यूपी के शराब कारोबारियों ने कहा कि हम हो जाएंगे बर्बाद

यूपी के शराब कारोबारियों ने कहा कि हम हो जाएंगे बर्बाद

लखनऊ यूपी के शराब विक्रेता वेलफेयर एसोसिएशन (UP Liquor Welfare Association) ने मुख्‍यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) को चिट्ठी लिखी है. शराब विक्रेता वेलफेयर एसोसिएशन मुख्यमंत्री योगी से शराब की दुकानें खोलने की अनुमति देने की मांग की है. इन कारोबारियों का बोलना है कि शराब की दुकानें नहीं खुलने से तमाम लोग बेरोजगार हो रहे हैं. जबकि प्रतिदिन सौ करोड़ रुपये के राजस्व का भी नुकसान हो रहा है. जबकि शराब की दुकानें बंद करने का शासन द्वारा शासनादेश में कोई उल्लेख नहीं किया गया है और न ही आबकारी विभाग के ऑफिसरों द्वारा ही लाइसेंस धारकों को दुकान बंद करने का कोई आदेश दिया गया है.

शराब की दुकानें खोलने की मांग

शराब विक्रेता वेलफेयर एसोसिएशन के महामंत्री कन्हैया लाल मौर्या का बोलना है कि यूपी में पंचायत चुनाव के पहले से करोना महामारी के चलते घोषित कर्फ्यू की वजह से शराब की दुकानें बंद है. जबकि शराब की दुकानें बंद करने का शासन द्वारा शासनादेश में कोई उल्लेख नहीं किया गया है और न ही आबकारी विभाग के ऑफिसरों द्वारा ही लाइसेंस धारकों को दुकान बंद करने का कोई आदेश दिया गया है. इससे शराब लाइसेंस धारकों में असमंजस की स्थिति बनी हुई है. पूरे प्रदेश के शराब कारोबारी अपनी शराब की दुकानें खोलने की मांग प्रदेश सरकार से कर रहे हैं.

पांचवीं बार बढ़ा कोविड-19 कर्फ्यू

वैश्विक महामारी कोविड-19 वायरस के प्रकोप के चलते हालांकि संपूर्ण लॉकडाउन का निर्णय अभी सरकार ने नहीं किया है, लेकिन संक्रमण की चैन को तोड़ने के लिए सरकार धीरे-धीरे कदम उसी दिशा में बढ़ा रही है. पंचायत चुनाव के बाद गांवों में तेजी से फैल रहे संक्रमण और 14 मई को ईद के त्योहार को देखते हुए उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने वैसे कोई भी खतरा मोल न लेते हुए लॉकडाउन को एक सप्ताह के लिए फिर बढ़ाने का निर्णय लिया है. 29 अप्रैल को शनिवार-रविवार की साप्ताहिक बंदी से इसकी आरंभ हुई. फिर इसे चार मई, छह मई और दस मई यानी सोमवार तक बढ़ाया गया. अब योगी सरकार ने फिर से कोविड-19 कर्फ्यू 17 मई प्रातः काल सात बजे तक बढ़ा दिया है. प्रदेश में पांचवीं बार कोविड-19 कर्फ्यू को विस्तार दिया गया है.


प्रदेश में 21 जून से 50 फीसद क्षमता के साथ खुलेंगे मॉल्स और रेस्टोरेंट, नाइट ​कर्फ्यू में भी छूट

प्रदेश में 21 जून से 50 फीसद क्षमता के साथ खुलेंगे मॉल्स और रेस्टोरेंट, नाइट ​कर्फ्यू में भी छूट

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस संक्रमण के सेकेंड स्ट्रेन का असर कम होने के साथ ही उत्तर प्रदेश सरकार धीरे-धीरे राहत दे रही है। प्रदेश के सभी 75 जिलों से कोरोना ​​​​​कर्फ्यू हटाने के बाद अब योगी आदित्यनाथ सरकार ने नाइट ​​​​​कर्फ्यू में भी थोड़ी राहत दी है। इसके साथ ही कुछ बंदिशों के साथ रेस्टोरेंट, पार्क तथा स्ट्रीड फूड की दुकानों को भी 21 जून से खोलने की अनुमति दी है।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को समीक्षा बैठक के बाद टीम-09 के छूट देने के प्रस्ताव को हरी झंडी दे दी है। प्रदेश में वैश्विक महामारी कोरोना वायरस कोविड संक्रमण के दृष्टिगत दिन पर दिन बेहतर होती स्थितियों के बीच सोमवार, 21 जून से रात्रिकालीन कोरोना ​​​​​कर्फ्यू में और छूट दी जाएगी। प्रदेश सरकार का अब रात्रिकालीन कोरोना ​​​​​कर्फ्यू रात नौ बजे से अगले दिन सुबह सात बजे तक प्रभावी होगा।

