महिला की पिटाई का विरोध करने पर उसके पति की गई जान

महिला की पिटाई का विरोध करने पर उसके पति की गई जान

प्रयागराज के झूंसी थाना क्षेत्र में रविवार रात दो पड़ोसियों में टकराव हो गया. महिला की पिटाई का विरोध करने पर उसके पति की पीट कर मर्डर कर दी गई. बीच-बचाव करने पहुंचे उसके दोनों साले गंभीर रूप से जख्मी हो गए. मौके पर पहुंची झूंसी पुलिस ने हमले में शामिल कुछ स्त्रियों को हिरासत में लिया है. आरोपी वारदात के बाद से फरार हैं.


पुलिस ने बताया कि 50 वर्षीय मोहम्मद सईद  झूंसी थाना क्षेत्र के कनिहार गांव में अपने ससुराल में ही रहता था. उसके दोनों बेटे विदेश में जॉब करते हैं. कोरोना के कारण वहीं फंसे हैं. बताया जा रहा है कि सईद के पड़ोसी हसनैन के घर रविवार शाम को रामाधार नाम का एक आदमी आया था. इस बीच आकस्मित रामाधार की पत्नी वहां पहुंच गई व नजदीकी संबंध को लेकर हंगामा करने लगी. इससे वहां गांव वालों का जमावड़ा लग गया. रामाधार किसी तरह अपनी पत्नी को लेकर घर गया.
 थोड़ी देर बाद वह हसनैन के घर लौटा. उन लोगों ने आरोप लगाया कि सईद की पत्नी हमीदा ने ही रामाधार की पत्नी को बुलाया था. संदेह के आधार पर हामिदा की पिटाई करने लगे. बीच-बचाव करने पहुंचे हमीदा के पति मोहम्मद सईद को डंडे से पीट दिया. हमीदा के दोनों भाई रफीक व नईम पहुंचे तो उन्हें भी ईंट पत्थर से हमला कर जख्मी कर दिया. इस घटना से गांव में हड़कंप मच गया. सूचना पर पहुंची झूंसी पुलिस तीनों घायलों को लेकर अस्पताल पहुंची जहां मोहम्मद सईद को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया. एसपी गंगापार एनके सिंह ने बताया कि हसनैन के घर से रुखसाना व बीवी आदि स्त्रियों को पकड़ा गया है. बाकी आरोपी फरार है.