CM योगी ने कहा कि हर संकट के समय जनता के साथ रहे हम

CM योगी ने कहा कि हर संकट के समय जनता के साथ रहे हम

उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी एवं सहयोगी दल की सरकार के साढ़े चार वर्ष के कार्यकाल को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अब तक की श्रेष्ठ तथा जनता के साथ रहने वाली सरकार बताया। सीएम योगी आदित्यनाथ ने लोक भवन में रविवार को डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य व डॉ. दिनेश शर्मा तथा भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रभारी राधा मोहन सिंह तथा पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह के साथ मीडिया के समक्ष अपना रिपोर्ट कार्ड पेश किया।

उत्तर प्रदेश सरकार के साढ़े चार वर्ष पूरा होने पर सीएम योगी आदित्यनाथ अपनी सरकार की उपलब्धियां गिनाने के साथ ही विपक्ष पर भी हमलावर रहे। मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश जैसा विशाल आबादी का प्रदेश जहां दो चीजें चुनौती होती है सुरक्षा और सुशासन। हमने इस पर काम करके पर्सेप्शन बदला है। हमको प्रशासन, संगठन तथा सरकार के साथ केन्द्रीय नेतृत्व का निरंतर सहयोग साथ मिला है। मैं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह तथा केन्द्र सरकार के सभी मंत्रियों और भाजपा के शीर्ष संगठन का धन्यवाद करता हूं।


सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश में नौजवानों के नौकरी का मुद्दा हो या, बहन बेटियों की सुरक्षा का मामला हो, या फिर शासन प्रशासन की ट्रांसफर पोस्टिंग का प्रकरण अब सब पर लगाम लगी है। यहां पर पहले हर मंडल कमिशनरी जिलों के अधिकारी हर महीने दो महीने में ताश के पत्तो की तरह फेंटे जाते थे। बिना किसी कारण के ट्रांसफर होते थे। हमने उसे लगाम लगाकर स्थिरता का माहौल दिया। आज केन्द्र सरकार की 44 योजनाओं में नम्बर एक पर चल रहा है। एक करोड़ 56 लाख से अधिक गैस कनेक्शन, छह करोड से अधिक आयुष्मान बीमा कवर, दो करोड़ 53 लाख किसानों को किसान सम्मान निधि, 15 करोड़ लोगों को निशुल्क राशन कर रही है। यह तब सम्भव हुआ जब हमने पारदर्शीता की और स्थिरता दी। इसी कारण हमारा प्रदेश हर क्षेत्र में आगे बढ़ रहा है। प्रदेश में 2007 की सरकार में खाद्यान्न घोटाला हुआ था और उसकी सीबीआई जांच आज भी चल रही है। हमने तो संकट में भी किसान कर्जमाफी से हमने किसान कल्याण की योजना को आगे बढ़ाया है। उत्तर प्रदेश में जहां जल संसाधन भरपूर होता था लेकिन योजनाओ के क्रियान्वयन न होने से किसानों को भरपूर लाभ नही मिल पाता था,लेकिन आज वो सब चल रहा है। पहले चीनी मिलें लगातार बन्द होती गई। किसान आत्महत्या करने को मजबूर हुआ। हमने उन चीनी मिलों को लगातार चलाया। कोरोना काल में भी चीनी मिलें लगातार चलती गईं। पिछली सरकारें आढ़तियों के माध्यम से गेंहू, धान, मक्का तथा अन्य फसल क्रय करती थीं। हम तो सीधे किसानों से खरीदी करके,उन्हेंं डीबीटी के माध्यम से पैसे दे रहे हैं, जो सीधे बिना बिचौलिए के उनके पास पहुंच रहा है।