इसके साथ ही सरकार ने कुछ और छूट तय कर ली है। प्रदेश के हर जिले में कोविड प्रोटोकॉल के साथ रेस्टोरेंट को 50 फीसदी क्षमता के साथ खोला जा सकेगा। कोविड प्रोटोकॉल का अनुपालन के साथ रेस्टोरेंट व मॉल को 50 फीसदी क्षमता के साथ खोला जा सकेगा। इसी तरह पार्क, स्ट्रीट फूड आदि के संचालन की अनुमति भी दी जाएगी। इसके साथ ही सभी पार्क तथा स्ट्रीट फूड आदि के संचालन की अनुमति भी दी गई है। सरकार का इसके बाद भी सख्त निर्देश है कि इन सभी स्थान पर कोविड हेल्प डेस्क की स्थापना अनिवार्य होगी। मास्क के साथ प्रवेश अनिवार्य होगा जबकि रेस्टोरेंट में आने वाले सभी लोगों का सैनिटाइजर से हाथ साफ करना भी जरूरी है।

दुकान या शोरूम में पहले की तरह मास्क और सैनेटाइजर की अनिवार्यता रहेगी। साथ ही वहां हेल्प डेस्क भी बनानी होगी। आने- जाने वालों का रजिस्ट्रर बनाना होगा। इसमें नाम, पता और बाकी डिटेल रहेगी। दुकानों के साथ सब्जी मंडियां भी रात 9 बजे तक खुल सकेंगी। पर घनी आबादी की सब्जी मंडियों को प्रशासन खुले स्थान पर खुलवाएगी।सीएम योगी आदित्यनाथ ने निर्देश दिया है कि नई व्यवस्था के संबंध में विस्तृत गाइडलाइंस शीघ्र ही जारी कर दी जाएं। 


CM योगी का निर्देश- कोरोना के साथ बरसात के मौसम में संचारी रोग से निपटने को तैयार रहें       प्रदेश में 21 जून से 50 फीसद क्षमता के साथ खुलेंगे मॉल्स और रेस्टोरेंट, नाइट ​कर्फ्यू में भी छूट       बहुत कुछ कह रहा अंतिम नरसंहार स्थल मियांपुर, देवमतिया और सीता से जानें क्‍यों सिहर उठती हैं महिलाएं       अमीरों का घर पक्का, गरीबों को लग रहा धक्का, यहां के पंचायतों में इंदिरा आवास का हाल-बेहाल       एक तो लॉकडाउन के कारण महीनेभर बंद रही दुकान, ऊपर से जल गया सारा सामान       कैमूर के जंगल में हो रही 'जहर की खेती'; पुलिस ने जाल बिछाया तो फंस गया 'सौदागार'       ग्रामीण भारत की गर्मियों का शब्दचित्र, प्रख्यात लोकगायिका मालिनी अवस्थी की कलम से...       कैमूर ने दिखाई समझदारी और भाग गया वायरस, ढूंढने पर भी नहीं मिला एक भी कोरोना पॉजिटिव       बिहार LJP में चिराग के फैन्‍स की कमी नहीं, पशुपति पारस पर फूट रहा गुस्‍सा       कोरोना वायरस हमारे बीच है, जल्द लगवाएं वैक्सीन : राहुल गांधी       तेज बारिश को लेकर दिल्ली समेत इन राज्यों के लिए जारी किया गया अलर्ट       कोरोना वायरस का नया वैरिएंट 'डेल्टा+' आया सामने, जानें       केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने मानसून सीजन की तैयारियों को लेकर बैठक की       स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि 20 राज्यों में 5,000 से कम सक्रिय मामले       भारतीय सैन्य पुलिस में खुला नेपाली महिलाओं के लिए रास्ता       वियतनाम पहुंचेेगी जापान की ओर से भेजी गई कोरोना वैक्सीन की खेप       आर्मी कैंप में आत्मघाती हमला, 15 की मौत, बढ़ सकता है मौतों का आंकड़ा       पूरी दुनिया के लिए ये है एक अच्‍छी खबर, आपको भी पढ़कर लगेगा बहुत अच्‍छा       यरुशलम में मार्च निकालेंगे यहूदी गुट, हमास ने जताई फिर से हिंसा भड़कने की आशंका       इजरायल की नई सरकार को नेतन्याहू ने बताया 'कपटी', किया वादा- जल्द करूंगा सत्ता में वापसी