यूपी में एक करोड़ 80 लाख लोगों को मिलेगा निश्शुल्क बैग, सीएम योगी ने श्रावस्‍ती में की घोषणा

यूपी में एक करोड़ 80 लाख लोगों को मिलेगा निश्शुल्क बैग, सीएम योगी ने श्रावस्‍ती में की घोषणा

जिले के दौरे पर आए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत सूबे में एक करोड़ 80 लाख लोगों को कोटे की दुकान से सस्ता राशन ले जाने के लिए निश्शुल्क बैग दिया जाएगा। यह वितरण 80 हजार कोटे की दुकानों से होगा। यहां नोडल अधिकारी मुस्तैद रहेंगे। लगभग पांच मिनट के अपने संबोधन में मुख्यमंत्री ने पूर्ववर्ती सरकारों की अपेक्षा प्रदेश में कानून व्यवस्था दुरुस्त होने की बात कही।

उन्होंने कहा कि केंद्र व प्रदेश सरकार की योजनाएं पात्रजनों तक पहुंच रही हैं। प्रदेश की कानून व्यवस्था देश-दुनिया के लिए नजीर है। उन्होंने प्रशासन व पुलिस को आम जनता के प्रति संवेदनशील रहने व अपराध एवं अपराधियों के प्रति जीरो टालवेंस की नीति जारी रखने का संदेश दिया। सीएम ने कहा कि जिले के दौरे में कल्याणकारी योजनाओं की समीक्षा की गई है। इसके साथ ही संगठन के कार्यों की भी समीक्षा हुई है। कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर में आक्सीजन के कमी की स्थिति बनी थी। इसको देखते हुए प्रदेश में 552 आक्सीजन प्लांट स्वीकृत किए गए थे। इनमें से 215 से अधिक लग चुके हैं। देवीपाटन मंडल में 13 प्लांट लगने थे। इनमें से नौ निर्माणाधीन हैं।


प्रदेश में अब तक पांच करोड़ सात लाख लोगों को कोरोना से बचाव का टीका लगा है। देवीपाटन मंडल में 28 लाख से अधिक लोगों को टीका लग चुका है। 26 लाख से अधिक लोगों की जांच की गई है। मंगलवार को एक दिन में सबसे अधिक 19 लाख 20 हजार लोगों को टीका लगाने का रिकार्ड बना है। कांटेक्ट ट्रेसिंग इसी प्रकार से होती रही तो जल्द ही कोरोना जड़ से समाप्त हो जाएगा। सीएम ने संक्रमण रोकने के लिए किए गए प्रयासों की सराहना की।


यूपी के युवाओं के लिए रोजगार का सुनहरा मौका, चार अक्टूबर को हर जिले में लगेगा अप्रेंटिसशिप मेला

यूपी के युवाओं के लिए रोजगार का सुनहरा मौका, चार अक्टूबर को हर जिले में लगेगा अप्रेंटिसशिप मेला

युवाओं को अधिक से अधिक नौकरी देने की सरकार की मंशा के सापेक्ष एक और बड़ा कदम उठाया जा रहा है। औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों में आइटीआइ की पढ़ाई करने वाले विद्यार्थियों के कौशल को निखारने के लिए चार अक्टूबर को वृहद अप्रेंटिसशिप मेला लगेगा। लखनऊ समेत सूबे के सभी जिलों में लगने वाले मेले के माध्यम से एक दिन में दो लाख युवाओं को अप्रेंटिसशिप देने का लक्ष्य रखा गया है। इसके आयोजन के लिए जिले के राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों के प्रधानाचार्य को नोडल अधिकारी बनाया गया है। संयुक्त निदेशक व्यावसायिक शिक्षा एससी तिवारी ने बताया कि लखनऊ समेत सूबे की सभी 305 राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों और 2969 निजी संस्थानों के विद्यार्थियों को अप्रेंटिस के इस मेेले में शामिल करने की व्यवस्था करने के निदेश दिए गए हैं। कौशल विकास विभाग के जिला प्रबंधकों को भी इस वृहद मेले से जोड़ा जाएगा। 


औद्योगिक विकास को बढ़ावा देने का प्रयासः उपायुक्त उद्योग मनोज चौरसिया ने बताया कि जिला उद्योग केंद्रों के माध्यम से पंजीकृत उद्योगोें में आइटीआइ पास को अप्रेंटिस का मौका देकर उनके अंदर औद्योगिक समझ को बढ़ाने का प्रयास किया जाएगा। लखनऊ में भी ऐसे युवाओं को औद्याेगिक क्षेत्रों में भेजकर प्रेक्टिकल करने का मौका दिया जाएगा। कोरोना संक्रमण की वजह से अप्रेंटिस के लिए युवा आने से कतरा रहे थे। अब सामान्य स्थिति होने पर आयोजन हो रहा है। लघु, सूक्ष्म, मध्यम व उद्यम प्रोत्साहन विभाग की ओर से एमएसएमई को बढ़ावा देने का प्रयास किया जाएगा। 


निजी उद्योगों पर शिकंजाः सरकार ने सभी जिला उद्योग केंद्रों के माध्यम से संचालित निजी औद्योगिक इकाइयों को भी इसमे शामिल करने की अनिवार्यता सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए हैं। अभी तक निजी संस्थान अप्रेंटिस को लेकर मनमानी करते थे। एक दिन में वृहद मेला लगने से युवाओं को फायदा होगा और उनके अंदर तकनीक का विकास होगा।