सीएम योगी भी कोरोना पोजिटिव, बोले- UP में नहीं होगा लॉकडाउन, लोगों का जीवन व आजीविका बचाएंगे

सीएम योगी भी कोरोना पोजिटिव, बोले- UP में नहीं होगा लॉकडाउन, लोगों का जीवन व आजीविका बचाएंगे

देश के साथ उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते प्रसार के बाद भी उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश में लॉकडाउन से साफ इन्कार कर दिया। बुधवार को एक चैनल से वार्ता के दौरान उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में फिलहाल अभी लॉकडाउननहीं होगा। हमारा प्रयास लोगों के जीवन के साथ उनकी आजीविका को भी बचाने का है। हम उसमें लगे हैं।

उत्‍तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने खुद को होम आइसोलेट कर लिया है। बुधवार को टेस्ट वह कोरोना पॉजिटिव पाए गए। यह जानकारी उन्होंने ट्वीट कर दी। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर पहले भी अपेक्षा भले ही थोड़ी तेज है, लेकिन अभी हम उत्तर प्रदेश में लॉकडाउन की ओर नहीं जा रहे हैं। अभी हमने प्रदेश में उन सभी शहरों में नाइट कर्फ्यू लगाया है जहां पर 500 या अधिक एक्टिव केस हैं। ऐसे में लॉकडाउन की तरफ जाने की आवश्यकता भी नहीं होनी चाहिए। हमें मानवता के जीवन को भी बचाना है और उनकी जीविका को भी बचाना है। जीवन और जीविका को बचाने के इस क्रम में जो सबसे अच्छे विकल्प हो सकते हैं उन्हीं में केंद्र के साथ हमारी सरकार ने नाइट कफ्र्यू के रूप में यह व्यवस्था तैयार की है।


सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि लॉकडाउन से सामान्य नागरिक काफी प्रभावित होता है। उसकी हर प्रकार की गतिविधि के साथ आर्थिक स्थिति पर भी रोक लग जाती है। लॉकडाउन से गरीब, मजदूर, वेंडर, फेरीवाला तथा रोज कमाने वाले लोग प्रभावित होते हैं। हम जीवन के साथ सभी की आजीविका को बचाने में एक मिशन के तहत लगे हैं। इससे पहले भी विशाल जनसंख्या वाले उत्तर प्रदेश के कोरोना प्रबंधन की देश के साथ विदेश में भी काफी चर्चा हुई थी। हमारी पूरी टीम मंत्रीगण व अधिकारियों के साथ पूरा सरकारी अमला फिर से स्थिति को सामान्य करने में लगा है। हम एक बार फिर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन तथा केंद्र सरकार के सहयोग से रोल मॉडल बनेंगे।


उन्होंने कहा कि इससे पहले भी हमने कोरोना वायरस संक्रमण की पहली लहर पर काबू पाया और संक्रमितों के आंकड़े दहाई में लेकर आ गए थे। अब यह दोबारा तीव्र गति से बढ़ रहा है। कोरोना की पहली लहर की तुलना में दूसरी लहर खतरनाक रूप में आई है। ऐसे में मेरी सभी से अपील है कि अभ भी बचाव ही कोरोना का सर्वोत्तम उपाय है। कोरोना महामारी से बचाव का सबसे अच्छा उपाय है कि भारत सरकार और उत्तर प्रदेश सरकार की गाइडलाइन का अक्षरश: स्वयं पालन करें और अपने करीबियों को इन सभी गाइडलाइन का पालन करने के लिए प्रेरित करें।


सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी के साथ ही राज्यपाल आनंदीबेन पटेल का मार्गदर्शन हमें समय-समय पर प्राप्त हुआ है, जिस कारण बीते एक वर्ष से अधिक समय में कोरोना की रोकथाम में उत्तर प्रदेश अच्छा उदाहरण पेश करने में सफल हुआ है। कोरोना के विरुद्ध इस लड़ाई को पिछले एक वर्ष से उत्तर प्रदेश सरकार पूरी मजबूती के साथ लड़ रही है। पहली लहर की तुलना में कोरोना की दूसरी लहर बेहद तीव्र है। यही वजह है कि मृत्यु दर भी इस बार पहले की तुलना में अधिक है। खास तौर पर जहां घनी आबादी है, वहां कोरोना वायरस से बचाव को लेकर अधिक सतर्कता की आवश्यकता है। हम इस लहर पर भी काबू करने के अपने प्रयास में लगे हैं।


