के स्ट्राइक रेट से रन बनाए। इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन ने भी इन खिलाड़ियों के प्रदर्शन के कारण कई बार मौजूदा टीम इंडिया की तुलना मुंबई इंडियंस से की। ऐसे में आईपीएल से पहले पांच बार के चैम्पियन मुंबई के लिए तो कम से कम ये अच्छी खबर है।


हरभजन सिंह ने IPL में बतौर स्पिनर सबसे ज्यादा बार की है पारी की शुरुआत, डेब्यू मैच में फेंका पहला ओवर

हरभजन सिंह ने IPL में बतौर स्पिनर सबसे ज्यादा बार की है पारी की शुरुआत, डेब्यू मैच में फेंका पहला ओवर

टीम इंडिया के सीनियर स्पिनर हरभजन सिंह ने आइपीेएल 2021 में केकेआर के लिए डेब्यू किया और पहला मैच हैदराबाद के खिलाफ खेला। इस मैच में हरभजन सिंह को कप्तान इयोन मोर्गन ने पारी का पहला ओवर फेंकने के लिए दिया। हालांकि इसके बाद उन्हें गेंदबाजी करने का मौका नहीं मिल पाया। भज्जी ने एक ओवर में 8 रन दिए और अच्छी शुरुआत की और उनके इस ओवर की चौथी गेंद पर पैट कमिंस ने डेविड वार्नर का कैच छोड़ दिया था। 

हरभजन सिंह इससे पहले भी आइपीएल में कई टीमों का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं और ये पहला मौका नहीं था जब बतौर स्पिनर उन्होंने पारी का पहला ओवर फेंका है। दरअसल इस लीग में वो स्पिनर के तौर पर वो पारी का पहला ओवर फेंकने के मामले में सबसे उपर हैं और हैदराबाद के खिलाफ 36वीं बार उन्होंने ऐसा किया था। बतौर स्पिनर आइपीएल में किसी पारी में पहला ओवर फेंकने के मामले में भज्जी के बाद दूसरे नंबर पर आर अश्विन हैं जिन्होंने 33 बार ऐसा किया है जबकि शाहबाज नदीम ने 23 बार ऐसा किया है। 


आइपीएल में सबसे ज्यादा बार गेंदबाजी की शुरुआत करने वाले गेंदबाज- 

36 - हरभजन सिंह

33 - आर अश्विन

23 - शाहबाज नदीम

23 - यूसुफ पठान

आपको बता दें कि भज्जी को हैदराबाद के खिलाफ इस मैच में सिर्फ एक ही ओवर फेंकने को मिला और इस पर टीम के कप्तान इयोन मोर्गन ने सफाई देते हुए कहा कि, हम उन्हें आगे गेंदबाजी नहीं करवा पाए, लेकिन उनके अनुभव का फायदा युवा गेंदबाजों को खूब मिला। इस मैच में केकेआर ने हैदराबाद को 10 रन से हरा कर इस टूर्नामेंट का शानदार आगाज किया। केकेआर की तरफ से नीतिश राणा ने 80 रन का पारी खेली जबकि राहुल त्रिपाठी ने भी अर्धशतक जमाया। केकेआर ने 187 रन बनाए थे और इसके जवाब में हैदराबाद की टीम 177 रन ही बना पाई और उसे 10 रन से हार मिली। 


रिद्धिमा पंडित ने बयां किया मां को खोने का दर्द       कोविड-19 से उबरने के बाद भूमि पेडनेकर बनीं ‘COVID WARRIOR'       गर्मियों में बीमारियों से बचने के लिए ध्यान रखें ये विशेष बातें       राजेश खन्ना के बंगले में जमीन पर बैठते थे डायरेक्टर-प्रोड्यूसर       अथिया शेट्टी ने किया rumoured बॉयफ्रेंड KL Rahul को बर्थडे विश       रिजिजू ने कहा कि टोक्यो ओलंपिक में डबल डिजिट में पदक आने की उम्मीद       कुम्भ मेले से लौटने वाले लोग बढ़ा सकते हैं कोरोना महामारी को : संजय राउत       अखिलेश ने कहा कि लखनऊ कैंसर इंस्टीट्यूट को कोरोना मरीजों के लिए खोले योगी सरकार       राज ठाकरे ने कहा कि प्रवासी मजदूर हैं महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के तेजी से फैलने के लिए जिम्मेदार       योगी सरकार के मंत्री ने ही लखनऊ में कोरोना हालात पर उठाए सवाल, CM पृथक-वास में       किसी वर्ग का नहीं, सबका होता है मुख्यमंत्री: योगी आदित्यनाथ       यूपी में कोरोना का कहर, योगी सरकार ने उठाए ऐहतियाती कदम       रमजान समेत अन्य त्योहारों को लेकर बोले सीएम योगी       उत्तरप्रदेश में टूटा Corona का कहर, एक दिन में मिला इतने नए केस       दिल्ली के बाद UP में भी लगा Lockdown, बंद रहेंगे सभी बाजार और दफ्तर       High Level मीटिंग के दौरान Nude दिखे कनाडा के सांसद       हवा के जरिए फैलता है कोरोना, 'द लांसेट' की रिपोर्ट में मिले पक्के सबूत       कोरोना वायरस रोधी टीके है कम असरदार, चीन के अधिकारी का दावा       रेप की घटनाओं पर इमरान खान का बेतुका बयान, कहा...       फ्रांस से तीन और राफेल विमान बिना रुके पहुंचे भारत