टोक्यो ओलंपिक 2020 कोरोना वायरस की वजह से हुआ स्थगित, पढ़े

टोक्यो ओलंपिक 2020 कोरोना वायरस की वजह से हुआ  स्थगित, पढ़े

पूरे दुनिया को तहस नहस कर रहे कोरोना वायरस की वजह से टोक्यो ओलंपिक 2020 को एक वर्ष के लिए स्थगित करना पड़ा है. खास बात यह है कि अब ये खेल अगली वर्ष 2021 में ओलंपिक खेल 2020 के नाम से ही खेले जाएंगे. 

ओलंपिक 2020 स्थगित किए जाने के बाद अब टोक्यो पहला ऐसा शहर बन गया है जिसमें दो बार ओलंपिक खेलों को रद्द या स्थगित करना पड़ा है. इससे पहले जूडो के अविष्कारक जापान के महान खिलाड़ी जिगोरो कानो की प्रतिनिधित्व में टोक्यो को 1940 में ओलंपिक की मेजबानी मिली थी. इतालवी निर्देशक बेनितो मुसोलिनी ने ऐन मौके पर दौड़ से नाम वापिस ले लिया. इस बीच जापान व चाइना में जंग छिड़ गई व राजनयिक दबाव बन गया कि जापान खेलों की मेजबानी छोड़े. आखिरकार जापान ने दबाव के आगे घुटने टेके लेकिन 1964 में टोक्यो ओलंपिक की मेजबानी करने वाला पहला एशियाई देश बना.

बता दें​ कि ओलंपिक में संसार के 200 से अधिक देश भाग लेते हैं. हर एक खिलाड़ी का सपना ओलिंपिक में देश का अगुवाई करना होता है. हर चार वर्ष में भव्य रूप से इन खेलों का आयोजन किया जाता है. खेलों की मेजबानी मिलते ही मेजबान देश इसकी तैयारियों में जुट जाते हैं व इसकी तैयारियां में करीब चार वर्ष लग जाते हैं.