सरकार सम्वेदना के साथ किसी भी आपदा में जनता के साथ

प्रदेश में जब कोई भी आपदा आती थी तो गरीबों को महीनों कोई बचाव के उपाय नहीं मिलती थी लेकिन आज सरकार सम्वेदना के साथ किसी भी आपदा में जनता के साथ खड़ी होती है। सरकार की सम्वेदना हर स्तर पर लगातार बनी है। जनता को हर जगह पर 24 घंटे सहायता मिलती है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने साढ़े चार वर्ष की उपलब्धियों के सम्बंध में कहा कि हमारी सरकार की सबसे बड़ी उपलब्धि गहरे संकट के समय में भी हर पल जनता के साथ रहना है। सूबे के हर व्यक्ति तक सरकार की योजना का लाभ देने के साथ हमने हर गरीब, किसान, बेरोजगार, युवा तथा महिला व बेटियों के स्वाभिमान की रक्षा की। उनको अहसाल कराया कि सरकार सदैव उनके साथ है। पिछली सरकार में पूर्वी उत्तर प्रदेश के लोग बाढ़ में डूबे रहते थे, बच्चे व नागरिक इंसेफेलाइटिस और डेंगू की चपेट में आकर तड़पते थे। उस समय, जिम्मेदार लोग सैफई में फिल्मी हस्तियों के नृत्य का आनंद लेने में व्यस्त रहते थे।

सही ठिकानों पर चले गए गुंडे-माफिया

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि यह वही प्रदेश है जहां गुंडे माफिया सत्ता संरक्षण प्राप्त करके भय का माहौल बनाये रहते थे। पिछली सरकारों में खासकर 2012 से 2017 तक औसतन हर तीसरे दिन एक दंगा होता था। पिछले साढ़े चार वर्ष में हमने इसके खिलाफ काम किया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि बीते साढ़े चार वर्ष तक उत्तर प्रदेश दंगा से मुक्त रहा। इतने लम्बे समय तक प्रदेश में कहीं दंगा नही हुआ। हमने तो बड़े तथा शातिर अपराधियों की संपत्तियां जब्त कीं। निर्दोष लोगों की संपत्ति और सरकारी संपत्ति पर अवैध कब्जा करने वालों का एक ही उपचार है - बुलडोजर। माफिया के खिलाफ ध्वस्तीकरण-जब्तीकरण का कार्य किया। बहन बेटियों की सुरक्षा हमारी सरकार की शीर्ष प्राथमिकता रही है। आपको याद होगा हमारी सरकार के आने के तत्काल बाद एंटी रोमियो स्क्वायड का गठन किया। आज भी मिशन शक्ति के माध्यम से महिलाओ की सुरक्षा समस्यायों का निस्तारण की जा रही हैं। महिलाओं की सुरक्षा के लिए 'सेफ सिटी परियोजना' व 'एंटी रोमियो स्क्वायड' का गठन किया। अब तक 11,864 इनामी और 44,759 गैंगस्टर गिरफ्तार हुए। मुठभेड़ में 150 मारे गए, 3427 घायल हुए और 630 रासुका में निरुद्ध हुए।


सीएम के बंगले की जगहों अब बन रहे गरीबों के मकान

मुख्यमंत्री ने कहा कि यही लखनऊ में जहां मुख्यमंत्री के बंगलो को बनाने के लिए कब्जे किये जाते थे, लेकिन हमने आप ने देखा होगा हमने अपने लिए नही गरीबों के 42 लाख मकान बनाये हैं। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश की पिछली सरकारें अपने लिए मकान बनाने की होड़ में लगे रहते थे, जबकि हमने गरीबों के लिए मकान बनवाये। एक करोड़ 56 लाख से अधिक गरीबों को उज्ज्वला योजना के तहत रसोई गैस दिया गया। इस सरकार से पहले के उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्रियों में अपना आवास बनाने की होड़ रहती थी। हमने अपने नहीं हमारी सरकार ने प्रदेश भर में गरीबों के आवास बनाये हैं।6 करोड़ से अधिक लोगों को आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत 5 लाख रुपये की सुरक्षा बीमा कवर दिया गया। 2 करोड़ 53 लाख किसानों को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना से जोड़ा गया।


चेहरा व पैसा नहीं, योग्यता के आधार पर साढ़े चार लाख को नौकरियां

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार आज चेहरा देखकर नही योग्यता के आधार पर प्रदेश के नौजवानों को नियुक्तियां पारदर्शी तरीके से दे रही है। पहले जब भर्तियां निकलती थी तो पूरा खानदान वसूली के लिए झोला लेकर निकल पड़ता था। हमने बीते साढ़े चार लाख नौजवानों को नौकरी दी है। सभी नियुक्तियों वर्षों से लंबित थी नौकरियां निकलती थीं, तो एक पूरा परिवार वसूली के लिया निकल पड़ता था। हमारी सरकार ने योग्यता के आधार पर साढ़े चार लाख सरकारी नौकरियों दी हैं। हमने पारदर्शी व्यवस्था रखी।

