अपनी चोट के कारण रोहित शर्मा टेस्ट सीरीज से हुए बाहर

अपनी चोट के कारण रोहित शर्मा टेस्ट सीरीज से हुए बाहर

भारत के युवा खिलाड़ीऔर न्यूजीलैंड के विरूद्ध पहले टेस्ट मैच के लिए सलामी जोड़ी में स्थान पाने के लिए प्रतिस्पर्धा कर रहे हैं। गिल ने इस बारे में बोला कि इसका निर्णय टीम प्रबंधन को करना है कि कौन खेलेगा या कौन नहीं।

इसे लेकर दो युवाओं के बीच में किसी तरह की लड़ाई नहीं है। जिस खिलाड़ी को भी मौका मिलेगा वो इसे भुनाने की प्रयास करेगा।

के बीच पहला टेस्ट मैच 21 फरवरी से खेला जाना है। हिंदुस्तान के नियमित ओपनर रोहित शर्मा टेस्ट सीरीज में नहीं होंगे। वे चोट के कारण से बाहर हैं। रोहित की स्थान पृथ्वी शॉ या शुभमन गिल को मिल सकती है। टीम के दूसरे ओपनर मयंक अग्रवाल होंगे।

20 वर्ष के शुभमन गिल ने कहा, ‘जाहिर सी बात है कि है कि हमारा करियर साथ ही प्रारम्भ हुआ था, लेकिन हम दोनों में किसी तरह की प्रतिस्पर्धा नहीं है। हम दोनों ने अपने क्रम पर अच्छा किया है। यह टीम प्रबंधन पर है कि वो किसे मौका देते हैं। ऐसी बात नहीं है कि इसे लेकर हम दोनों के बीच लड़ाई चल रही हो। जिसे भी मौका मिलेगा वो इसका पूरा लाभ उठाना चाहेगा। ’

पृथ्वी शॉ नियमित सलामी बल्लेबाज हैं तो वहीं गिल का क्रम बदलता रहता है। गिल ने हालांकि बोला है कि उनके लिए बदलते क्रम से तालमेल बिठाना ज्यादा कठिन नहीं है। उन्होंने कहा, ‘जब मुझसे पारी की आरंभ करने को बोला गया तो यह मेरे लिए नयी बात नहीं थी। जब आप नंबर-4 पर जाते हो तो आपके दो विकेट पहले से ही गिर गए होते हैं। यह अलग स्थिति होती है। अलग तरह का दबाव। जब आप पारी की आरंभ कर रहे होते हो तो आपको पूरी टीम के लिए मैच बनाना होता है। यह अलग वस्तु है। पारी की आरंभ करते हुए आपको ऐसी नींव रखनी होती है जो आने वाले बल्लेबाजों के लिए सरल हो। ’

शुभमन गिल ने बोला कि मध्यक्रम के बल्लेबाज होने के नाते खिलाड़ी को टेस्ट में दूसरी नयी गेंद के बारे में ध्यान रखना होता है। इस युवा बल्लेबाज ने कहा, ‘बीच के ओवरों में आप एक लय में खेल रहे होते है व गेंद ज्यादा स्विंग नहीं लेती है। जब फील्डिंग टीम दूसरी नयी गेंद लेती है तो आपको पहले से थोड़ा सतर्क रहना होता है। ’