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हमने उत्तर प्रदेश में सभी स्कूल व कॉलेज को 30 अप्रैल तक बंद कर दिया है। इसके साथ ही भीड़ वाले इलाकों में पुलिस काफी सख्ती कर रही है। धार्मिक के साथ सार्वजनिक कार्यक्रमों को भी बेहद सीमित किया गया है। किसी भी हाल में 50 और बाहर सौ से अधिक लोगों को एकत्र होने की अनुमति नहीं है। किसी की कालोनी में एक की केस मिलने पर उस स्थान के 25 मीटर क्षेत्र को कटेंनमेंट जोन बनाया जा रहा है। ऊंची इमारतों में फ्लोर को कंटेनमेंट जोन बनाया जा रहा है। पब्लिक एड्रेस सिस्टम हर जगह पर लगे हैं। पुलिस को भी जरा सी लापरवाही पर सख्ती करने का निर्देश दिया गया है।  


यूपी में पिछले 24 घंटे में सामने आए कोविड-19 के 23333 नए मामले

यूपी में पिछले 24 घंटे में सामने आए कोविड-19 के 23333 नए मामले

लखनऊ: यूपी में पिछले 24 घंटे में Covid-19 के 23,333 नए मुद्दे सामने आए हैं इस दौरान 34,636 लोग डिस्चार्ज हुए और 296 लोगों की मौत दर्ज की गई प्रदेश में कुल सक्रिय मुद्दे 2,33,981 हैं वहीं अब तक कुल 15,03,490 मुद्दे सामने आ चुके हैं इससे पहले यूपी में कोविड-19 वायरस संक्रमण को काबू करने के लिए 30 अप्रैल से लागू कर्फ्यू की अवधि रविवार को 17 मई तक बढ़ा दी गई

सूचना विभाग के अपर मुख्य सचिव नवनीत सहगल ने बताया, 'प्रदेश में लागू कोविड-19 कर्फ्यू अब आनें वाले 17 मई तक लागू रहेगा ' उन्होंने बताया कि प्रदेश सरकार ने यह निर्णय Covid-19 के बढ़ते मामलों पर कारगर रोक लगाने के मकसद से किया है इस दौरान आवश्यक सेवाओं को छोड़कर बाकी सभी दुकानें और प्रतिष्ठान बंद रहेंगे

30 अप्रैल से लागू है उत्तर प्रदेश में कर्फ्यू
बताते चलें कि यूपी में पिछली 30 अप्रैल से कर्फ्यू लागू है प्रारम्भ में इसे तीन मई तक लागू किया गया था, लेकिन बाद में इसकी अवधि छह मई तक बढ़ा दी गई थी बाद में इसे और विस्तार देते हुए 10 मई तक कर दिया गया था, जिसे अब बढ़ाकर 17 मई किया गया है


चीन ने जनसंख्या वृद्धि रोकने में हासिल की कामयाबी, लेकिन...       US सिक्योरिटी ने किए नष्ट, गोबर के उपले लेकर अमेरिका पहुंचा एक भारतीय शख्स       Italy की इस महिला को एक ही बार में लगे Pfizer Covid-19 Vaccine के 6 डोज       कोविड-19 वायरस के भारतीय स्ट्रेन को विश्व स्वास्थ्य संगठन ने माना खतरनाक, कहा...       'इस्लाम को रियायत मिलने से फ्रांस को खतरा'       कोविड-19 वैक्सीनेशन को लेकर भारतीय प्रस्ताव के समर्थन में विश्व स्वास्थ्य संगठन , चीफ साइंटिस्ट ने कहा...       साइबर हमले के बाद अमरीकी फ्यूल पाइपलाइन जल्द हो सकती है शुरू       अमेरिका में 12 से 15 वर्ष तक के बच्चों को लगेगी वैक्सीन       विदेश मंत्रालय ने कहा कि ईरान के ऑफिसरों ने सऊदी के साथ द्विपक्षीय मुद्दों पर सीधी वार्ता की पुष्टि की       गाजा पर रॉकेट से हमला, 20 लोग मारे गए       भारत में Covid-19 की दूसरी लहर में हो रही मौतों से विश्व स्वास्थ्य संगठन चिंतित, कहा...       कोरोना वैक्सीन की पहली डोज के बाद हो जाए कोविड-19 तो डरे नहीं       बीते 24 घंटे में 3.29 लाख नए केस आए, 3876 मरीजों ने गंवाई जान       योगी सरकार के कोविड प्रबंधन का कायल हुआ डब्‍ल्‍यूएचओ       देश में अब तक 17.27 करोड़ से अधिक लोगों को लगी वैक्सीन       अफगानिस्तान में भारतीय राजनयिक विनेश कालरा का मृत्यु       जेपी नड्डा ने सोनिया गांधी को लिखी पांच पन्नों की चिट्ठी, कहा...       कोविड-19 मुद्दे में केन्द्र सरकार ने उच्चतम न्यायालय को दी अति उत्साह में निर्णय ना लेने की सलाह, कहा...       Ghazipur में गंगा नदी में दर्जनों लाशें दिखने से मचा हड़कंप       राहुल का प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी पर जोरदार हमला, कहा...