ईज ऑफ डूइंग बिजनेस में लंबी छलांग

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उत्तर प्रदेश ने ईज ऑफ डूइंग बिजनेस में लंबी छलांग मारी है। निवेश का माहौल बना तो उत्तर प्रदेश नम्बर दो की अर्थव्यवस्था बना। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में माहौल बना तो निवेश आया। जो प्रदेश 15,16 में 14वे स्थान पर था, आज उत्तर प्रदेश निवेश और ईज ऑफ डूइंग बिजनेस में नम्बर दो पर है। उत्तर प्रदेश में बेहतर कानून-व्यवस्था की स्थिति देख काफी निवेशक आए। तीन लाख करोड़ रुपये के निवेश किया गया। चीन की डिस्प्ले यूनीट प्रदेश मे स्थापित हुई। इसी के साथ निवेश और नौकरी रोजगार उतपन्न हो रहे हैं। एक समय सूक्ष्म लघु उद्यम मृतप्राय हो चुका था। आज वही करोड़ों को रोजगार दे रहा है। इसी के साथ आत्मनिर्भर भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सपने को साकार कर रहा है। देश में 44 योजनाओं में उत्तर प्रदेश प्रथम स्थान पर है। उत्तर प्रदेश में तीन लाख करोड़ से अधिक का निवेश हुआ है। एमएसएमई से एक लाख 21 हजार करोड़ का निर्यात हो रहा है।


पहले लोग भूख से मरते थे, अब मिल रहा मुफ्त राशन

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश में 2005-06 में यहां खाद्यान्न घोटाला हुआ था, लोग भूख से मरते थे, हमने जांच कराई तो 40 लाख फर्जी राशन कार्ड मिले। इसकी आज भी सीबीआइ जांच जारी है। आज तो कोविड काल में 15 करोड़ लोगों को मुफ्त राशन मिल रहा है।

यूपी ने दिया कोविड प्रबंधन का सफल मॉडल

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कोविड की चुनौतियों का जिक्र करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मार्गदर्शन में यूपी के कोरोना प्रबंधन के मॉडल को हर ओर सराहा जा रहा है।

पहले प्रदेश में ट्रांसफर पोस्टिंग इंडस्ट्री

मुख्यमंत्री ने कहा कि 2017 से पहले प्रदेश में ट्रांसफर पोस्टिंग इंडस्ट्री बन गयी थी। किन्तु हमने स्थायित्व दिया, प्रेरित किया। पहले अधिकारी ताश के पत्तों की तरह फेंटे जाते थे, हमारी सरकार ने प्रशासन में स्थिरता का माहौल बनाया। 

हमारे आयोजनों को विश्व ने सराहा

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हमारी सरकार को प्रयागराज में भी कुम्भ का अयोजन करने का अवसर मिला। हमने इसको सुरक्षित, तथा सुव्यवस्थित करके देश नही दुनिया को दिखायो कि हम किसी भी आयोजन को बखूबी कर सकते हैं। हमने बनारस में सफलतापूर्वक प्रवासी भारतीय सम्मेलन करके दिखाया। अयोध्या में दीपोत्सव तथा बरसाना रंगोत्सव सब को करके दिखाया। पहले की सरकारें इन्हेंं करने में सशंकित रहती थीं। हम आस्था का सम्मान करते हैं। अयोध्या में भव्य राममंदिर निर्माण कार्य शुरू हो चुका है। पहले हमसे लोग चुटकी लेते थे रामलला हम आएंगे, मंदिर वहीं बनाएंगे, लेकिन तिथि नही बताएंगे। आज तिथि के साथ भव्य निर्माण शुरू हो चुका है। अब सब लोग चुप हैं।

दिखने लगी उत्तर प्रदेश की बदली तस्वीर

मुख्यमंत्री ने कहा कि अब प्रदेश की बदलती हुई तस्वीर है। जिसने देश दुनिया के सामने छवि बदली है। उत्तर प्रदेश कभी छठी अर्थव्यवस्था हुआ करता था,लेकिन आज दूसरे स्थान की अर्थव्यवस्था बन चुका है। प्रदेश में इंफ्रास्ट्रक्चर को लेकर कार्य हो रहे हैं। हमारा प्रयास है कि नवम्बर-दिसम्बर तक कानपुर में मेट्रो शुरू कर दें। प्रदेश में 2017 के पहले केवल दो इंटरनेशनल एयरपोर्ट थे। आज छह एयरपोर्ट फंक्शनल हैं। हमारा प्रयास है कि भारत सरकार की योजनाओं का भरपूर लाभ लिया जाए।

