हेमंत सरकार में मंत्री बना चाय-सिंघारा बेचने वाले इस युवक का बेटा, जाने कैसे

हेमंत सरकार में मंत्री बना चाय-सिंघारा बेचने वाले इस युवक का बेटा, जाने कैसे

रांची : हेमंत सोरेन की सरकार में कांग्रेस पार्टी कोटे से जमशेदपुर पश्चिम के विधायक बन्ना गुप्ता को मंत्री पद दिया गया है। वे पहले भी झारखंड सरकार में मंत्री रह चुके हैं। आइए आपको बताते हैं उनके बारे में कुछ खास बातें। बन्ना पांच भाईयों में सबसे छोटे हैं।



पश्‍चिमी जमशेदपुर से विधायक बन्ना गुप्ता के पिता रामगोपाल गुप्ता ने कदमा मार्केट में चाय-नमकीन की दुकान से आरंभ कर मथुरा मिष्ठान भंडार के रूप में मिठाई दुकान की अलग पहचान दिलायी। इस दुकान से वे 50 सालों से ज्यादा समय तक जुड़े रहे। रामगोपाल गुप्ता मूलत: यूपी के नौगांवा (गांव) के निवासी थे। लौहनगरी में सोनारी मरारपाड़ा के दो कमरे के छोटे घर में वे रहते थे। उन्होंने लोकल को-ऑपरेटिव कॉलेज से पढ़ाई लिखाई की। बाद में उनका परिवार कदमा में शिफ्ट हो गया था।

15 वर्षो से टेंपो चालक संघ के अध्यक्ष रहे बन्ना गुप्ता उर्फ ब्रजेश गुप्ता अब हेमंत सोरेन सरकार में मंत्री बन रहे हैं। वे विद्यार्थी ज़िंदगी से अबतक गरीबों व असहायों की आवाज बुलंद करते रहे हैं। बन्ना गुप्ता जन आंदोलन की उपज हैं। जनमुद्दों पर 20 वर्षों से लगातार सड़क पर दिखे, धरना, प्रदर्शन, अनशन किया, लाठियां खायीं, कई बार कारागार गये।

लक्की है लाल रंग की सूमो
बन्ना गुप्ता हमेशा लाल रंग की सूमो प्रयोग करते हैं। वह इस कलर की गाड़ी को लक्की मानते हैं। उनके पास लक्जरी गाड़ियां भी हैं। मगर हमेशा वे लाल रंग की सूमो का ही प्रयोग करते हैं।

खाने में नेनुआ, लौकी पसंद
बन्ना गुप्ता की पत्नी सुधा गुप्ता वार्ता के दौरान यह कह चुकी हैं कि उनको सादा खाना पसंद है, खासकर हरी सब्जी में नेनुआ, लौकी की सब्जी बहुत ज्यादा चाव से खाते हैं। उन्होंने बोला कि परिवार की कुलदेवी मां दुर्गा हैं, जिसकी नियमित पूजा पाठ व आशीर्वाद लेकर ही वे घर से निकलते हैं।

भाईयों में सबसे छोटे हैं बन्ना
रामगोपाल गुप्ता के पांच पुत्र में डॉ सतीश गुप्ता टीएमएच में चिकित्सक हैं, जबकि गुड्डू गुप्ता का लोकल न्यूज चैनल है, सबसे छोटे बेटे बन्ना गुप्ता पॉलिटिक्स में हैं। इसी तरह अन्य पुत्र सुबोध गुप्ता और टप्पू गुप्ता हैं। टप्पू गुप्ता वर्तमान में मथुरा मिष्ठान संभाल रहे हैं।

कांग्रेस की कर चुके हैं तारीफ
बन्ना गुप्ता पार्टी के वफादार व समर्पित कार्यकर्ता हैं। उन्होंने पिछले दिनों वार्ता के दौरान बोला था कि कांग्रेस पार्टी ने एक चाय व सिंघारा बेचने वाले के बेटे को दो-दो बार टिकट दिया। मंत्री तक बनवा दिया, इससे ज्यादा सम्मान व क्या चाहिए ? पार्टी ने मुझ पर भरोसा जताया, यह मेरे लिए जरूरी है।