कानपुर: मुंशियाने में बैठाया गया हिस्ट्रीशीटर फरार

कानपुर: मुंशियाने में बैठाया गया हिस्ट्रीशीटर फरार

कानपुर में पांच किलो चरस और तमंचे के साथ पकड़ा गया हिस्ट्रीशीटर सोमवार सुबह पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया। उसके खिलाफ अलग-अलग थानों में 38 मामले दर्ज हैं। डीआईजी ने बताया कि लापरवाह पांच पुलिस कर्मियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की गई है।

चमनगंज पुलिस ने रविवार दोपहर भन्नानापुरवा तिराहे से घोसियाना चमनगंज निवासी हिस्ट्रीशीटर जावेद उर्फ जुगनू को गिरफ्तार किया था। पुलिस ने उसे लॉकअप में न बंद कर मुंशियाने में बैठा दिया था। सोमवार सुबह करीब साढ़े आठ बजे उसने टॉयलेट जाने की बात कही। इस पर मुंशी किशनलाल सोनकर उसे हाथ पकड़कर ले जाने लगे।

इस बीच जावेद धक्का देकर भाग निकला। शोर मचाने पर सिपाही नितेश चौहान, रीना चौहान, प्रिया गंगवार व गेट पर तैनात राहुल कुमार ने पीछा किया, लेकिन वह हाथ नहीं आया। डीआईजी डॉ. प्रीतिंदर सिंह ने बताया कि मुंशी समेत पांचों पर रिपोर्ट दर्ज कर जांच कराई जा रही है। लापरवाही पुलिस कर्मियों को निलंबित किया जाएगा।

 जुआरी लॉकअप में, हिस्ट्र्रीशीटर मुंशियाने में
चमनगंज पुलिस ने जुआ में पकड़े गए आरोपियों को लॉकअप में बंद कर दिया था, जबकि  थाने के टॉप-10 अपराधी व हिस्ट्रीशीटर जुगनू को मुंशियाने में बैठाया गया था। ऐसे में आशंकाओं पर भी जोर है।

‘जुगनू’ को देखकर ताले मुस्कुराते हैं
पुलिस का कहना है कि हिस्ट्रीशीटर जुगनू अक्सर एक कहावत कहता था कि ‘जुगनू को देख ताले मुस्कुराते हैं’। ऐसा कोई ताला नहीं बना जिसे वह खोल न सके। रविवार दोपहर को उसकी गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने जो गुडवर्क दिखाया है, उसमें भी इसका जिक्र किया है।