राष्ट्रीय शिक्षा नीति लागू करने वाला पहला प्रदेश

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उत्तर प्रदेश ने राष्ट्रीय शिक्षा नीति लागू करने वाला पहला प्रदेश है। वर्तमान में प्रदेश में सात नए विश्वविद्यालय प्रदेश के अलग अलग कोनो में बन रहे हैं। पुलिस फोरेंसिक इंस्टिट्यूट लखनऊ में बन रहा है। आज जब प्रदेश सरकार अपने कार्यकाल को साढ़े चार वर्ष पूरे कर रही है तो प्रदेश की जनता के धैर्य का आभार व्यक्त करते हुए आप सभी को हृदय से धन्यवाद।

लोक भवन में सीएम योगी आदित्यनाथ ने उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य तथा डॉ. दिनेश शर्मा, भाजपा उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह और भाजपा उत्तर प्रदेश प्रभारी राधामोहन सिंह ने उत्तर प्रदेश सरकार की 52 पेज की एक बुकलेट जारी की है। जिसमें सरकार की उपलब्धियों का ब्यौरा है। लोक भवन में आओ मनाएं विकास उत्सव कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उत्तर प्रदेश की वर्तमान सरकार के कार्यकाल के साढ़े चार वर्ष पूरे होने के अवसर पर मैं अपनी पूरी टीम की ओर से प्रदेश की 24 करोड़ जनता को हृदय से बधाई देते हुए उनके प्रति अपनी कृतज्ञता ज्ञापित करता हूं। आदरणीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मार्गदर्शन में आज हमारी सरकार सफलतापूर्वक साढ़े चार वर्ष पूरे कर रही है। यह कार्यकाल आबादी में सबसे बड़े राज्य, उत्तर प्रदेश के लिए सुरक्षा व सुशासन की दृष्टि से अत्यंत महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार का यह अविस्मरणीय काल रहा। यह समय तो पूरी तरह से सुशासन को समर्पित रहा है।

इससे पहले, उपस्थित लोगों का स्वागत करते हुए मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी ने विगत साढ़े चार वर्ष में विभिन्न क्षेत्रों में हुए राज्य के विकास का संक्षिप्त परिचय दिया, वहीं डॉक्यूमेंट्री के माध्यम से सरकार के प्रयास से हो रहे सकारात्मक बदलाव की झलक भी दिखाई गई।


कानपुर में पूर्व सांसद स्वर्गीय चौधरी हरमोहन सिंह यादव की जन्म शताब्दी कार्यक्रम में वर्चुअल शामिल हुए CM योगी

कानपुर में पूर्व सांसद स्वर्गीय चौधरी हरमोहन सिंह यादव की जन्म शताब्दी कार्यक्रम में वर्चुअल शामिल हुए CM योगी

अपने पूर्वजों का सम्मान ना करने वालों की कोई पहचान नहीं होती। यह बात सोमवार को प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कही। वह पूर्व सांसद स्वर्गीय चौधरी हरमोहन सिंह यादव की जन्म शताब्दी के मौके पर आयोजित समारोह को वर्चुअल रूप में संबोधित कर रहे थे।

