शख्स ने बॉस के लिए टॉयलेट पेपर पर लिखा अपना इस्तीफा, हो गया वायरल

शख्स ने बॉस के लिए टॉयलेट पेपर पर लिखा अपना इस्तीफा, हो गया वायरल

लोग नौकरी पाने के लिए लगातर मेहनत करते हैं तो वहीं नौकरीपेशा लोग अपना काम पूरा करने के लिए जी तोड़ मेहनत भी कर रहे हैं। लेकिन सोचिए कोई कर्मचारी अपने बॉस को अपना रिजाइन लेटर टॉयलेट पेपर पर लिखकर भेज तो शायद यह एक अजूबा होगा। एक कर्मचारी ने जब नौकरी छोड़ी तो उसका रेजिगनेशन लेटर सोशल मीडिया पर वायरल हो गया क्योंकि उसने इसे टॉयलेट पेपर पर लिखा है।

दरअसल, इस कर्मचारी का रिजाइन लेटर सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है। लेविस नाम के इस कर्मचारी ने इसे सोशल मीडिया स्पेस रेडिट पर पोस्ट किया है। डेली स्टार की एक रिपोर्ट के मुताबिक, इस शख्स ने लेटर की कई तस्वीरें शेयर की हैं। जैसे ही शख्स की कहानी वायरल हुई लोग मौजे लेने लगे। हालांकि इनमें से कुछ लोगों ने यह भी पूछा कि ऐसा क्या हो गया कि शख्स को टॉयलेट पेपर पर अपना रेजिगनेशन लिखना पड़ा।

रिपोर्ट के मुताबिक, टॉयलेट पेपर पर लिखे गए इस नोट में लिखा है कि मैं 25 तारीख को यहां से चला जाऊंगा। इतना ही नहीं इसके लिए कर्मचारी ने एक बिना कपड़े का कार्टून भी बनाया है, कार्टून को उसने अपने रूप में प्रेजेंट किया है। उसने आगे लिखा कि आज मैं अपना इस्तीफा सौंप रहा हूं। हालांकि लेविस ने लोगों को यह भी बताया कि उसके बॉस को उसका इस्तीफा पसंद आया है, क्योंकि वो एक आराम की नौकरी कर रहा था।


शर्मनाक : दिल्ली में हैवान बन जीजा, नौ साल की बच्ची से किया दुष्कर्म

शर्मनाक : दिल्ली में हैवान बन जीजा, नौ साल की बच्ची से किया दुष्कर्म

राजधानी दिल्ली के गोविंदपुरी में रिश्तों को शर्मशार करने वाली घटना सामने आई हैं। नौ साल की बच्ची से उसके जीजा ने दुष्कर्म किया। घटना के बाद से बच्ची अवसाद में चली गई। परिजन जब उसे डॉक्टर के पास लेकर गए तो उसने आपबीती सुनाई। परिजनों की शिकायत पर पुलिस मामले की जांच कर रही है।

पीड़ित बच्ची परिवार के साथ गोविंदपुरी इलाके में रहती है। परिवार में माता-पिता व भाई-बहन हैं। पीड़िता की बड़ी बहन की शादी शादी उत्तर प्रदेश के पीलीभीत के रहने वाले युवक के साथ हुई है। इस साल रक्षाबंधन पर उसकी उसकी बहन अपने पति के साथ भाई को राखी बांधने के लिए आई हुई थी। शाम को परिजन बाहर चले गए। घर में बच्ची व उसके जीजा थे। इस दौरान बच्ची के जीजा ने उसके साथ जबरन दुष्कर्म किया। घटना के बाद से वह गुमसुम रहने लगी और अवसाद में चली गई। परिजन बच्ची को गुमसुम देखकर परेशान रहने लगे। वह परिजनों को कारण भी नहीं बता रही थी।

परिजनों ने जादू-टोना समझाकर झाड-फूंक कराया, लेकिन कोई असर नहीं हुआ। इसके बाद डॉक्टर के पास लेकर गए। जहां बच्ची की काउसलिंग की गई। इसके बाद बच्ची ने आप बीती सुनाई। मंगलवार को परिजनों ने गोविंदपुरी थाने में मामले की शिकायत दर्ज कराई है। पुलिस ने शिकायत के आधार पर मामले की जांच कर रही है।