11 और जिलों में 18 से 44 वर्ष के लोगों के लिए प्रारम्भ हुआ कोविड टीकाकारण, जानें

11 और जिलों में 18 से 44 वर्ष के लोगों के लिए प्रारम्भ हुआ कोविड टीकाकारण, जानें

लखनऊ। Covid Vaccination for 18 Plus. 10 मई से यूपी के 11 और जिलों में 18 से 44 साल के लोगों के लिए टीकाकरण अभियान (Covid Vaccine) प्रारम्भ हो रहा है. इन जिलों में 18 साल से अधिक आयु के व्यक्तियों के टीकाकरण के लिए कुल 362 केन्द्र बनाए गए हैं. कुल 56,800 लोगों को टीके लगाने का लक्ष्य तय किया गया है. टीकाकरण अभियान अयोध्या, फीरोजाबाद, गाजियाबाद, झांसी, मथुरा, मुरादाबाद, सहारनपुर, शाहजहांपुर, गौतम बुद्ध नगर, आगरा और अलीगढ़ में प्रारम्भ होगा. इससे पहले राजधानी लखनऊ समेत उत्तर प्रदेश से सात शहरों में 18 साल से अधिक आयु के लोगों के लिए एक मई से कोविड टीकाकरण प्रारम्भ हो गया था. इसी के साथ 45 साल से अधिक आयु के लोगों का टीकाकरण पूरे प्रदेश में जारी है.


कोविड प्रोटोकाल का होगा पालन


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने टीकाकरण केन्द्र पर कोविड प्रोटोकाल के पालन का आदेश दिया है. उन्होंने कोविड प्रोटोकॉल का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित कराने और वैक्सीन की बर्बादी को न्यूनतम करने का आदेश दिया है.


कितने लोगों को लगेगी वैक्सीन


यूपी में 10 मई से 18-44 साल के लोगों के लिए 11 और जिलों में कोविड टीकाकारण अभियान प्रारम्भ हो रहा है. इसके साथ ही इस आयु वर्ग के लिए पहले से हो रहा टीकाकारण जारी रहेगा. यानी कि कुल 18 जिलों में 18 से 44 साल के लोगों के लिए टीकाकारण होगा. किस जिले में कितने लोगों को वैक्सीन लगेगी, इसके लिए टारगेट बनाया गया है. प्रयागराज में रोजाना 4,600 लोगों को वैक्सीन लगाई जाएगी. लखनऊ, कानपुर, गोरखपुर, आगरा और बरेली में रोजाना 4-4 हजार लोगों को वैक्सीन लगेगी. वाराणसी, मेरठ, अलीगढ़ में रोजाना 3300-3300 लोगों को वैक्सीन लगेगी. सबसे कम कोटा झांसी का है. झांसी में रोजाना दो हजार लोगों को वैक्सीन लगाई जाएगी. इसके अतिरिक्त गाजियाबाद और सहारनपुर में 3100-3100 को और नोएडा और मुरादाबाद में 2800-2800 को रोजाना वैक्सीन लगेगी. इसी तरह शाहजहांपुर में 2600 और फिरोजाबाद, मथुरा और अयोध्या में रोजाना 2300-2300 को वैक्सीन लगाई जाएगी.


प्रदेश में 21 जून से 50 फीसद क्षमता के साथ खुलेंगे मॉल्स और रेस्टोरेंट, नाइट ​कर्फ्यू में भी छूट

प्रदेश में 21 जून से 50 फीसद क्षमता के साथ खुलेंगे मॉल्स और रेस्टोरेंट, नाइट ​कर्फ्यू में भी छूट

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस संक्रमण के सेकेंड स्ट्रेन का असर कम होने के साथ ही उत्तर प्रदेश सरकार धीरे-धीरे राहत दे रही है। प्रदेश के सभी 75 जिलों से कोरोना ​​​​​कर्फ्यू हटाने के बाद अब योगी आदित्यनाथ सरकार ने नाइट ​​​​​कर्फ्यू में भी थोड़ी राहत दी है। इसके साथ ही कुछ बंदिशों के साथ रेस्टोरेंट, पार्क तथा स्ट्रीड फूड की दुकानों को भी 21 जून से खोलने की अनुमति दी है।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को समीक्षा बैठक के बाद टीम-09 के छूट देने के प्रस्ताव को हरी झंडी दे दी है। प्रदेश में वैश्विक महामारी कोरोना वायरस कोविड संक्रमण के दृष्टिगत दिन पर दिन बेहतर होती स्थितियों के बीच सोमवार, 21 जून से रात्रिकालीन कोरोना ​​​​​कर्फ्यू में और छूट दी जाएगी। प्रदेश सरकार का अब रात्रिकालीन कोरोना ​​​​​कर्फ्यू रात नौ बजे से अगले दिन सुबह सात बजे तक प्रभावी होगा।