मेहरबान सिंह का पुरवा में समाजवादी पार्टी के राज्यसभा सदस्य सुखराम सिंह यादव व उनके बेटे मोहित यादव द्वारा आयोजित कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि उनकी इच्छा थी कि वह कार्यक्रम में आएं लेकिन लखनऊ में जरूरी कार्य की वजह से नहीं आ सके। उन्होंने कहा कि चौधरी हरमोहन सिंह यादव ने अपना जीवन समाज और देश के लिए जिया। वह आजादी के समय समाज के वंचित, दबे कुचले लोगों की आवाज थे। जब लोग 1970 से 1980 के कालखंड की बात करते हैं तो लोगों के लिए आवाज उठाने वाले एक व्यक्ति का नाम सामने आता है जो चौधरी हरमोहन सिंह का है। उनका जीवन स्वयं या परिवार के लिए नहीं, पूरे समाज के लिए था। वह समाज के लिए समर्पित व्यक्ति थे और ऐसे व्यक्ति का जीवन ही दूसरों के लिए प्रेरणा और ऊर्जा का स्रोत बनता है। वहीं कार्यक्रम में मौजूद उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने चौधरी हरमोहन सिंह यादव अमर रहें के नारे के साथ अपना भाषण शुरू किया। उन्होंने कहा कि मोहित यादव उत्तर प्रदेश में भविष्य की राजनीति में जरूरी भूमिका का निर्वहन करेंगे। उन्होंने कहा कि यहां 14 प्रदेशों से यादव समाज के लोग आए हैं। जिस तरह से यह कार्यक्रम हो रहा है, उससे साफ है कि यह यादव परिवार अपने बुजुर्गों का सम्मान करना जानता है। उन्होंने कहा कि बहुत से लोग अपने बुजुर्गों का सम्मान नहीं करते और बहुत से लोगों को यह सिर्फ चुनाव के मौके पर समझ में आता है। उन्होंने कहा कि आज का असली समाजवाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हैं। राम मनोहर लोहिया ने समाजवाद का जो सपना देखा था, उसमें गरीबों को राशन, आवास की सोच थी। आज प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री गरीबों को राशन और आवास मुहैया करा रहे हैं। उन्होंने कहा कि हम परिवार के रूप में लोगों को जोड़ते हैं बाजार के रूप में नहीं जहां सबकुछ बिकता है। उन्होंने समारोह में आए सभी यादव महासभा के पदाधिकारियों से जुड़ कर राष्ट्र को मजबूत बनाने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि यादव समाज की जो भी मांगें होंगी उन्हें प्राथमिकता के आधार पर पूरा किया जाएगा।


भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि यह परिवार आज से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का परिवार हो गया है। अब इसे चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा कि आज जब प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी चीन की धरती पर उतरते हैं और वहां भारत माता की जय का नारा लगता है, यही तो चौधरी हरमोहन सिंह का सपना था। मोहित यादव की बढ़ाई करते हुए उन्होंने कहा कि उसमें जरा भी अहंकार नहीं है। इससे पहले समाजवादी पार्टी के राज्यसभा सदस्य सुखराम सिंह ने कानपुर देहात में बन रहे मेडिकल कालेज का नाम अपने पिता चौधरी हरमोहन सिंह यादव के नाम पर करने की मांग की। इस पर उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने मुख्यमंत्री से बात कर इस पर निर्णय लेने का आश्वासन दिया। चौधरी सुखराम सिंह यादव ने अपने भाषण की शुरुआत भाजपा की जगह सपा का संबोधन करते हुए की लेकिन उन्होंने तुरंत अपनी गलती ठीक करते हुए कहा कि यह एक आदत सी बनी हुई है। उन्होंने कहा कि वह सपा से राज्यसभा सदस्य हैं और जब तक मुलायम सिंह यादव चाहेंगे सपा में रहेंगे लेकिन बेटा मोहित बालिग है, उसका रुझान स्वतंत्र देव सिंह ने बदल दिया है। वह बालिग है और जहां चाहे वहां जाए। उन्होंने कहा कि योगी आदित्यनाथ जैसा मुख्यमंत्री उन्होंने अपने पूरे जीवन में नहीं देखा जिनका अपना कोई परिवार नहीं है लेकिन हर परिवार उनका अपना परिवार है। उन्होंने कहा कि आज राजनीति में कुछ लोग ऐसे हैं जिन्हें अपने ऊपर अहंकार है। उन्हें नहीं मालूम की राजनीति कैसे बनाई या बिगाड़ी जाती है। उन्होंने कहा कि इस परिवार ने जिसका साथ दिया उसे आगे बढ़ाया और जिससे नाराज हुआ उसे पीछे करने का भी काम किया। उन्होंने संजीत यादव हत्याकांड की जांच में तेजी लाने और हर्ष यादव की हत्या के मामले में 10 लाख और मुआवजा देने की मांग की। कार्यक्रम में सांसद देवेंद्र सिंह भोले, महापौर प्रमिला पांडेय, जिला पंचायत अध्यक्ष स्वप्निल वरुण, राज्यसभा में भाजपा के सचेतक डा. अशोक बाजपेई, विधान परिषद सदस्य अरुण पाठक, विवेक द्विवेदी, सुनील बजाज, डा. बीना आर्या रहीं।