इंग्लैंड के खिलाफ ये बल्लेबाज कर सकता है डेब्यू, बड़ी जिम्मेदारी मिलने की उम्मीद

इंग्लैंड के खिलाफ ये बल्लेबाज कर सकता है डेब्यू, बड़ी जिम्मेदारी मिलने की उम्मीद

भारतीय क्रिकेट टीम को इंग्लैंड के खिलाफ पांच मैचों की टेस्ट सीरीज में बुधवार से खेलना है। टीम इंडिया को इस बेहद अहम सीरीज से पहले सबसे बड़ी मुश्किल का सामना करना पड़ रहा है। नॉटिंघम टेस्ट में भारत के पास रोहित शर्मा के साथ पारी की शुरुआत करने के लिए कोई नियमित ओपनर नहीं है। अब तक इस बात का फैसला नहीं हो पाया है कि आखिरी उनका जोड़ीदार कौन होगा।

4 अगस्त से भारत और इंग्लैंड के बीच पांच मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला मुकाबला शुरू हो रहा है। टीम इंडिया की ओपनिंग जोड़ी में दूसरे बल्लेबाज का नाम अब तक सामने नहीं आया है। मैच से पहले भारतीय कप्तान विराट कोहली ने वर्चुअल प्रेस कन्फ्रेंस की और यह बात साफ किया कि अब तक प्लेइंग इलेवन को लेकर कुछ साफ नहीं है। टॉस से पहले ही टीम के अंतिम ग्यारह खिलाड़ियों के नाम को घोषित किया जाएगा।

अभिमन्यू को मिल सकता है डेब्यू का मौका

पहले शुभमन गिल और फिर मयंक अग्रवाल के चोटिल होने के बाद भारतीय टीम के दूसरे ओपनर को लेकर मुश्किल खड़ी हो गई। ऐसे में अब उम्मीद की जा रही है कि बंगाल की तरफ से रणजी खेलने वाले अभिमन्यू ईश्वरन को रोहित का जोड़ीदार बनाया जा सकता है। वह दूसरे ओपनर के तौर पर पारी की शुरुआत करने उतर सकते हैं। अगर ऐसा हुआ तो उनको भारत की तरफ से अपना पहला इंटरनेशनल मैच खेलने का मौका मिलेगा।

वहीं केएल राहुल का नाम भी लिस्ट में शामिल है क्योंकि वह टीम के लिए इससे पहले टेस्ट में पारी की शुरुआत कर चुके हैं। इंग्लैंड में उनके नाम एक शतक भी है जो उन्होंने 2018 के दौरे पर ओवल टेस्ट मैच में जमाया था। 149 रन की बेहतरीन पारी उन्होंने दूसरी पारी में खेली थी। हालांकि इस मैच को वो बचाने में नाकाम रहे थे और भारत 118 रन से हार गया था।


पाकिस्तानी दिग्गज का दावा, कहा- अगर मैं इस्तीफा नहीं देता तो बड़ी समस्या खड़ी हो जाती

पाकिस्तानी दिग्गज का दावा, कहा- अगर मैं इस्तीफा नहीं देता तो बड़ी समस्या खड़ी हो जाती

पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज वकार यूनिस ने हाल ही में टी20 विश्व कप 2021 से पहले पाकिस्तान टीम के गेंदबाजी कोच के पद से इस्तीफा दे दिया था। मुख्य कोच मिस्बाह उल हक ने भी अपना पद छोड़ दिया था। अब इस बारे में वकार यूनिस ने खुल कर बात की है। एक विशेष साक्षात्कार में क्रिकेट पाकिस्तान से बात करते हुए, वकार ने कहा कि पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) में हालिया बदलावों के बाद इस्तीफा देना एक बुद्धिमानी थी।

उन्होंने कहा, "मेरे इस फैसले के पीछे दो से तीन कारण थे। जाहिर है, परिवार के साथ समय बिताना उनमें से एक था जो कोविड-19 के कारण मुश्किल होता जा रहा था। साथ ही, नए पीसीबी अध्यक्ष (रमीज राजा) की नियुक्ति और उनके शासन के बाद यह बुद्धिमानी की बात यह थी, क्योंकि ऐसा लग रहा था कि वह (राजा) एक नया सेटअप लाना चाहते हैं। इसलिए, जब मिस्बाह ने इस्तीफा दिया, तो मैंने उसी का पालन करने का फैसला किया।"

पाकिस्तान टीम के पूर्व दिग्गज वकार यूनिस ने आगे बताया, "अगर हमने यह फैसला नहीं लिया होता तो बड़ी समस्या खड़ी हो जाती। विवाद हो सकता था। मेरे पास क्रिकेट बोर्ड और उसके इतिहास को समझने का पर्याप्त अनुभव है। जब कोई नया सेटअप कार्यभार संभालता है, तो उनके काम करने का अपना तरीका होता है और उन सभी को ध्यान में रखते हुए यह करना एक समझदारी की बात थी।"

उन्होंने अगले महीने शुरू होने वाले मेगा इवेंट में अच्छा प्रदर्शन करने के लिए पाकिस्तान का भी समर्थन किया। वकार ने कहा, "विश्व कप एक छोटा टूर्नामेंट है और अगर आपके खिलाड़ी फार्म में हैं और किस्मत आपका साथ देती है, तो टीम आगे बढ़ सकती है। हमारी गेंदबाजी किसी भी टोटल का बचाव कर सकती है और अगर हम अपनी बल्लेबाजी में कुछ मुद्दों को ठीक कर सकते हैं, तो इस टीम में हर तरह से जाने की क्षमता है।"