इसके साथ ही सरकार ने कुछ और छूट तय कर ली है। प्रदेश के हर जिले में कोविड प्रोटोकॉल के साथ रेस्टोरेंट को 50 फीसदी क्षमता के साथ खोला जा सकेगा। कोविड प्रोटोकॉल का अनुपालन के साथ रेस्टोरेंट व मॉल को 50 फीसदी क्षमता के साथ खोला जा सकेगा। इसी तरह पार्क, स्ट्रीट फूड आदि के संचालन की अनुमति भी दी जाएगी। इसके साथ ही सभी पार्क तथा स्ट्रीट फूड आदि के संचालन की अनुमति भी दी गई है। सरकार का इसके बाद भी सख्त निर्देश है कि इन सभी स्थान पर कोविड हेल्प डेस्क की स्थापना अनिवार्य होगी। मास्क के साथ प्रवेश अनिवार्य होगा जबकि रेस्टोरेंट में आने वाले सभी लोगों का सैनिटाइजर से हाथ साफ करना भी जरूरी है।

दुकान या शोरूम में पहले की तरह मास्क और सैनेटाइजर की अनिवार्यता रहेगी। साथ ही वहां हेल्प डेस्क भी बनानी होगी। आने- जाने वालों का रजिस्ट्रर बनाना होगा। इसमें नाम, पता और बाकी डिटेल रहेगी। दुकानों के साथ सब्जी मंडियां भी रात 9 बजे तक खुल सकेंगी। पर घनी आबादी की सब्जी मंडियों को प्रशासन खुले स्थान पर खुलवाएगी।सीएम योगी आदित्यनाथ ने निर्देश दिया है कि नई व्यवस्था के संबंध में विस्तृत गाइडलाइंस शीघ्र ही जारी कर दी जाएं। 


CM योगी का निर्देश- कोरोना के साथ बरसात के मौसम में संचारी रोग से निपटने को तैयार रहें       प्रदेश में 21 जून से 50 फीसद क्षमता के साथ खुलेंगे मॉल्स और रेस्टोरेंट, नाइट ​कर्फ्यू में भी छूट       बहुत कुछ कह रहा अंतिम नरसंहार स्थल मियांपुर, देवमतिया और सीता से जानें क्‍यों सिहर उठती हैं महिलाएं       अमीरों का घर पक्का, गरीबों को लग रहा धक्का, यहां के पंचायतों में इंदिरा आवास का हाल-बेहाल       एक तो लॉकडाउन के कारण महीनेभर बंद रही दुकान, ऊपर से जल गया सारा सामान       कैमूर के जंगल में हो रही 'जहर की खेती'; पुलिस ने जाल बिछाया तो फंस गया 'सौदागार'       ग्रामीण भारत की गर्मियों का शब्दचित्र, प्रख्यात लोकगायिका मालिनी अवस्थी की कलम से...       कैमूर ने दिखाई समझदारी और भाग गया वायरस, ढूंढने पर भी नहीं मिला एक भी कोरोना पॉजिटिव       बिहार LJP में चिराग के फैन्‍स की कमी नहीं, पशुपति पारस पर फूट रहा गुस्‍सा       कोरोना वायरस हमारे बीच है, जल्द लगवाएं वैक्सीन : राहुल गांधी       तेज बारिश को लेकर दिल्ली समेत इन राज्यों के लिए जारी किया गया अलर्ट       कोरोना वायरस का नया वैरिएंट 'डेल्टा+' आया सामने, जानें       केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने मानसून सीजन की तैयारियों को लेकर बैठक की       स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि 20 राज्यों में 5,000 से कम सक्रिय मामले       भारतीय सैन्य पुलिस में खुला नेपाली महिलाओं के लिए रास्ता       वियतनाम पहुंचेेगी जापान की ओर से भेजी गई कोरोना वैक्सीन की खेप       आर्मी कैंप में आत्मघाती हमला, 15 की मौत, बढ़ सकता है मौतों का आंकड़ा       पूरी दुनिया के लिए ये है एक अच्‍छी खबर, आपको भी पढ़कर लगेगा बहुत अच्‍छा       यरुशलम में मार्च निकालेंगे यहूदी गुट, हमास ने जताई फिर से हिंसा भड़कने की आशंका       इजरायल की नई सरकार को नेतन्याहू ने बताया 'कपटी', किया वादा- जल्द करूंगा सत्ता में वापसी